top menutop menutop menu

कतर के खिलाफ जीत का वादा करना आत्मघाती होगा : स्टिमक

नई दिल्ली, पीटीआइ। भारतीय फुटबॉल टीम फीफा विश्व कप फुटबॉल 2022 की दौड से बेशक बाहर हो चुकी है लेकिन एशिया कप 2023 में जगह बनाने का मौका उसके पास बना हुआ है। टीम विश्व कप क्वालीफायर के बाकी बचे मुकाबलों में वह अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन देना चाहेगी। क्वालीफायर में कतर के खिलाफ खेले गए पिछले मुकाबले को बराबरी पर खत्म करने के टीम का उत्साह बढ़ा हुआ है। 

कतर के साथ खेला गया ड्रॉ भारतीय फुटबॉल टीम का पिछले एक साल में सर्वश्रेष्ठ नतीजों में से एक है, लेकिन कोच इगोर स्टिमक दूसरे चरण के मैच में जीत का वादा करके अपने खिलाड़ियों पर दबाव नहीं बनाना चाहते। उनका मानना है कि टीम को पिछले प्रदर्शन से प्रेरणा लेकर और बेहतर करने का प्रयास करना चाहिए।

दुती चंद ने किया समलैंगिकता का समर्थन, बोलीं- किसी से प्यार किया है तो फिर डरो मत

भारत आठ अक्टूबर को भुवनेश्वर में कतर के खिलाफ खेलेगा, जबकि 12 नवंबर को बांग्लादेश से उसी की सरजमीं पर भिड़ेगा। टीम को अफगानिस्तान के खिलाफ कोलकाता में 17 नवंबर को खेलना है। भारत विश्व कप 2022 की दौड़ से पहले ही बाहर हो चुका है, लेकिन अब भी 2023 एशिया कप में जगह बनाने की दौड़ में बना हुआ है क्योंकि यह संयुक्त क्वालीफिकेशन अभियान है।

स्टिमक ने कहा कि निश्चित तौर पर हम पिच पर मैच हारने के लिए नहीं उतरेंगे लेकिन एशियाई चैंपियन और कतर जैसी शानदार टीम के खिलाफ जीत का वादा करना आत्मघाती होगा। हम नई सम्मानित टीम तैयार करने की प्रक्रिया में हैं और मैं प्रयास करूंगा कि युवा खिलाड़ियों पर अतिरिक्त दबाव डालने से बचा जाए जिससे कि वे फुटबॉल का लुत्फ उठा पाएं और भविष्य के लिए अनुभव हासिल कर सकें।

ये भी पढ़ें: एशियन कप 2017 की दावेदारी में भारत भी, रोनाल्डो के गोल से जुवेंटस ने जेनोआ को हराया

 

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.