मातृत्व दिवस पर देवी की तरह घर घर हुई मां की पूजा

मातृत्व दिवस पर देवी की तरह घर घर हुई मां की पूजा

मातृत्व दिवस (मदर्स डे) पर लोगों ने मां का चरण स्पर्श करके आश

JagranMon, 10 May 2021 08:10 AM (IST)

जागरण संवाददाता, अंबाला :

मातृत्व दिवस (मदर्स डे) पर लोगों ने मां का चरण स्पर्श करके आर्शीवाद लिए जाने की परंपरा कायम रखी। रविवार की सुबह पहली किरण के साथ लोगों ने मां का पैर छूकर आर्शीवाद लिया। कुछ लोगों ने अपनी मां के स्वस्थ जीवन की कामना के लिए पूजा भी आयोजित किया। इसी तरह बहुत से लोग अपनी मां को मंदिर की देवी का दर्जा देते हुए भगवान की तरह पूजा करके आरती उतारते हुए कोरोना महामारी और बीमारी से सदैव बचाने की कामना भगवान से की। मदर्स डे पर स्कूलों की तरफ से ऑनलाइन प्रतियोगिताएं कराई गई, जिसमें अपनी मां के लिए तैयार किए गए उपहार सौंपे गए। समाजसेवी संस्थाओं की तरफ से कोरोना गाइड लाइन का पालन करते हुए स्प्रेम भेंट भी भेजे गए।

---------------

राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय मेन ब्रांच छावनी के विद्यार्थियों ने हिदी प्राध्यापिका डॉ. सोनिका के मार्गदर्शन में अंतरराष्ट्रीय मातृ दिवस मनाया। छात्रों द्वारा आनलाइन माध्यम से अपने तमाम भावों को अपनी प्राध्यापिका डॉ. सोनिका के मार्गदर्शन में मूलरूप दिया। डॉ. सोनिका ने बताया कि मां और बच्चे के रिश्ते को दुनिया का सबसे खूबसूरत और अनमोल रिश्ता माना जाता है। मां की चरणों में हमारी जन्नत है, यह हमें सदैव याद रखना चाहिए। दसवीं व बारहवीं के विद्यार्थियों ने अपनी माता के लिए अपने हाथों से व्यंजन बना कर, कार्ड बना कर, सेल्फी लेकर इस दिन को उत्साहपूर्वक मनाया। टीना, ज्योति, सपना, अंजली, माला, कंचन के प्रयासों की सभी ने सराहा।

----------------------

मदर डे पर माताओं को उपहार में दिए मास्क व सैनिटाइजर अंबाला : वूमन सोशल वेलफेयर सोसायटी के सदस्यों ने अपनी मा को मास्क व सैनिटाइजर उपहार के रूप में भेंट कर लंबी उम्र की प्रार्थना की। सोसायटी सदस्यों ने प्रार्थना की कि कोरोना काल के इस खतरनाक माहौल में बच्चों से उनकी माता न छिने व मां का साया बच्चों के सिर पर बना रहे। बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ अभियान की ब्रांड अंबेस्डर वीना ढल ने कहा कि कोराना काल की संकट की इस घड़ी में हम सभी को अपना फर्ज निभाने की आवश्यकता है। ---------------------

आइपीएस रुचिका की कामयाबी के पीछे मां का हाथ

अंबाला : आइपीएस रुचिका जैन ने मदर्स डे के मौके पर अपनी मां आर्शीवाद लेते हुए कामयाबी का श्रेय दिया। कहा कि मेरी मां ने सदैव मेरी पढ़ाई में जो भी बाधाएं आई उसमें डटकर खड़ी रहीं। आज अपनी मां की बदौलत ही वह आइपीएस बनकर देश ही नहीं विदेशों में अंबाला और हरियाणा का नाम रोशन कर रही हैं। रुचिका की बहन वैष्णवीं जैन ने कहा कि हम दोनों बहनों को बचपन से ही अपनी मां का ऐसा प्यार मिला कि मेरी यही प्रार्थना है कि सभी मेरी मां जैसी नसीब हो। ताकि देश की बेटियां मेरी दीदी की तरह अपना जिले और प्रदेश का नाम रोशन कर सकें।

---------------------

सभी को मेरी मां जैसी प्यार करने वाली मिले

अंबाला : देश के सभी नौजवानों और कारोबारियों को मेरी मां जैसी प्यार करने वाली माता मिले। मदर्स डे के मौके पर अंबाला होलसेल केमिस्ट एसोसिएशन के प्रधान बलित नागपाल ने अपने बचपन को याद करते कहा कि जब मैं छोटा था तो मेरी मां ने सदैव हमें यही सिखाया कि बेटा पढ़ाई के साथ साथ भलाई का काम भी करना। धीरे धीरे मैं जब बड़ा हुआ तब मेरी मां हमेशा यही कहती रहीं कि बेटा कारोबार के साथ साथ जरूरतमंदों की मदद के लिए सदैव तत्पर रहना। आज उनकी बात पर अमल करते हुए कारोबार के साथ साथ लोक कल्याण का काम अपने एसोसिएशन की तरफ से करता रहता हूं। लॉकडाउन की शुरूआत में अपने ऐसोसिएशन की तरफ से जरूरतमंदों की मदद में राशन पहुंचाने का काम किया।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.