Bhupendra Patel: हाथ में श्रीमद्‍भगवद्‍गीता रखकर भूपेंद्र पटेल ने ली शपथ, नई टीम पर सबकी निगाहें

Bhupendra Patel गुजरात के मुख्यमंत्री भूपेंद्र पटेल राजभवन में शपथ लेने के बाद सीधे स्‍वर्णिम संकुल-एक पहुंचे। यहां उन्होंने अपने कार्यालय में पदभार ग्रहण करने से पहले दादा भगवान सीमंधर स्वामी की प्रतिमा को पुष्प अर्पित किए तथा दादा भगवान के अनुयायियों व परिजनों के साथ स्तु‍तिगान व पाठ किए।

Sachin Kumar MishraMon, 13 Sep 2021 08:21 PM (IST)
हाथ में श्रीमद्‍भगवद्‍गीता रखकर भूपेंद्र पटेल ने गुजरात के सीएम पद की ली शपथ। फाइल फोटो

अहमदाबाद, जागरण संवाददाता। भूपेंद्र पटेल ने सोमवार को हाथ में श्रीमद् भगवद् गीता रखकर गुजरात के 17वें मुख्यमंत्री के रूप में शपथ ली। मुख्यमंत्री भूपेंद्र पटेल राजभवन में शपथ लेने के बाद सीधे स्‍वर्णिम संकुल-एक पहुंचे। यहां उन्होंने अपने कार्यालय में पदभार ग्रहण करने से पहले दादा भगवान सीमंधर स्वामी की प्रतिमा को पुष्प अर्पित किए तथा दादा भगवान के अनुयायियों व परिजनों के साथ स्तु‍तिगान व पाठ किए। भूपेंद्र भाई दादा भगवान फाउंडेशन से जुड़े हैं तथा पाटीदारों की संस्था विश्व उमिया फाउंडेशन व सरदार धाम में ट्रस्टी भी हैं। रविवार को भी भूपेंद्र पटेल राजभवन में सरकार बनाने का प्रस्‍ताव पेश करने के बाद सीधे गुजरात की अध्‍यात्मिक संस्‍था दादा भगवान फाउंडेशन पहुंचे थे। यहां उन्‍होंने दादा भगवान की प्रतिमा के समक्ष नतमस्‍तक हुए तथा नीरू मां के उत्‍तराधिकारी पूज्‍य दीपक भाई का आशीर्वाद लिया। भूपेंद्र भाई वर्षों से इस अध्‍यात्मिक संस्‍था से जुड़े हैं। देश व दुनिया में इसके कई सत्‍संंग केंद्र हैं। गुजरात में सामाजिक, धार्मिक, सांस्कृतिक समारोह के साथ जरूरतमंदों के लिए शिक्षा, स्‍वास्‍थ्‍य व आवास सुविधाएं भी उपलब्‍ध कराते हैं। दुनिया में दादा भगवान के लाखों श्रद्धालु हैं। इसकी स्‍थापना सूरत के अंबालाल पटेल ने की, जो दादा भगवान के रूप में प्रचारित हुए। आत्‍मज्ञान के जरिए जीवन को सरल व सुखी बनाने का प्रचार ही इनका प्रमुख ध्‍येय है। 

नई टीम पर सबकी निगाहें

मुख्‍यमंत्री भूपेंद्र पटेल की अगुवाई में मंगलवार को गांधीनगर मुख्‍यमंत्री आवास पर प्रदेश भाजपा संसदीय बोर्ड की बैठक होगी। गुजरात विधानसभा अध्‍यक्ष राजेंद्र त्रिवेदी को मंत्रिमंडल में शामिल किए जाने की चर्चा है, जबकि राज्य के शिक्षा व कानून मंत्री भूपेंद्र सिंह चूडासमा को विधानसभा अध्‍यक्ष बनाने की अटकलें हैं। बैठक में नई सरकार के मंत्रिमंडल पर मंथन होगा। परिणाम नहीं देने वाले कुछ मंत्रियों को सरकार के बजाये संगठन में ले जाया जाएगा। नए मंत्रिमंडल में अन्‍य पिछडा वर्ग व अनुसूचित जाति के नेताओं को खास तवज्‍जो मिल सकती है। वित्‍त मंत्रालय काबिना मंत्री सौरभ पटेल को दिया जा सकता है, जबकि गृह राज्‍यमंत्री प्रदीप सिंह जाडेजा को कैबिनेट रेंक मिलने की संभावना है।

राज्यपाल आचार्य देवव्रत ने उन्हें शपथ दिलाई। उनके मंत्रिमंडल का गठन बुधवार तक होगा। भूपेंद्र पटेल की नई टीम पर सबकी निगाहें टिकी हैं। उधर, कई वरिष्ठ मंत्रियों को संगठन में भेजे जाने की संभावना है। भाजपा उनके अनुभव व लोकप्रियता का लाभ अगले विधानसभा चुनाव में उठाना चाहती है। मुख्यमंत्री ने सोमवार को अकेले शपथ ली है, जबकि उनके मंत्रिमंडल का गठन आगामी बुधवार तक होने की संभावना है। भाजपा में अब मंत्रिपद के लिए लाबिंग शुरू हो गई है। चुनावी साल में जातिगत व रणनीतिक समीकरण बिठाने में मुख्यमंत्री की परीक्षा होगी। राज्ये में अगले साल विधानसभा चुनाव होने हैं, ऐसे में पूर्व मुख्यमंत्री विजय रूपाणी, नितिन पटेल, राजस्वभ मंत्री कौशिक पटेल, शिक्षामंत्री भूपेंद्र चूडास्मा सहित कई वरिष्ठ मंत्रियों को भाजपा के लिए जमीन तैयार करने के काम में लगाया जा सकता है। पार्टी उनकी लोकप्रियता व अनुभव का लाभ आगामी विधानसभा चुनाव में लेना चाहती है, ताकि वर्ष 1995 से गुजरात की सत्ता में काबिज भाजपा फिर भारी बहुमत के साथ सत्ता में लौट सके। भूपेंद्र पटेल राज्य के पांचवें पाटीदार मुख्यमंत्री हैं। पहली बार मूल अहमदाबाद से मुख्यमंत्री बनने का रिकार्ड भी उनके नाम दर्ज हुआ है। शपथ ग्रहण से पहले वे विजय रूपाणी व नितिन पटेल से मिलने उनके आवास पहुंचे तथा उनके साथ चाय पी। भूपेंद्र पटेल को विधायक दल का नेता चुने जाने के बाद नितिन पटेल नाराज होकर मेहसाणा चले गए थे तथा उनके साथ राजभवन में नई सरकार के प्रस्तारव पेश करने के दौरान उनके साथ नहीं गए थे, लेकिन चाय पर चर्चा के बाद अब सब कुछ ठीक हो गया है। नितिन पटेल ने विवाद का ठीकरा भी मीडिया के सिर फोड़ते हुए कहा कि अब मंत्रिमंडल को लेकर विवाद खड़े करोगे, यह तो आप लोगों का व्यापार है।

बाढ़ में फंसे लोगों को सुरक्षित स्थलों पर पहुंचाने के दिए निर्देश

मुख्यमंत्री का पदभार संभालते ही भूपेंद्र पटेल ने जामनगर व राजकोट में भारी बारिश के चलते उत्पन्न बाढ़ की स्थिति की समीक्षा के लिए एक उच्च स्तरीय बैठक की। जिला कलक्टर से फोन पर बात की तथा राहत व बचाव कार्यों की जानकारी लेने के साथ बाढ़ में फंसे लोगों को एनडीआरएफ की मदद से सुरक्षित स्थलों पर पहुंचाने के निर्देश दिए।

नरेंद्र मोदी, अमित शाहआनंदीबेन पटेल का आभार जताया

भूपेंद्र पटेल ने 2017 में अपना पहला चुनाव घाटलोडिया सीट से करीब सवा लाख मतों के अंतर से जीता। घाटलोडिया, उत्तर प्रदेश की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल की परंपरागत सीट घाटलोडिया जो केंद्रीय मंत्री अमित शाह के संसदीय गांधीनगर में आती हैं। पटेल ने अपनी पहली ही प्रेस कांफ्रेंस प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह, भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा, उप्र की राज्‍यपाल आनंदीबेन पटेल का आभार जताते हुए कहा  कि वे उनका व जनता का विश्वाास नहीं टूटने देंगे।

गृहमंत्री अमित शाह व चार राज्‍यों के सीएम रहे मौजूद

केंद्रीय गृह व सहकारिता मंत्री अमित शाह, गुजरात विधानसभा अध्येक्ष राजेंद्र त्रिवेदी, पूर्व मुख्यंमंत्री विजय रूपाणी, भाजपा शासित चार राज्यों के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान मध्य प्रदेश, मनोहरलाल खट्टर हरियाणा, बसवराज बोम्मई कर्नाटक, प्रमोद सावंत गोवा उपस्थित रहे। भाजपा के केंद्रीय पर्यवेक्षक व केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर, केंद्रीय मंत्री प्रहलाद जोशी व गुजरात के प्रभारी रहे केंद्रीय मंत्री भूपेंद्र यादव, केंद्रीय मंत्री पुरुसोत्तरम रूपाला, केंद्रीय मंत्री मनसुख मांडविया, पूर्व उपमुख्यमंत्री नितिन पटेल सहित भाजपा के कई दिग्‍गज नेता शपथ ग्रहण में मौजूद रहे। 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.