top menutop menutop menu

संडे की लेफ्ट-राइट पर विवाद, सड़कों पर उतरे कपड़ा कारोबारी

संडे की लेफ्ट-राइट को लेकर कपड़ा मार्केट में विवाद हो गया। सुबह नौ बजे जैसे ही लेफ्ट साइड के दुकानदारों ने दुकानें खोली, तभी राइट साइड के कपड़ा व्यापारी भी दुकानें खोलने पहुंच गए। इसकी सूचना मिलते ही पुलिस बल भी मौके पर पहुंचा। दुकानें खुलने की बारी को लेकर राइट साइड के व्यापारियों ने विरोध जताना शुरू कर दिया। लेकिन पुलिस ने दुकानों को बंद करवा दिया। इसके साथ ही कारोबारियों को चेताया गया, अगर नियमों की उल्लंघना की गई तो मुकदमा तक दर्ज किया जाएगा। इसके बाद कारोबारियों ने डीसी के आवास पर मुलाकात कर समस्या रखी।

बता दें कि पहले जिला प्रशासन ने मंगलवार, बृहस्पतिवार और शनिवार को राइट साइड खोलना तय किया था। सोमवार, बुधवार व शुक्रवार लेफ्ट साइड वालों को दुकानें खोलने की अनुमति दी थी। दुकानदारों ने बताया कि उन्होंने ग्राहकों को काल पर पहले बताया दिया था कि इस दिन दुकानें खुलेंगी। लेकिन अब बदलाव से ग्राहकों को परेशानी हो गई। इस पर विवाद शुरू हो गया। दुकानदार बोले कि उन्होंने संडे की डिमांड की ही नहीं थी। वह प्रशासन का पूरा सहयोग कर रहे हैं। हालांकि रविवार को लेफ्ट की बजाए राइट साइड के दुकानदारों ने विरोध किया।

छह दिन पूरी मार्केट खोलने की रखी गई मांग

कपड़ा कारोबारियों ने डीसी से मुलाकात का समय मांगा। जहां डीसी ने साढ़े 11 बजे का समय दिया। इसके बाद डीसी कपड़ा मार्केट की ओर से पांच लोगों का प्रतिनिधिमंडल उनसे मिलने गया। जिसमें रामरतन गर्ग, ऋषभ बंसल, हरीश चड्डा, विशाल बत्तरा, नरेश अग्रवाल शामिल रहे। जहां उन्होंने मांग रखी कि करनाल-कैथल में छह दिन मार्केट खोले जाने के आदेश दे दिए गए हैं, लेकिन अंबाला में लेफ्ट-राइट के हिसाब से ही दुकानें खोली जा रही हैं। उन्हें छह दिन दुकानें खोलने की अनुमति दी जाए। संडे को सभी दुकानें बंद रखी जाएंगी। इसके बाद डीसी ने कारोबारियों को आश्वासन दिया कि वह अपनी मांगों का पत्र उन्हें मोबाइल के जरिये भेज दें और उसके बाद उस पर निर्णय लिया जाएगा। -दुकानदारों का आरोप-लेफ्ट-राइट पर बदल रहे निर्देश

कपड़ा कारोबारी रामरतन गर्ग ने कहा कि प्रशासन संडे वाले दिन लेफ्ट-राइट दुकानें खोलने को लेकर असमंजस की स्थिति बना रहा है। इस बार माह का तीसरा संडे था तो इसके मुताबिक राइट साइड के दुकानदारों को दुकानें खोलनी थी। प्रशासन ने पहले तय किया था। कि माह के पहले दो संडे लेफ्ट साइड को दुकानें खोलनी थी और तीसरे-चौथे संडे को राइड साइड दुकानें खोलनी थी। इसी के तहत 24 मई को राइट साइड का दिन था लेकिन प्रशासन ने अपने पहले आदेशों को बदल दिया और लेफ्ट साइड का नंबर लगा दिया।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.