सिंहपुरा मुहल्ला में पानी निकासी की समस्या बरकरार, समाधान नहीं

वैसे तो पूरे कस्बा बराड़ा में ही गंदे पानी निकासी की समस्या से लोग दो-चार हो रहे है लेकिन वार्ड नंबर 9 के सिंहपुरा मुहल्ला वासियों की गंदे पानी की निकासी की समस्या पिछले एक दशक से ज्यों की त्यों बनी हुई है जिस कारण मुहल्लावासियों में भारी रोष पनपा हुआ है।

JagranSat, 04 Dec 2021 06:30 PM (IST)
सिंहपुरा मुहल्ला में पानी निकासी की समस्या बरकरार, समाधान नहीं

बलकार सिंह, बराड़ा : वैसे तो पूरे कस्बा बराड़ा में ही गंदे पानी निकासी की समस्या से लोग दो-चार हो रहे है, लेकिन वार्ड नंबर 9 के सिंहपुरा मुहल्ला वासियों की गंदे पानी की निकासी की समस्या पिछले एक दशक से ज्यों की त्यों बनी हुई है, जिस कारण मुहल्लावासियों में भारी रोष पनपा हुआ है। ज्ञात रहे कि सिंहपुरा मुहल्ला में गंदे पानी की निकासी न होने के कारण जहां नालियों से निकलकर गंदा पानी गलियों में भर जाता है वहीं वर्षा के दिनों में यह गलियां जोहड़ का रूप धारण कर लेती है। इतना ही नहीं भारी वर्षा होने से कई लोगों के घरों में पानी घुस जाता है, जिससे उन्हें भारी नुकसान उठाना पड़ता है।

बतां दें कि सिंहपुरा मुहल्ले से शमशान घाट रोड पर शनि मंदिर से थोड़ा आगे तक नाले का निर्माण हो रखा है। इससे आगे गांव अधोया पंचायत की जमीन लगती है, जिस पर कुछ लोगों ने इस नाले की जगह पर अवैध कब्जे कर रखे है। करीब 22 फीट चौड़ा सरकारी नाला गोलडन काप्लैक्स से होता हुआ दादूपुर नलवी नहर तक जाता है, लेकिन प्रशासन द्वारा नाला न बनाए जाने के कारण नालियों का गंदा पानी गलियों में फैल रहा है, जिससे मक्खी, मच्छर पनप रहे हैं और बीमारी फैलने का भय बना रहता है। पिछले 11 वर्षो से मुहल्लावासी लगा रहे गुहार

इस समस्या को लेकर मुहल्लावासी पहले भी गत 11 अगस्त 2010 को तत्कालीन बीडीओ व एसडीएम को पत्र सौंप चुके हैं, लेकिन तब भी प्रशासन ने इस नाले के निर्माण के लिए कोई उचित कदम नहीं उठाया। पिछले एक दशक से मुहल्लावासी कई बार इस मामले के संदर्भ में उच्चाधिकारियों को पत्र सौंपकर इस नाले का निर्माण शीघ्र करवाने की गुहार लगा चुके है। वार्ड नंबर नौ पार्षद मुनीश कुमार ने बताया की बराड़ा को नगरपालिका का दर्जा मिलने के उपरांत मुहल्लवासियों को समस्या हल होने की आस जगी थी, लेकिन करीब साढ़े तीन साल बीत जाने के बाद भी समस्या ज्यों की त्यों बनी हुई है। इसी समस्या को ध्यान में रखते हुए नपा चेयरपर्सन रिचा पाहवा, वार्ड नंबर नौ के पार्षद मुनीश कुमार की अध्यक्षता में भारी संख्या में मुहल्लावासी एकत्रित होकर कई बार एसडीएम बराड़ा सहित डीसी अंबाला को भी गुहार लगा चुके है। गत 2 जून तथा 24 नवंबर 2020 को वह एसडीएम बराड़ा गिरीश कुमार तथा नपा सचिव को इस समस्या के हल के लिए लिखित तौर पर गुहार लगा चुके है। इसके अलावा चेयरपर्सन रिचा पाहवा व पार्षद मुनीश कुमार डीसी अंबाला से व्यक्तिगत तौर पर भी मिलने के अलावा गत 19 फरवरी 2021 को गृह मंत्री अनिल विज को मिलकर समस्या से अवगत करवा चुके है और उन्होंने आश्वासन दिया है कि वह शीध्र इस समस्या का हल करेंगे। लेकिन अभी तक समस्या ज्यों की त्यों बनी हुई है।

सीवरेज में किए कनेक्शन, जा रहे पालीथिन व मिट्टी

पुरे बराड़ा में गंदे पानी के निकासी की कोई उचित व्यवस्था न होने के कारण चेयरपर्सन और पार्षदों ने लोगों के विरोध से बचने के लिए आनन-फानन में कई जगह गंदे पानी को सीवरेज में ही कनैक्शन कर डाल दिया गया, जिससे गंदे पानी की निकासी की समस्या तो कुछ हद तक हल हुई। मगर नालियों में से सीवरेज में किए गए कनेक्शनों में न तो जाली आदि लगाई गई, जिसके चलते नालियों में गिरने वाले पालीथिन व मिट्टी पानी के साथ सीवरेज में जा रहे है। अगर ये पालीथिन और मिट्टी ऐसे ही कुछ माह गिरती रही तो वह दिन दूर नहीं जब सीवरेज ब्लाक हो जाएगा। अगर सीवरेज में किसी तरह की ब्लोकिग आती है तो लोगों की समस्या ओर भी बढ़ जाएगी। कस्बावासी निर्मल सिंह, सुरजीत सिंह, जीत सिंह, गुरमीत कौर, कुलबीर सिंह, सुरजीत सिंह, कुलवंत कौर, तरसेम सिंह आदि का कहना है कि नपा को गंदे पानी की निकासी का कोई समुचित हल ढूढना चाहिए। ताकि लोगों को किसी प्रकार की परेशानी का सामना न करना पड़े।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.