समता विहार कालोनी की सड़कों पर हर समय बरसात के बाद जलभराव जैसे हालात

फोटो 3 4 5 6 7 8 जागरण अभियान - लाखों खर्च करके तैयार कोठियों में रहने वालों को ग

JagranSat, 18 Sep 2021 05:37 PM (IST)
समता विहार कालोनी की सड़कों पर हर समय बरसात के बाद जलभराव जैसे हालात

फोटो : 3, 4, 5, 6, 7, 8

जागरण अभियान

- लाखों खर्च करके तैयार कोठियों में रहने वालों को गांव से भी गई गुजरी मिल रही सुविधाएं

- रोजाना बूंद-बूंद पानी के लिए तरसाना और उबड़-खाबड़ सड़कों से आना जाना मजबूरी बनी

जागरण संवाददाता, अंबाला :

छावनी के महेशनगर टांगरी नदी के पार अंबाला साहा हाईवे के किनारे बसी नई आबादी समता विहार कालोनी की सड़कों पर हर समय जलभराव जैसे हालात रहते हैं। यहां जो सड़क शुरूआत में बनी थी, वह आज जर्जर हो चुकी है। घरों से रोजाना निकलने वाला पानी सड़कों पर खड़ा रहता है। कालोनी की मुख्य सड़क को छोड़ दिया जाए तो बाकी की सड़क बनी ही नहीं। लाखों रुपए का प्लाट खरीदने के बाद लोगों ने भारी भरकम धनराशि खर्च करके कोठियां बनवाई, अब यहां गांवों से भी गई गुजरी स्थिति हालात में रहना पड़ता है। यहां घरों में रहने वालों को यह भरोसा नहीं होता कि आज पानी आया तो कल पंप की मोटर चलेगी और पानी की आपूर्ति होगी। ऊबड़ खाबड़ सड़कों से लोगों को आना जाना मजबूरी वश आदत में शुमार है। यहां आलीशान कोठियां बनकर रहने वालों का अब समता विहार कालोनी से मोहभंग होने लगा है। कुछ लोगों ने कहा कि अब यहां की समस्या को झेलने की इच्छा नहीं रही, कहीं दूसरी जगह बसने की सोच रहा हूं।

-------------

नेताओं से कर चुके फरियाद, नहीं हुई सुनवाई

समता विहार कालोनी में रहने वाले लोगों ने कहा कि जब भी किसी जनप्रतिनिधि के पास यहां की समस्या को लेकर जाते हैं तो सिर्फ आश्वासन मिलता है। फिर भी समस्या का समाधान न होने पर जब दोबारा मिलते हैं तो रटा रटाया जवाब मिलता है कि जल्द ही समस्या का समाधान होगा। फोटो : 4

पांच साल पहले हमने समता विहार कालोनी में प्लाट लेकर मकान बनवाया। उस समय तो यही उम्मीद थी कि यहां का विकास होगा। सड़कें बनी थी लेकिन नाली का निर्माण अब तक नहीं हुआ। अब तो यहां के विकास की उम्मीद नहीं दिख रही है।

- जगजीत सिंह, निवासी समता विहार कालोनी। फोटो :5

हमारे कालोनी से अगर कोई पैदल जाना चाहे तो वह नहीं जा सकता, क्योंकि सड़क पर जगह जगह पानी भरा रहता है। पानी भरा होने की वजह से अब तो यहां रिश्तेदार भी आने से कतराने लगे हैं। घरों से निकलने वाला पानी या तो सड़क पर या फिर खाली प्लाटों में जाता है।

- दलीप सिंह, निवासी समता विहार कालोनी।

फोटो : 6

यहां वार्ड में सिर्फ विधायक और पार्षद के चुनाव में नेता वोट मांगने के लिए आते हैं, फिर दोबारा मुड़कर नहीं देखते। सड़क के नाम पर सिर्फ खानापूर्ति हुई है। यहां पर रहने वाले लोगों ने अपने खर्च से दरवाजे के सामने मिट्टी गिरवा रखा है।

- सुदेश, निवासी समता विहार कालोनी। फोटो : 7

मैं यहां पर किराये पर रहता हूं, जिस समय यहां रहने के लिए आया था, तब स्थिति कुछ ठीक थी, लेकिन अब तो विकास के नाम पर दिन ब दिन सड़कें और जल निकासी की समस्या से लोग जूझ रहे हैं।

- रोबिन, निवासी समता विहार कालोनी।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.