Vijay Rupani: सीएम पद से इस्तीफे के बाद विजय रूपाणी ने नई ऊर्जा के साथ काम करने की इच्छा जताई

Gujarat विजय रूपाणी ने शनिवार को कहा कि मुख्यमंत्री के रूप में मिले दायित्व का निर्वहन करने बाद अब मैंने मुख्यमंत्री पद से त्यागपत्र देकर पार्टी के संगठन में नई ऊर्जा के साथ काम करने की इच्छा जताई है।

Sachin Kumar MishraSat, 11 Sep 2021 05:20 PM (IST)
सीएम पद के इस्तीफे के बाद विजय रूपाणी ने नई ऊर्जा के साथ काम करने की इच्छा जताई। फाइल फोटो

अहमदाबाद, जागरण संवाददाता। गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने शनिवार को इस्तीफा देने के बाद कहा कि वे खुशी से इस्तीफा दे रहे हैं। रूपाणी ने कहा कि मैं भारतीय जनता पार्टी के प्रति आभार व्यक्त करता हूं, मेरे जैसे एक पार्टी कार्यकर्ता को गुजरात के मुख्यमंत्री पद की महत्वपूर्ण जिम्मेदारी दी। मुख्यमंत्री के रूप में मिले इस दायित्व को निभाते हुए मेरे कार्यकाल के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र भाई मोदी का विशेष मार्गदर्शन मिलता रहा है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व व मार्गदर्शन में गुजरात समग्र विकास तथा सर्वजन कल्याण के पथ पर आगे बढ़ते हुए नए आयामों को छुआ है। गुजरात के विकास की यात्रा में गत पांच वर्षों में मुझे भी योगदान करने का जो अवसर मिला, उस के लिए प्रधानमंत्री का आभार प्रगट करता हूं। मेरा मानना है कि अब गुजरात के विकास की यह यात्रा प्रधानमंत्री के नेतृत्व में एक नए उत्साह व नई ऊर्जा के साथ नए नेतृत्व में आगे बढ़नी चाहिए। यह ध्यान रखकर मैंने गुजरात के मुख्यमंत्री पद के दायित्व से त्यागपत्र दे रहा हूं।

विजय रूपाणी ने कहा, पीएम मोदी के मार्गदर्शन में काम करूंगा

संगठन व विचारधारा आधारित दल होने के नाते भारतीय जनता पार्टी की यह परंपरा है कि समय के साथ-साथ कार्यकर्ताओं के दायित्व भी बदलते रहे हैं। यह हमारी पार्टी की विशेषता है कि जो दायित्व पार्टी द्वारा दिया जाता है, पूरे मनोयोग से पार्टी कार्यकर्ता उसका निर्वहन करते हैं। मुख्यमंत्री के रूप में मिले दायित्व का निर्वहन करने बाद अब मैंने मुख्यमंत्री पद से त्यागपत्र देकर पार्टी के संगठन में नई ऊर्जा के साथ काम करने की इच्छा जताई है। अब मुझे पार्टी द्वारा जो भी जवाबदारी दी जाएगी, उसका मैं  संपूर्ण दायित्व और नई ऊर्जा के साथ प्रधानमंत्री के नेतृत्व व माननीय राष्ट्रीय अध्यक्ष के मार्गदर्शन में काम करूंगा। मैं गुजरात की जनता के प्रति भी आभार व्यक्त करता हूं कि विगत पांच वर्षों में हुए उपचुनाव हों या स्थानीय निकाय के चुनाव हों, पार्टी और सरकार को गुजरात की जनता का अभूतपूर्व समर्थन, सहयोग और विश्वास मिला है। गुजरात की जनता का विश्वास भारतीय जनता पार्टी की ताकत भी बनी है और मेरे लिए लगातार जनहित में काम करते रहने की ऊर्जा भी रही है।

मेरे त्यागपत्र से गुजरात में पार्टी के नए नेतृत्व को अवसर मिलेगाः विजय रूपाणी

हमारी सरकार ने प्रशासन के चार आधार भूत सिद्धांतों पारदर्शिता, विकासशीलता, संवेदनशीलता व निर्णायकता के आधार पर जनता की सेवा करने का यथाशक्ति  प्रयत्न किया है। इस कार्य में मंत्रिमंडल के सभी सदस्यों, विधानसभा के सभी सदस्यों, पार्टी कार्यकर्ताओं व जनता का संपूर्ण सहयोग मिला है। मैं सभी का इस सहयोग के लिए आभार व्यक्त करता हूं। कोरोना के कठिन समय में हमारी सरकार ने दिन-रात अथक मेहनत कर गुजरात की जनता को यथासंभव सुरक्षित रखने का प्रयत्न किया है। साथ ही, टीका करण के काम में भी गुजरात अग्रसर रहा है और हमने इसमे बहुत सारे नए कीर्तिमान स्थापित किया है। जिसका मुझे बहुत संतोष है। पार्टी के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष व केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह से मुझे प्रशासनिक विषयों में नए अनुभवों को जानने-समझने का अवसर मिला है तथा  पार्टी के कामकाज में भी उनका सहकार व सहयोग मेरे लिए अमूल्य है। भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा का सहयोग व मार्गदर्शन भी मेरे लिए अटूट रहा है। मेरे त्यागपत्र से गुजरात में पार्टी के नए नेतृत्व को अवसर मिलेगा तथा हम सब एकजुट होकर प्रधानमंत्री के नेतृत्व में गुजरात की इस विकास यात्रा को नई ऊर्जा, नए उत्साह, नए नेतृत्व के साथ आगे लेकर जाएंगे। 

गुजरात भाजपा को सभी विधायकों को गांधीनगर बुलाया गया

गुजरात भाजपा के सभी विधायकों को गांधीनगर बुला लिया गया है। शनिवार देर रात तक नए मुख्यमंत्री का नाम तय होने की संभावना है। शनिवार को ही भाजपा विधायक दल की बैठक होने की भी संभावना है। केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह दो दिन पहले ही गुजरात के दौरे पर आए थे। उस दौरान प्रदेश के कुछ नेताओं से उन्होंने फीडबैक लिया। प्रदेश कार्यकारिणी की बैठक तथा शाह के फीडबैक के बाद ही पार्टी ने मुख्यमंत्री का चेहरा बदलने का यह फैसला किया। मुख्यमंत्री के लिए वर्तमान उपमुख्यमंत्री नितिन पटेल तथा केंद्रीय मंत्री परसोत्तम रुपाला का नाम सबसे अधिक चर्चा में है। ओबीसी समुदाय को साधने के लिए उप मुख्यमंत्री का पद ओबीसी नेता को सौंपा जा सकता है। रूपाणी के इस्तीफा देते ही उप मुख्यमंत्री नितिन पटेल भावी मुख्यमंत्री के रूप में ट्विटर पर ट्रेंड हो रहे हैं। गुजरात की कमान किसी पाटीदार नेता के ही हाथ में होगी ,यह लगभग तय माना जा रहा है। बीते कुछ दिनों में गुजरात में चले राजनीतिक घटनाक्रम के तहत पाटीदार समाज मुख्यमंत्री पद पर दावेदारी जता रहा था। हाल ही केवड़िया में हुई प्रदेश कार्यकारिणी की बैठक में नेताओं से विधानसभा चुनाव के नेतृत्व को लेकर जब सवाल किया गया तो अधिकांश नेताओं ने रूपाणी के नेतृत्व में चुनाव में जीत पर शंका जताई, जिसके चलते भाजपा आलाकमान अब नए चेहरे के नेतृत्व में चुनाव लड़ेगा।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.