top menutop menutop menu

ईवीएम को लेकर तोपखाना परेड में हंगामा, छावनी के खालसा स्कूल में भी भड़के समर्थक

जागरण संवाददाता, अंबाला

अंबाला छावनी विधानसभा क्षेत्र में ईवीएम को लेकर दो जगहों पर प्रत्याशी समर्थकों ने जमकर हंगामा किया। आरोप लगाया कि ईवीएम को जहां बदलने की कोशिश हो रही है, वहीं अंबाला छावनी के खालसा स्कूल में ईवीएम पैक करने में हुई देरी के चलते कमरे को लॉक करना हंगामा का कारण बन गया। दोनों जगहों पर जमकर हंगामा हुआ, जबकि मौके पर पहुंची पुलिस व चुनाव अधिकारियों ने मामले को शांत किया। काफी देर तक हंगामा होता रहा, जबकि पुलिस भी मौके पर ही मौजूद रही।

छावनी के तोपखाना परेड क्षेत्र के राजकीय स्कूल में बने पोलिग बूथ पर छावनी से आजाद प्रत्याशी के समर्थकों ने जमकर हंगामा किया। यहां पर आरोप लगाया कि ईवीएम को बदलने की कोशिश की जा रही है और अफसर खुद ईवीएम लेकर घूम रहे हैं। हुआ यूं कि चुनाव ड्यूटी पर तैनात अधिकारी पंजाब नंबर की गाड़ी में ईवीएम लेकर आए थे। सायं करीब पौने छह बजे यह अधिकारी उक्त स्कूल में बने मतदान केंद्र पर पहुंचे। यहां पर जब समर्थकों ने देखा कि गाड़ी में चार ईवीएम पड़ी हैं। इसी पर हंगामा खड़ा हो गया। सूचना लगते ही पुलिस व अन्य अधिकारी मौके पर पहुंचे। यहां पर अधिकारियों ने बताया कि चुनाव ड्यूटी पर हैं और अपने अधीन दिए गए मतदान केंद्रों पर रूटीन चेकिग में लगे हैं। यह ईवीएम मात्र इस लिए हैं कि कहीं पर यदि आवश्यकता हो तो इसका इस्तेमाल किया जा सके। बाद में दोनों पक्षों को बिठाकर मामला शांत कर दिया गया।

उधर, अंबाला छावनी में डीसी रोड के पास खालसा स्कूल में भी हंगामा हुआ। यहां पर मतदान केंद्र पर शाम के समय पोलिग पार्टियां ईवीएम आदि पैक कर रहीं थीं कि इसी दौरान बूथ नंबर 129 पर तैनात पोलिग पार्टी को ईवीएम पैक करने में दिक्कत आने लगी। इस पर पोलिग पार्टी ने कमरे को ताला लगा दिया कि कहीं कोई अन्य कमरे में आकर ईवीएम से छेड़छाड़ न कर दे। इसी पर मामला भड़क गया। अफवाह फैल गई कि कमरे को लॉक कर गड़बड़ी की जा रही है। समर्थकों ने हंगामा कर दिया, जबकि मौके पर पुलिस अधिकारी व चुनाव अधिकारी पहुंच गए। यहां पर भी इन समर्थकों को शांत कर वापस भेजा गया।

------------------

गलतफहमी के कारण हुआ था हंगामा : एसडीएम

अंबाला छावनी विधानसभा के रिटर्निंग अधिकारी एवं एसडीएम सुभाष सिहाग ने बताया कि तोपखाना परेड क्षेत्र में बने मतदान केंद्र पर गलतफहमी के कारण विवाद हुआ था, जिसे निपटा दिया गया। दूसरी ओर खालसा स्कूल में ईवीएम की बैटरी को लेकर विवाद हुआ था। इसे भी दोनों पक्षों को बिठाकर समझा दिया गया। दोनों मामलों का निपटारा हो चुका है ।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.