रेल मंत्रालय चाहता है कटौती, उधर 200 कर्मियों के टीए और एनडीए पर एक करोड़ से अधिक की धनवर्षा

कोरोना काल में रेलवे की आमदनी पर भी असर पड़ा जिस कारण रेल मंत्रालय ने खर्चों में कटौती करने के आदेश दिए हैं वहीं अंबाला रेल मंडल कार्यालय ने हरियाणा और पंजाब में कार्यरत कर्मचारियों को पांच माह में एक करोड़ तीन लाख तीन हजार 117 रुपये से अधिक का ट्रेवल अलाउंस (टीए) और नाइट डयूटी अलाउंस (एनडीए) जारी कर दिया।

JagranWed, 22 Sep 2021 06:45 AM (IST)
रेल मंत्रालय चाहता है कटौती, उधर 200 कर्मियों के टीए और एनडीए पर एक करोड़ से अधिक की धनवर्षा

दीपक बहल, अंबाला: कोरोना काल में रेलवे की आमदनी पर भी असर पड़ा, जिस कारण रेल मंत्रालय ने खर्चों में कटौती करने के आदेश दिए हैं, वहीं अंबाला रेल मंडल कार्यालय ने हरियाणा और पंजाब में कार्यरत कर्मचारियों को पांच माह में एक करोड़ तीन लाख तीन हजार 117 रुपये से अधिक का ट्रेवल अलाउंस (टीए) और नाइट डयूटी अलाउंस (एनडीए) जारी कर दिया। यदि कर्मचारियों को हेडक्वार्टर से दूसरी जगह ड्यूटी करने के लिए न भेजा जाता है, तो टीए में कमी आनी थी। कारण कुछ भी रहा हो, कर्मचारियों की ड्यूटी हेडक्वार्टर में लगाने की बजाये दूसरी जगह लगाने में अधिकारी मेहरबान रहे, जिस कारण एक-एक कर्मचारी का टीए पांच माह में एक लाख से ऊपर पहुंच गया। ऐसे में रेलवे ने पहली बार टाप 100 (टीए और एनडीए) की सूची जारी की, जिसमें सबसे अधिक टीए एक लाख 55 हजार 280 रुपये का है, जो एक कर्मचारी को जारी किया है। अंबाला रेल मंडल के लेखा विभाग ने इन कर्मचारियों की सूची रेलवे के सभी ब्रांच अधिकारियों को भेज दी है, ताकि वे मंथन करें कि टीए और एनडीए में किस तरह से कटौती की जा सकती है। हालांकि कोरोना काल में जारी गाइडलाइन के चलते कर्मचारियों की हाजिरी भी शत फीसद नहीं थी।

इस तरह का है नियम

यदि रेल कर्मचारी का हेडक्वार्टर अंबाला छावनी स्टेशन है, तो कर्मचारी को आठ किलोमीटर दूर भेजा जाता है, तो उनको घंटों के हिसाब से टीए दिया जाता है। टीए के लिए तीन स्लैब बनाए हैं। तीन, सात और 12 घंटे में इसको बांटा गया है। कर्मचारियों को बेसिक के हिसाब से यह टीए दिया जाता है। आपरेटिग, कामर्शियल, मकैनिकल, इलेक्ट्रिकल, इंजीनियरिग, सिक्योरिटी के अधिकारी ड्यूटी को सत्यापित करते हैं, जिसके बाद टीए जारी किया जाता है। यदि एक कर्मचारी को 169 दिन से अधिक एक ही स्टेशन पर दिया जाता है, तो उसकी पोस्टिग उसी स्टेशन पर करने का नियम है, ताकि टीए बचाया जा सके। टीए लेने में आपरेटिग विभाग के सबसे अधिक

रेलवे की सूची पर निगाह मारें तो सौ कर्मचारियों में आपरेटिग विभाग के कर्मचारी टीए लेने में सबसे ज्यादा है। इनकी संख्या 43 है। ट्रेनों का संचालन करना आपरेटिग विभाग का है। कर्मचारियों को हेडक्वार्टर के अलावा दूसरे स्टेशन पर भेजने के पीछे स्टाफ की कमी बताया जा रहा है। डेढ़ सौ के करीब रिक्त पड़े हैं, जिसके चलते कर्मचारियों पर ड्यूटी का भी बोझ पड़ रहा है। लिस्ट जारी की गई है : डीआरएम

मंडल रेल प्रबंधक जीएम सिंह ने कहा कि टीए और एनडीए लेने वाले कर्मचारियों की लिस्ट जारी की गई है। स्टाफ की कमी के चलते भी कर्मचारियों को हेडक्वार्टर के अलावा कहीं और ड्यूटी लगानी पड़ती है। फिर भी प्रयास रहते हैं कि खर्चों में कटौती की जा सके। कर्मचारी-टीए अप्रैल 21-अगस्त 21 नाम पद अमाउंट

जगदीप राज सक्सेना एसएम 155280

कर्म सिंह एसएम 128400

अमित कुमार एसएम 116960

समर पाल सिंह एएसआई 115680

आरपीएफ

जसमेल सिंह एसएसई 102960

(पी.डब्ल्यूएवाई)

प्रवीन कुमार एएसएम 102400

सोहन सिंह एईई 101680

अशोक कुमार मीना एसएम 97360

राकेश कुमार जेई 96800

जावेद उस्मान एसएम 96160

(स्टेशन मास्टर- एसएम)

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.