गुजरात में कांग्रेस ने प्रत्‍याशियों से मांगा हिसाब

गुजरात में कांग्रेस ने प्रत्‍याशियों से मांगा हिसाब

Gujarat Congress. गुजरात में लोकसभा चुनाव 2019 संपन्‍न होने के साथ ही कांग्रेस ने प्रत्‍याशियों से हिसाब लेना शुरू कर दिया है।

Sachin MishraMon, 06 May 2019 08:31 AM (IST)

अहमदाबाद, जेएनएन। गुजरात में लोकसभा चुनाव 2019 संपन्‍न होने के साथ ही कांग्रेस ने प्रत्‍याशियों से हिसाब लेना शुरू कर दिया है। कई उम्‍मीदवारों पर चुनाव के लिए पार्टी फंड से दिए पैसे बचाने का भी आरोप है।

गुजरात कांग्रेस में उम्‍मीदवारों पर हर चुनाव में पार्टी फंड का पैसा बचाने का आरोप लगता है। खुद कार्यकर्ताओं का यह आरोप होता है कि प्रत्‍याशी पार्टी से मिला पैसा भी पूरा खर्च नहीं करते। कुछ उम्‍मीदवार ऐसे होते हैं, जो चुनाव में हार के डर से चुनाव फंड का पैसा भी पूरा खर्च नहीं करते ओर चुनाव खर्च की तय सीमा में मिले पैसों में से भी बचाने का प्रयास करते हैं।

गौरतलब है कि गुजरात की दस से बारह लोकसभा सीट ऐसी हैं, जहां कांग्रेस के जीतने की उम्‍मीद नहीं है, अहमदाबाद पूर्व, पश्‍चिम, गांधीनगर, वडोदरा, सूरत, नवसारी, खेडा आदि सीटें प्रमुख हैं। कई प्रत्‍याशियों ने लोकसभा चुनाव के लिए पार्टी फंड से मिला 70 लाख रुपया भी खर्च नहीं किया। इसका पता तब चला, जब उम्‍मीदवारों ने चुनाव आयोग के समक्ष अपना खर्च पेश किया।

कांग्रेस प्रवक्‍ता मनीष दोशी के मुताबिक, पार्टी ने अपने उम्‍मीदवारों के खाते में 70-70 लाख रुपये जमा कराए हैं, कुछ प्रत्याशियों ने उससे कम खर्च किया है तो उन्‍हें पार्टी को इसका हिसाब देना होगा। उनके मुताबिक, आखिर पार्टी को भी आयोग को हिसाब देना है। अगर प्रत्‍याशी ने खुद आयोग के समक्ष कम खर्च बताया है तो बाकी रकम पार्टी को लौटानी होगी।

 

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों से जुड़ी प्रमुख जानकारियों और आंकड़ों के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.