top menutop menutop menu

Gujarat Weather: गुजरात में भारी बारिश का पूर्वानुमान, एनडीआरएफ की 14 टीमें तैनात

Gujarat Weather: गुजरात में भारी बारिश का पूर्वानुमान, एनडीआरएफ की 14 टीमें तैनात
Publish Date:Wed, 12 Aug 2020 09:02 PM (IST) Author: Sachin Kumar Mishra

अहमदाबाद, एएनआइ। Gujarat Weather: गुजरात में 12 अगस्त से 21 अगस्त तक भारी बारिश के पूर्वानुमान के बाद राज्य भर में राष्ट्रीय आपदा प्रतिक्रिया बल (एनडीआरएफ) की 14 टीमें तैनात की गईं हैं।गुजरात में कच्छ के भुज के कुछ हिस्सों में गत जुलाई में को भारी बारिश से जलभराव हो गया था। बारिश के कारण जगह-जगह पानी भर जाने के कारण लोगों को आने-जाने में परेशानी हुई। गुजरात में पिछले कई दिनों से भारी बारिश का दौर जारी है। सौ से अधिक तहसीलों में पांच से 300 मिमि बारिश रिकार्ड की गई है। कच्‍छ, द्रवारिका, जामनगर, जूनागढ़ व पोरबंदर में जगह-जगह पानी भरने से रास्‍ते जाम हो गए व गांव-शहर टापू बने गए।

राज्‍य में कपास, तिलहन की बड़े पैमाने पर बुवाई की गई है, 18 लाख हेक्टेयर में कपास तथा 7 लाख हेक्‍टेयर में तिलहन की फसलों की बुवाई हो चुकी है। इधर, गांधीनगर में मंत्रिमंडल की बैठक के बाद कृषि मंत्री आरसी फलदू ने बताया कि राज्‍य में अच्‍छी बारिश हुई है, जिसके चलते अब तक 57 फीसद क्षेत्र में किसानों ने बुवाई की है। राज्‍य में इस बार किसानों ने कपास व मूंगफली की बंपर बुवाई की है। 18 लाख 25000 हेक्‍टेयर में कपास की बुवाई की गई, जबकि सात लाख हेक्‍टेयर से अधिक पर मूंगफली व तिलहन फसलों की बुवाई की गई। इसके अलावा अन्‍य फसलें भी बोई गई हैं। उन्‍होंने बताया कि भारी बारिश के चलते सात जिलों में 90 रास्‍ते बंद हुए हैं, जबकि 12 राज्‍य के मार्ग भी अवरुद्ध हुए हैं।

देवभूमि द्वारिका के खंभालिया में 299 मिमि, कल्‍याणपुर में 285 मिमि, द्रवारिका में 229 मिमि तथा भानवड में 208 मिमि बारिश दर्ज की गई। कच्‍छ के मांडवी व मुद्रा तहसील में 183 व 181 मिमि बारिश हुई। जामनगर के जामजोधपुर में 179 मिमि, कच्‍छ के नखत्राणा, जूनागढ़ के माणावदर, लालपुर, पोरबंदर व जूनागढ़ के वंथली में सौ से डेढ़ सौ मिमि बारिश दर्ज की गई। राज्‍य में सबसे कम कच्‍छ के भचाऊ, साबरकांठा के इैडर, सुरेंद्रनगर के थानगढ़, मोरबी का मालिया मियाणा, वडोदरा के वाघोडिया, भरुच के वागरा, नर्मदा के नांदोद, साबरकांठा के तलोद, छोटा उदेपुर का संखेडा, नर्मदा का तिलकवाडा, तापीका वालोद, बनासकांठा के पालनुपर, मेहसाणा, साबरकांठा के प्रांतिजमें 5 से 7 मिमि बारिश दर्ज की गई थी।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.