जम्मू से दिल्ली के लिए चली सीआरपीएफ की साइकिल रैली का अंबाला में स्वागत

आजादी के 75वें अमृत महोत्सव के उपलक्ष्य में केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) की साइकिल रैली का मंगलवार को अंबाला के शंभू बार्डर पर स्वागत किया गया। इस रैली की अगुवाई डीआइजी भानु प्रताप कर रहे हैं।

JagranWed, 29 Sep 2021 07:10 AM (IST)
जम्मू से दिल्ली के लिए चली सीआरपीएफ की साइकिल रैली का अंबाला में स्वागत

जागरण संवाददाता, अंबाला : आजादी के 75वें अमृत महोत्सव के उपलक्ष्य में केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) की साइकिल रैली का मंगलवार को अंबाला के शंभू बार्डर पर स्वागत किया गया। इस रैली की अगुवाई डीआइजी भानु प्रताप कर रहे हैं। रैली का उपमहानिरीक्षक ग्रुप केंद्र पिजौर सुनील थोर्पे, होलसेल क्लाथ मार्केट के वरिष्ठ प्रधान मोहन लाल गोयल आदि ने स्वागत किया। जिला प्रशासन की ओर से एसडीएम अंबाला छावनी दिलबाग सिंह मौजूद रहे। इस अवसर पर सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन भी किया गया। कार्यक्रम की प्रस्तुति देने वाले प्रतिभागियों को मुख्य अतिथि व अन्य गणमान्य लोगों ने स्मृति चिन्ह देकर प्रोत्साहित किया।

भानु प्रताप ने बताया कि 23 सितंबर को यह साइकिल यात्रा जम्मू से शुरू की गई थी। वहां पर लेफ्टिनेंट गर्वनर से इस रैली को झंडी देकर रवाना किया था। सीआरपीएफ द्वारा देश की चारों दिशाओं में चार साइकिल रैलियों का आयोजन किया गया है, जिनमें जोहरहाट, जम्मू, साबरमती व कन्याकुमारी शामिल हैं। इन सभी जगहों से यह रैली 2 अक्टूबर को दिल्ली राजघाट पहुंचेगी। उन्होंने बताया कि 22 मार्च को दांडी यात्रा के 91वें साल पूरा होने पर प्रधानमंत्री ने आजादी का अमृत महोत्सव मनाने की घोषणा की थी। इस साइकिल यात्रा के माध्यम से संदेश दिया जा रहा है कि आजादी हमें बड़ी मुश्किल से मिली थी। स्वतंत्रता संग्राम में हमारे वीर सैनिकों ने बलिदान देकर देश को आजादी दिलाई थी। इस मौके पर सभी ने भारत माता की जय का जयघोष किया।

----------------- एमएमयू में एडवांसिग क्लिनिकल एक्सीलेंस पर कार्यशाला

संस, मुलाना : न्यूरोलोजी और कार्डियोलाजी के क्षेत्र में नर्सिंग कर्मियों की दक्षताओं को बढ़ाने के लिए, रोगी देखभाल की गुणवत्ता में सुधार के लिए मंगलवार को एमएम कालेज आफ नर्सिंग के एमएससी द्वितीय वर्ष के छात्रों ने प्रिसिपल व निदेशक डा. ज्योति सरीन व अदिबा सिद्दीकी के मार्गदर्शन में एडवांसिग क्लिनिकल एक्सीलेंस पर कार्यशाला का आयोजन किया। कार्यशाला में उत्तर क्षेत्र के विभिन्न कालेजों के 60 से अधिक प्रतिभागियों ने भाग लिया। उद्घाटन मुख्य अतिथि डा. ज्योति सरीन और विशिष्ट अतिथि डा. मंजू व्याख्याता पीजीआई चंडीगढ़ व डा. ज्योति कथवाल प्रिसिपल जीएमसीएच-32 चंडीगढ़ ने किया। इस दौरान डा. मंजू ढांडापानी, डा. साक्षी, डा. प्रतीक मित्तल, डा. राजीव भारद्वाज सहित अन्य मौजूद रहे।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.