Arvind Kejriwal Road Show In Surat: अरविंद केजरीवाल ने सूरत में किया रोड शो, विधानसभा चुनाव की संभावनाएं टटोली

दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने सूरत में किया रोड शो। फाइल फोटो

Arvind Kejriwal Road Show In Surat दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि गुजरात ही नहीं पूरा देश चकित है कि सूरत में क्या हो गया। सूरत में रोड शो के दौरान केजरीवाल का जगह-जगह स्वागत किया गया।

Sachin Kumar MishraFri, 26 Feb 2021 04:02 PM (IST)

अहमदाबाद, जागरण संवाददाता। Arvind Kejriwal Road Show In Surat: गुजरात के सूरत में शुक्रवार को अपने रोड शो के दौरान दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि गुजरात ही नहीं पूरा देश चकित है कि सूरत में क्या हो गया। सूरत के लोगों ने केजरीवाल को हाथों-हाथ लिया है। एयरपोर्ट से लेकर अतिथि गृह व बाद में वराछा आदि इलाकों में निकाले गए रोड शो में युवक-युवतियों व लोगों ने बढ़-चढ़कर हिस्सा लिया। केजरीवाल इससे पहले अपने नवनिर्वाचित पार्षदों के साथ चर्चा की तथा शहर के अन्य कई गणमान्य लोगों के साथ भी चर्चा कर आगामी विधानसभा चुनाव की संभावनाओं को टटोला। सौराष्ट्र की किसान परिवारों से संबंधित लोगों ने केजरीवाल को यहां हल भेंट करके प्रदेश के किसानों की ओर से उनका स्वागत किया।

सूरत में चुनाव से पहले दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया के रोड शो में जिस तरह का जोश व उत्साह नजर आया, उससे अधिक उत्साह केजरीवाल के रोड शो में नजर आ रहा है। केजरीवाल ने आम आदमी पार्टी के गुजरात के अध्यक्ष गोपाल इटालिया के साथ पार्टी के कई वरिष्ठ नेताओं व स्थानीय लोगों के साथ सूरत की सामाजिक आर्थिक तथा राजनीतिक स्थितियों का जायजा लिया। साथ ही, गुजरात गुजरात में आपकी आगामी रणनीति को किस तरह जमीन पर उतारना है उसके बारे में समझाया। आम आदमी पार्टी के निशाने पर गुजरात का मध्यमवर्ग तथा रोज कमा कर खाने वाला वर्ग तथा शहर के ऑटो चालक हैं। दिल्ली में आम आदमी पार्टी ने इसी मॉडल से दो बार महानगर की सत्ता को हासिल किया है। 

गुजरात में सूरत महानगर पालिका के चुनाव में आम आदमी पार्टी (आप) को मिली सफलता के बाद पार्टी संयोजक अरविंद केजरीवाल को अगले साल होने वाले गुजरात विधानसभा के चुनाव में जहां बड़ी संभावनाएं नजर आने लगी हैं। वहीं, कांग्रेस तथा भाजपा को आम आदमी पार्टी से कहीं ना कहीं डर सताने लगा है। सूरत में 120 सदस्यों वाली मनपा में आम आदमी पार्टी 27 सीट जीतकर प्रमुख विपक्षी दल बन गई है। हालांकि 93 सीट के साथ यहां भाजपा आज भी पहले से मजबूत होकर उभरी है, लेकिन आम आदमी पार्टी के चुनाव प्रचार के तरीके व युवाओं से जुड़ने और उन्हें नई तरह की राजनीति सिखाने के मॉडल से भाजपा में कांग्रेस दोनों ही खेमे परेशान हैं। वर्षों पुरानी तथा कैडर बेस पार्टी में कई परिवारों का दबदबा है जो निर्बाध रूप से आज भी जारी है, लेकिन आम आदमी पार्टी इन सब को दरकिनार कर नई तरह की लीडरशिप को तैयार करता है जो राजनीति में जमे परंपरागत परिवारों को पसंद नहीं आ रहा है। 

दिल्ली के मुख्यमंत्री तथा आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल ने अपने नवनिर्वाचित पार्षदों से दो टूक कहा कि किसी से डरने या भयभीत होने की जरूरत नहीं है। कोई आपको पैसों का लालच दे तो उसके सामने अपने आप को समर्पण नहीं करना है। शहर के नागरिकों ने आपसे जो आशा और अपेक्षा लेकर आप का चुनाव किया है उनका सुख, सुविधा तथा उनकी सुरक्षा ही आपकी प्राथमिकता होनी चाहिए।

विधानसभा चुनाव की संभावनाएं टटोली

सूरत महानगर पालिका के चुनाव में आम आदमी पार्टी को मिली सफलता के बाद पार्टी संयोजक व दिल्‍ली के मुख्‍यमंत्री अरविंद केजरीवाल को अगले साल होने वाले गुजरात विधानसभा के चुनाव में जहां बड़ी संभावनाएं नजर आने लगी है, वही कांग्रेस तथा भाजपा को आम आदमी पार्टी का डर सताने लगा है। सूरत में 120 सदस्यों वाली मनपा में आम आदमी पार्टी 27 सीट जीतकर प्रमुख विपक्षी दल बन गई है हालांकि 93 सीट के साथ यहां भाजपा आज भी पहले से मजबूत होकर उभरी है लेकिन आम आदमी पार्टी के चुनाव प्रचार के तरीके तथा युवाओं से उसके सहज जुड़ाव की रणनीति से भाजपा में कांग्रेस दोनों ही खेमे परेशान हैं।

केजरीवाल ने आम आदमी पार्टी के गुजरात के अध्यक्ष गोपाल इटालिया के साथ पार्टी के कई वरिष्ठ नेताओं तथा स्थानीय लोगों के साथ सूरत की सामाजिक आर्थिक तथा राजनीतिक स्थितियों का जायजा लिया। केजरीवाल ने कहा कि गुजरात ही नहीं पूरा देश चकित है कि सूरत में क्या हो गया। सूरत के इस रोड शो में युवक-युवतियां तथा लोगों ने बढ़ चढ़कर हिस्सा लिया। केजरीवाल अपने नवनिर्वाचित पार्षदों के साथ चर्चा की तथा शहर के अन्य कई गणमान्य लोगों के साथ भी चर्चा कर आगामी विधानसभा चुनाव की संभावनाओं को टटोला। इससे पहले केजरीवाल ने अपने नवनिर्वाचित पार्षदों से दो टूक कहा कि किसी से डरने या भयभीत होने की जरूरत नहीं है। कोई आपको पैसों का लालच दे तो उसके सामने अपने आप को समर्पण नहीं करना है।

गुजरात भाजपा के अध्यक्ष सीआर पाटिल ने कहा कि कांग्रेस की कमजोरी के कारण आम आदमी पार्टी को सूरत में सीटें हासिल हुई हैं, लेकिन कुछ समय बाद यह पार्टी समाप्‍त हो जाने वाली है।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.