मेसी की पेनाल्टी किक ने दिलाई बार्सिलोना को जीत, यल वालाडोलिड को 1-0 से हराया

मैड्रिड, एएफपी। स्टार स्ट्राइकर लियोन मेसी द्वारा पेनाल्टी किक पर लगाए गए गोल की मदद से स्पेनिश फुटबॉल लीग ला लीगा में बार्सिलोना ने रीयल वालाडोलिड को 1-0 से हरा दिया। बार्सिलोना के घरेलू मैदान कैंप नाउ में इस मुकाबले में मेसी ने पेनाल्टी किक को गोल में तब्दील किया, लेकिन एक अन्य पेनाल्टी किक को वह गोल में पहुंचाने से चूक गए।

जांघ में खिंचाव की परेशानी से पिछले सप्ताह दो-चार होने वाले मेसी की फिटनेस इस मुकाबले में भी सुर्खियों में रही, लेकिन उन्होंने मैदान पर पूरे 90 मिनट का समय बिताया। खेल के 43वें मिनट में उन्होंने पेनाल्टी किक के जरिये गोल करके लगातार 11वें सत्र में 30 गोल करने का कमाल किया। बार्सिलोना के जेरार्ड पिक को वालाडोलिड के मिडफील्डर मिचेल ने गिराया, जिसकी वजह से स्पेनिश चैंपियन को पेनाल्टी किक मिली। हालांकि, इसके बाद दूसरे हाफ में मेसी की पेनाल्टी किक को वालाडोविड के गोलकीपर जॉर्डी मासिप ने बचाव करके बार्सिलोना की दोहरी बढ़त लेने की उम्मीदों पर पानी फेर दिया। अंक तालिका में 54 अंकों के साथ बार्सिलोना शीर्ष पर है।

ला लीगा में अपना 300वां मुकाबला खेलने वाले बार्सिलोना के स्टार जेरार्ड पिक ने कहा कि हम अच्छा नहीं खेल पाए। यह एक अच्छा मुकाबला नहीं था। इस मुकाबले में हमारे लिए इकलौती चीज अच्छी यह रही कि हम जीत गए।

ग्रीजमैन ने टॉरेस को पछाड़ा : ला लीगा में दूसरे हाफ में एंटोनी ग्रीजमैन (74वें मिनट) द्वारा किए गए इकलौते गोल की दम पर एटलेटिको मैड्रिड ने रायो वालेकानो को 1-0 से हरा दिया। इस गोल के साथ ही ग्रीजमैन ने क्लब के दिग्गज खिलाड़ी फर्नाडो टॉरेस को पछाड़कर अपने गोल की संख्या 130 पहुंचा दी। वह एटलेटिको की ओर से पांचवें सर्वाधिक गोल करने वाले खिलाड़ी बन गए हैं जिन्होंने पिछले 11 मुकाबलों में 10वां गोल दागे। टॉरेस अब जापान में सागान टोसु के लिए खेलते हैं। इस जीत के साथ एटलेटिको ने क्रिस्टियानो रोनाल्डो की टीम जुवेंटस के खिलाफ चैंपियंस लीग में होने वाले मुकाबले से पहले अपनी तैयारियों को पूरा किया। इससे पहले एटलेटिको को लगातार दो मुकाबलों में रीयल मैड्रिड और रीयल बेटिस से शिकस्त मिली थी।

बुंडिशलीगा में गोल करने वाले सबसे बुजुर्ग खिलाड़ी बने पिजारो

बर्लिन, एएफपी : क्लॉडियो पिजारो जर्मन फुटबॉल लीग बुंडिशलीगा में गोल करने वाले सबसे बुजुर्ग खिलाड़ी बन गए हैं। 40 साल और 136 दिन की उम्र में पिजारो ने हेर्था बर्लिन की ओर से खेलते हुए विडेर ब्रिमेन के खिलाफ इंजुरी टाइम में गोल किया, जिसकी वजह से उनकी टीम ने 1-1 से ड्रॉ खेला। पेरू के इस स्ट्राइकर ने वुंडिशलीगा में मुकाबले की आखिरी लम्हों में बेहद दिलचस्प गोल करके इस लीग में अपने गोल की संख्या 195 पहुंचा दी। वह खेल के 61वें मिनट में स्थानापन्न के तौर पर मैदान में उतरे थे। इस खास उपलब्धि को हासिल करने के बाद पिजोरा ने कहा कि मैं बेहद खुश हूं। यह अंक हमें मदद करेगा और स्कोर करके मैं बेहद गौरवांवित महसूस कर रहा हूं। पिजारो चेल्सी, बायर्न म्यूनिख और कोलोग्ने जैसे नामी क्लबों के साथ खेल चुके हैं।

एफए कप के क्वार्टर फाइनल में पहुंचा सिटी

लंदन, एएफपी : मैनचेस्टर सिटी ने न्यूपोर्ट काउंटी को 4-1 से हराकर एफए कप के क्वार्टर फाइनल में जगह बना ली। सिटी की ओर से लेरॉय साने और रियाद महारेज ने एक-एक गोल किए, जबकि फिल फोडेन ने दो गोल दागे। पहले हाफ में बेहतरीन खेल दिखाने वाली न्यूपोर्ट की ओर से पैड्रेग अमोंड ने इकलौता गोल दागा।

 

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.