उनका विरोध नहीं हुआ, ऐलनाबाद चुनाव में लिए थे 60 हजार वोट : चौटाला

तीन गांव में विरोध हुआ वह भी उनका नहीं भाजपा के लोगों का किया होगा। उन्होंने तो ऐलनाबाद चुनाव में 60 हजार वोट लिए थे। यह कहना है जननायक जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष डा.अजय सिंह चौटाला का।

JagranSat, 04 Dec 2021 07:42 PM (IST)
उनका विरोध नहीं हुआ, ऐलनाबाद चुनाव में लिए थे 60 हजार वोट : चौटाला

जागरण संवाददाता, अंबाला शहर : तीन गांव में विरोध हुआ वह भी उनका नहीं, भाजपा के लोगों का किया होगा। उन्होंने तो ऐलनाबाद चुनाव में 60 हजार वोट लिए थे। यह कहना है जननायक जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष डा.अजय सिंह चौटाला का। वह शुक्रवार को अंबाला शहर के सेक्टर आठ स्थित कार्यालय में पहुंचे थे। उन्होंने कहा कि वह आने वाली नौ दिसंबर को होने जा रही जन सरोकार रैली जन नायक जनता पार्टी के स्थापना दिवस पर न्योता देने पहुंचे हैं। चौधरी देवीलाल की झज्जर कर्मस्थली है। भूपेंद्र सिंह हुड्डा कहते थे कि गांव में घुसकर दिखाए, उन्हें उनके घर में जाकर दिखाएंगे कि जजपा क्या है। इस दौरान लोगों ने उनका फूल मालाओं के साथ स्वागत किया।

उन्होंने कहा कि जजपा ने जो वादे किए थे उन्हें पूरा किया जा रहा है। पंचायती राज संस्थाओं में 50 प्रतिशत हिस्सेदारी निश्चित करना हो, आठ प्रतिशत बैकवार्ड के लोगों को, माताओं-बहनों को 33 प्रतिशत हिस्सेदारी हो या फिर बुढ़ापा पेंशन की बात कही गई थी। लाकडाउन में रेवन्यू भी नहीं आ रहा था। उसके बाद भी बढ़ोतरी करने का काम किया गया। अब 5100 रुपये कही गई पेंशन का काम भी किया जाएगा। उन्होंने कहा कि पार्टी चौधरी देवीलाल के दिखाए गए रास्ते पर चल रही है। लोगों को समस्याओं से निजात दिलाने का काम करेंगे। प्रजातंत्र में जनशक्ति ही बड़ी शक्ति होती है। एक जनवरी से घर-घर जाकर पार्टी की सदस्यता करेंगे। किसानों मसले हल हो जाएंगे, केंद्रीय स्तर पर मीटिग है। उन्होंने आम जनता को उनके अधूरे काम पूरे होने का आश्वासन दिया। सभी लोग कंधे से कंधा मिलाकर जननायक जनता पार्टी का समर्थन करें। इस बार पहले से भी बड़ा स्थापना दिवस का आयोजन झज्जर की धरा पर किया जाएगा। सरकार ने तीन कृषि कानून वापस ले लिए है और मुख्यमंत्री से मीटिग थीं और आज केंद्रीय स्तर पर भी मुलाकात है सब मसले हल हो जाएंगे। कोई बात कल तक नहीं रहेगी। मीटिग विफल नहीं रहती सिर्फ चर्चाएं होती है और मसले हल होते हैं। उन्होंने प्रजातांत्रिक विरोध की बात भी कही।

छह माह तक इनेलो का नहीं रहा कुछ

इनेलो में थे तो पार्टी का वोट 27 प्रतिशत था उसके बाद वह घटकर एक प्रतिशत रह चुका है, लेकिन अब उनका उद्देश्य है आने वाले चुनावों से पहले जजपा का वोट बैंक 51 प्रतिशत पहुंच जाए। उन्होंने किसानों के बारे में कहा कि सरकार ने उनके तीन कृषि कानून वापस ले लिए है और कल मुख्यमंत्री से मीटिग थी और आज केंद्रीय स्तर पर भी मुलाकात है सब मसले हल हो जाएंगे कोई बात कल तक नहीं रहेगी।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.