भारत बंद के तहत जिले में 19 जगहों से रूट रहेगा डायवर्ट

कृषि कानूनों के खिलाफ संयुक्त किसान मोर्चा द्वारा 27 सितंबर को आहुत भारत बंद को लेकर प्रशासन ने अपनी तैयारियां कर ली हैं। वहीं किसान नेताओं ने भी रविवार को अपनी रणनीति बनाई और डोर टू डोर संपर्क कर दुकानदारों से सहयोग मांगा।

JagranMon, 27 Sep 2021 07:10 AM (IST)
भारत बंद के तहत जिले में 19 जगहों से रूट रहेगा डायवर्ट

जागरण टीम, अंबाला : कृषि कानूनों के खिलाफ संयुक्त किसान मोर्चा द्वारा 27 सितंबर को आहुत भारत बंद को लेकर प्रशासन ने अपनी तैयारियां कर ली हैं। वहीं किसान नेताओं ने भी रविवार को अपनी रणनीति बनाई और डोर टू डोर संपर्क कर दुकानदारों से सहयोग मांगा। किसान नेता भारत बंद को पूरी तरह से सफल बनने के लिए तैयारियों में जुटे हैं, वहीं प्रशासन भी तैयार है कि लोगों को इस बंद के दौरान कोई दिक्कत न आए। जिला पुलिस सहित राजकीय रेलवे पुलिस (जीआरपी), रेलवे पुलिस बल (आरपीएफ) तैयार है। जिला में 12 जगहों पर जहां नाके लगाए जाएंगे, वहीं 19 स्थान ऐसे हैं जहां से रूट डायवर्ट किया जाएगा। बंद को लेकर 500 जवान मुस्तैद रहेंगे, जबकि रैपिड एक्शन फोर्स को भी तैयार रखा गया है।

इसके अलावा शहर के अंदर राइडिग पार्टी रहेगी। इसके अलावा खुफिया तंत्र को भी अलर्ट कर दिया गया है तथा बहुत से कर्मचारी सिविल वर्दी में रहेंगे, जो हालातों पर नजर तो रखेंगे साथ ही अपडेट भी देंगे।

----------

यहां पर जाम लगने की आशंका

पुलिस को मिले इनपुट के आधार पर माना जा रहा है कि जिले में शंभू बार्डर टोल प्लाजा, टोल प्लाजा सैनी माजरा, साहा चौक, हेमा माजरा, यमुनानगर-पंचकूला रोड, कड़ासन, अंबाला-कालाअंब रोड, महाराणा प्रताप चौक बराड़ा, उगाला चौक, लखनौरा, नारायणगढ़ अग्रसेन चौक, पंजोखरा छज्जू माजरा में प्रदर्शनकारी जाम लगा सकते हैं। यहां पर पुलिस तैनात कर दी गई है।

------------

यहां से होगा रूट डायवर्ट

जाम लगने की स्थिति में वाहन चालकों को आवाजाही में दिक्कत न हो, इसके लिए रूट डायवर्ट किए जाएंगे। जिला में फिलहाल 19 जगहों से रूट डायवर्ट का प्लान है

- शंभू टोल प्लाजा से यू टर्न

- कैथल रोड से जमीतगढ़

- डायवर्ट नाका देवी नगर पुल के नीचे

- डडियाना कट के नजदीक ओवर ब्रिज

- कालका चौक पुल के नीचे सर्विस रोड

- अग्रसेन चौक कालू माजरा कट

- टी प्वाइंट गांव मजफरा (मटहेड़ी)

- कलेरां रोड जनसुई हेड

- टी प्वाइंट जनसुई हेड से न्यू हिसार रोड पर

- अंबाला-जगाधरी रोड दोसड़का ओवरब्रिज से पहले

- दोसड़का-ओवरब्रिज के नीचे

- गांव छोटा खुड्डा जगाधरी रोड एनएच वन से पहले

- दुखेड़ी मोड

- जीटी रोड सैनिक विश्राम गृह के सामने सर्विस रोड

- एमटी क्रासिग

- शहजादपुर ओवरब्रिज के ऊपर व नीचे

----------

सयुंक्त किसान मोर्चा द्वारा भारत बंद का आह्वान किया गया है। ऐसे में कानून एवं व्यवस्था बनाए रखने के लिए विशेष सुरक्षा प्रबंध किए गए हैं। किसी भी प्रकार की आपात स्थिति में नागरिक डायल 112 या नजदीकी पुलिस थाना में फोन करें। वाहनों के आवागमन में कठिनाई ना हो इसके लिए भी उचित यातायात प्रबंध किए गए। कानून एवं व्यवस्था बनाए रखने के लिए पुलिस को सहयोग करें, पुलिस आपकी सेवा, सुरक्षा व सहयोग के लिए सदैव तत्पर है।

- हामिद अख्तर, पुलिस कप्तान

--------------------

बैठक कर बनाई रणनीति

संस, नारायणगढ़ : भारत बंद को लेकर भारतीय किसान यूनियन की मीटिग गांव लालपुर में युवा जिला प्रधान जसविदर सिंह व मीडिया प्रभारी राजीव शर्मा की अध्यक्षता में हुई। इसमें किसान संयुक्त मोर्चा के आह्वान पर कल 27 तारीख को भारत बंद को लेकर उपमंडल नारायणगढ़ पदाधिकारियों की ड्यूटी लगाई। इसके अलावा 28 सितंबर को शुगर मिल में इसमें पंचायत बुलाई गई। उसके बाद पंचकूला केन कमिशनर का घेराव किया जाएगा। पदाधिकारियों ने गांव गधौली, नगला हसनपुर, भूखडी, सुरगल, नंदूवाली, फतेहपुर, शाहपुर, सकरपुरा, अंधेरी, फिरोजपुर आदि कई गांव का दौरा किया।

-----------------

दुकानदारों से सहयोग की अपील

शहजादपुर : क्षेत्र के किसानों ने त्रिवेणी चौक पर एकत्र होकर दुकानदारों से भारत बंद में सहयोग की अपील की। दुकानदारों को किसानों ने कहा कि कृषि कानूनों को रद करवाने के लिए लगातार संघर्ष कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि किसानों के इस संघर्ष में दुकानदार भी सहयोग करें। डोर टू डोर जाकर किसानों ने संपर्क किया।

-------------------

किसानों की ड्यूटी लगाई : मलकीत सिंह

संस, नारायणगढ़ : भारतीय किसान यूनियन के जिलाध्यक्ष मलकीत सिंह ने कहा कि ब्लाक व हलका प्रधानों ड्यूटियां लगाई गई हैं। जिन किसानों व पदाधिकारियों की ड्यूटी लगाई है, वे दुकानदारों से सहयोग की अपील करेंगे। विरोध शांतिपूर्वक होगा। कानून व्यवस्था की स्थिति बिगड़ने नहीं दी जाएगी।

---------------------- किसानों को प्रताड़ित कर रही सरकार : वरुण

संस, बराड़ा : हलका मुलाना से विधायक वरुण चौधरी ने कहा कि सरकार किसानों की समस्याओं व उनकी मांगों को लेकर संजीदा नहीं है। सरकार किसानों की लगातार अनदेखी कर रही है। जीरी फसल की खरीद 25 सितंबर से शुरू करने का फैसला किया था, जिसे बदल सरकार ने 1 अक्टूबर से जीरी खरीद का फैसला लिया है। फसल रजिस्ट्रेशन के नाम पर किसानों को परेशान किया जा रहा है।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.