प्राकृतिक आपदाओं और आगजनी जैसी घटनाओं से निपटने को दमकल विभाग होगा अपडेट

अंबाला कैंट फायर ब्रिगेड अब हाईटेक होने जा रहा है। अभी तक परंपरागत तरीके से फायर फाइटिग में जुटा विभाग अब लोगों की जान बचाने के लिए भी संसाधनों से लैस होगा।

JagranSat, 17 Apr 2021 07:26 AM (IST)
प्राकृतिक आपदाओं और आगजनी जैसी घटनाओं से निपटने को दमकल विभाग होगा अपडेट

जागरण संवाददाता, अंबाला : फायर ब्रिगेड अंबाला कैंट अब हाईटेक होने जा रहा है। अभी तक परंपरागत तरीके से फायर फाइटिग में जुटा विभाग अब लोगों की जान बचाने के लिए भी संसाधनों से लैस होगा। इसी को लेकर तैयारियां की जा रही हैं। इसके तहत रेसक्यू टेंडर (गाड़ी) है, जिसके लिए विभाग इंतजार कर रहा है। यह अंबाला आगजनी जैसी घटनाओं में काफी राहत प्रदान करेगी। इस में ऐसे उपकरण शामिल हैं जिसे विकट परिस्थितियों में भी लोगों को आग से बचाकर निकाला जा सकेगा। इसी को लेकर फायर ब्रिगेड अंबाला कैंट ने डिमांड की है। इसके अलावा पेट्रोलियम पदार्थों में लगी आग पर काबू पाने के लिए साढ़े चार हजार लीटर का फोम फायर टेंडर भी मांगा गया है।

इस तरह से होगा फायदा

रेसक्यू टेंडर आपात स्थिति में लोगों की जा बचाने के काम आएगा। इसमें ऐसे उपकरण हैं, जो भूकंप, आग लगने या फिर पानी में किसी के डूबने की स्थिति में लोगों की जान को बचा सकेंगे। कई बार परिस्थितियां बन जाती हैं, जिसमें विभाग के कर्मचारियों को आग पर काबू पाने या फिर प्राकृतिक आपदा से लोगों को बचाने में परेशानी होती है। लेकिन यह रेसक्यू टेंडर मिलने के बाद ऐसी स्थितियों में काम करना तो आसान होगा साथ ही लोगों की जान भी बचाई जा सकेगी।

यह होगा रेसक्यू टेंडर में

रेसक्यू टेंडर में कई उपकरण ऐसे होते हैं, जो किसी भी प्राकृतिक आपदा के दौरान लोगों की जान बचाने के काम आते हैं। इस गाड़ी में नाव, लाइफ जैकेट, जनरेटर, ब्रीदिग अपरेट्स, कटर, स्पैडर मिलेंगे। इसके साथ ही इलेक्ट्रिक मशीन मिलेगी, जिससे प्राकृतिक आपदा के दौरान मलबे में दबे लोगों को ढूंढ़ने में मदद मिलती है। इसी तरह ब्लोअर से किसी भी स्थान में आग लगने की स्थिति में धुआं निकालने में आसानी होगी।

आग में विशेष सूट डालकर घुस सकेंगे कर्मचारी

विभाग ने जिस रेसक्यू टेंडर की मांग की है, उसमें फायर एंट्री सूट भी मिलेगा। किसी भी जगह आग लगने की स्थिति में कर्मचारी यह सूट डालकर भीतर जा सकेगा और सामान या किसी को बाहर निकाल सकेगा। जरूरत होगी कि उस पर नियमित रूप से पानी डाल कर इसका टेंपरेचर कम किया जाता रहे। इसके अलावा एस बैस सूट भी मिलेगा, जिसे पहनकर तीस मिनट तक किसी भी आगजनी की घटना के दौरान कर्मचारी भीतर घुस सकता है। यह तीस मिनट तक काम करता है, जबकि बीस मिनट के बाद यह सिगनल देना शुरू करता है, ताकि कर्मचारी को बाहर निकलने का दस मिनट का समय मिल जाए।

फोटो नंबर :: 4

रेसक्यू टेंडर की डिमांड की है। इसके मिलने के बाद प्राकृतिक आपदा, बाढ़ अथवा पानी में डूबते लोगों को बचाने में मदद मिलेगी। इस में कई तरह के उपकरण व फायर एंट्री सूट मिलते हैं, जो आग में फंसे लोगों को बचाने में काम आता है।

- मोहिदर सिंह, फायर स्टेशन अफसर, अंबाला कैंट

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.