Gujarat Government Five Year: गुजरात सरकार के पांच साल पूरे होने पर भाजपा मनाएगी उत्सव, कांग्रेस करेगी विरोध

Gujarat Government Five Year गुजरात सरकार ने सामाजिक व राजनीतिक कार्यक्रमों में चार सौ लोगों के शामिल होने की छूट दी है जिस पर अब विपक्ष शक जता रहा है। कांग्रेस ने कहा कि राज्‍य सरकार प्रदेश भाजपा कार्यालय श्रीकमलम से आने वाले फतवों को प्रदेश पर लागू करती है।

Sachin Kumar MishraFri, 30 Jul 2021 06:21 PM (IST)
गुजरात सरकार के पांच साल पर विरोध अभियान चलाएगी कांग्रेस। फाइल फोटो

अहमदाबाद, जागरण संवाददाता। गुजरात में मुख्‍यमंत्री विजय रूपाणी की अगुवाई वाली सरकार के पांच साल पूरे होने पर जहां सरकार व संगठन उत्‍सव मनाने की तैयारी कर रहे हैं, वहीं नेता विपक्ष परेश धनाणी ने कोरोना की नई गाइडलाइन को दोषपूर्ण बताते हुए सरकार पर भाजपा कार्यालय से आने वाले फतवों को लागू करने का आरोप लगाया है। सरकार ने विवाह में 150 लोगों की छूट दी है, जबकि सामाजिक व राजनतिक कार्यक्रमों में चार सौ लोगों के शामिल होने की छूट दी है। भाजपा प्रवक्‍ता ने कांग्रेस पर नकारात्‍मक राजनीति का आरोप लगाया है।गुजरात सरकार की ओर से जारी नई गाइडलाइन 31 जुलाई से लागू होगी, जिसमें रात्रि कर्फ्यू को रात 10 के बजाए 11 बजे से सुबह छह तक लागू किया है।

एक से नौ अगस्त तक उत्सव मनाएगी गुजरात सरकार

गुजरात सरकार ने सामाजिक व राजनीतिक कार्यक्रमों में चार सौ लोगों के शामिल होने की छूट दी है, जिस पर अब विपक्ष शक जता रहा है। प्रदेश कांग्रेस अध्‍यक्ष अमित चावड़ा व नेता विपक्ष परेश धनाणी ने कहा कि राज्‍य सरकार प्रदेश भाजपा कार्यालय श्रीकमलम से आने वाले फतवों को प्रदेश पर लागू करती है। सरकार कोरोना महामारी में भी दोहरा रवैया अपना रही है। विवाह में अगर 150 लोगों के शामिल होने की मंजूरी दी है तो राजनीतिक व सामाजिक कार्यक्रमों में चार सौ लोगों की छूट क्‍यों दी गई है। दरअसल, रूपाणी सरकार के पांच साल पूरे होने पर सरकार व भाजपा एक से नौ अगस्‍त तक राज्‍यभर में उत्‍सव मनाएगी, जिसमें मुख्‍यमयंत्री, मंत्री, प्रदेश भाजपा अध्‍यक्ष, सांसद, भाजपा विधायक आदि शामिल होंगे। इस दौरान पीएम नरेंद्र मोदी और गृहमंत्री अमित शाह वर्चुअली शामिल होंगे। 

एक से नौ अगस्त कर विरोध अभियान चलाएगी कांग्रेस

कांग्रेस ने सरकार के पांच साल को युवा, गरीब व महिला विरोधी बताते हुए एक से नौ अगस्‍त तक इसके समानांतर विरोध अभियान चलाने का एलान किया है। सरकार जहां संवेदनशील, बेहतर शिक्षा, रोजगार दिवस, किसान दिवस, विकास दिवस आदि मनाएगी, वहीं कांग्रेस ने शिक्षा बचाओ, स्‍वास्थ्य बचाओ, बेटी बचाओ, किसान बचाओ, विकास किसका, विकास खोजो, जनअधिकार अभियान के नाम से विरोध में कार्यक्रमों का आयोजन करेगी। गुजरात में अगले साल विधानसभा चुनाव होने हैं। अंतरविरोधों में उलझी गुजरात कांग्रेस सरकार के विरोध के नाम पर अपनी उपस्थिति दर्ज कराने का प्रयास कर रही है।

यमल व्यास बोले, नकारात्मक कार्य करती है कांग्रेस

इस बीच, प्रदेश भाजपा के मुख्‍य प्रवक्‍ता यमल व्‍यास का कहना है कि कांग्रेस हमेशा नकारात्‍मक कार्य करती आई है, जब भी भाजपा सरकार कोई अच्‍छा कार्य करते हैं तो कांग्रेस हताशा में उसका अंधविरोध करने निकल पड़ती है। कोरोना महामारी में जब जनता को मदद की जरूरत थी, तब भाजपा कार्यकर्ता उनकी सहायता के लिए बाहर आए, लेकिन कांग्रेस नेता व कार्यकर्ता कहीं नजर भी नहीं आए। 

गुजरात में खुले स्कूल

गुजरात में कक्षा 12वीं के छात्र-छात्राओं के लिए नौ जुलाई से ही स्‍कूल खोल दिए गए, जबकि कक्षा नौ से 11वीं के विद्यार्थियों के लिए 26 जुलाई से स्‍कूल खोले गए। कोरोना महामारी के दिशानिर्देशों का पालन करते हुए ऑफलाइन कक्षाएं 50 प्रतिशत उपस्थिति के साथ शुरू की जा रही हैं। विद्यार्थियों के लिए स्‍कूल आने को ऐच्छिक रखाा गया है। अभिभावकों के सहमति पत्र के बाद ही छात्र छात्राओं को कक्षा में हाजिर होने दिया जा रहा है। सरकार ने ऑनलाइन पढ़ाई भी जारी रखने के निर्देश दिए हैं। साथ ही, शिक्षामंत्री भूपेंद्र सिंह चूडास्‍मा ने कहा कि उच्‍च प्राथमिक की कक्षाओं को भी खोले जाने पर विचार किया जा रहा है। कोर कमेटी की बैठक में चर्चा करने के बाद इस पर फैसला होगा।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.