साबरमती रिवर फ्रंट पर युवकों से अभद्र व्‍यवहार का मामला: एआईएमआईएम पुलिस आयुक्त को सौंपेगी ज्ञापन

साबरमती रिवर फ्रंट पर बैठे युवकों से शुक्रवार को हुए अभद्र व्‍यवहार मामले में एआईएमआईएम पुलिस आयुक्त को ज्ञापन सौंपेगी। पठान एआईएमआईएम के कार्यकर्ताओं के साथ शनिवार को अहमदाबाद के पुलिस आयुक्त संजय श्रीवास्तव से मुलाकात करेंगे तथा इस घटना की निष्पक्ष जांच की मांग करेंगे।

Babita KashyapSat, 20 Nov 2021 11:40 AM (IST)
साबरमती रिवर फ्रंट पर युवकों से अभद्र व्‍यवहार का मामला

अहमदाबाद, जागरण संवाददाता। साबरमती रिवर फ्रंट पर बैठे युवकों से नाम पूछ कर उनके साथ अभद्र व्यवहार करने एवं चाकू मारकर घायल करने के मामले में एआईएमआईएम पुलिस आयुक्त को ज्ञापन देगी। घायल युवक नौशाद एवं रूहान है जबकि हमला करने का आरोप विश्व हिंदू परिषद के कार्यकर्ताओं पर लग रहा है। गत शुक्रवार को साबरमती रिवर फंड के एक किनारे पर कुछ युवक बैठे हुए थे। युवकों का एक समूह वहां पहुंचा तथा उन्होंने एक-एक करके उनसे नाम पूछा। दो युवकों ने अपना नाम नौशाद गया रुहान बताया इस पर आरोपी युवक उग्र हो गए तथा गाली देते हुए उनसे कहने लगे कि यहां आने की हिम्मत कैसे हुई। एआईएमआईएम अहमदाबाद के अध्यक्ष शमशाद पठान ने इस घटना पर संज्ञान लेते हुए तुरंत अस्पताल पहुंचकर घायलों का हालचाल पूछा।

पठान एआईएमआईएम के कार्यकर्ताओं के साथ शनिवार को अहमदाबाद के पुलिस आयुक्त संजय श्रीवास्तव से मुलाकात करेंगे तथा इस घटना की निष्पक्ष जांच की मांग करेंगे। पठान का आरोप है कि अहमदाबाद में नाम पूछ कर छह लड़कों में से दो लड़कों पर चाकू से हमला किया गया। अहमदाबाद AIMIM के शहर प्रमुख एडवोकेट शमशाद पठान और अहमदाबाद शहर युवा प्रमुख शीबू भाई ने रिवरफ्रंट पर हुए हमले के पीड़ितों के साथ मुलाकात की। वहां पर पीड़ित रोहन और नौशाद ने बताया कि जब वह अहमदाबाद के रिवरफ्रंट पर अपने दोस्तों के साथ बैठे हुए थे तभी छह असामाजिक तत्व वहां आये, उन्होंने जब यह जाना कि इनके नाम रोहन और नौशाद है तो उन असामाजिक तत्वों ने गाली दे कर कहा कि तुम लोग यहां क्यों बैठे हो? ऐसा कहते हुए चाकू से रोहन और नौशाद पर हमला कर दिया। जिसके बाद सिविल अस्पताल ने रोहन को आउटडोर इलाज कर के घर भेज दिया जबकि नौशाद को गंभीर जानलेवा जख्म होने की वजह से अस्पताल में ICU में एडमिट कर लिया गया लेकिन फिर भी FIR में IPC की कलम 307 नही लिखी गई है।

AIMIM शनिवार को गुजरात DGP आशीष भाटिया, अहमदाबाद पुलिस कमिश्नर श्रीवास्तव को इस मामले को लेकर अवगत कराएगी और मांग करेगी कि FIR में जरूरी कलम लगाई जाए। इस मुलाकात में AIMIM शहर प्रमुख और युवा प्रमुख के साथ पदाधिकारी और कार्यकर्ता शामिल होंगे। अहमदाबाद में इस तरह की यह पहली घटना है जिसको लेकर प्रबुद्ध वर्ग में भी चिंता है।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.