फुटबाल के इनसाइक्लोपीडिया नोवी कपाड़िया का निधन, सुनील छेत्री ने जताया दुख

भारतीय फुटबाल का इनसाइक्लोपीडिया कहे जाने वाले मशहूर कमेंटेटर Novi Kapadia का निधन हो गया है। 67 साल की उम्र में नोवी कपाड़िया ने इस दुनिया को अलविदा कहा है। वे लंबे समय से बीमार चल रहे थे और दो महीने से वेंटीलेटर पर थे।

Vikash GaurPublish:Fri, 19 Nov 2021 08:53 AM (IST) Updated:Fri, 19 Nov 2021 08:53 AM (IST)
फुटबाल के इनसाइक्लोपीडिया नोवी कपाड़िया का निधन, सुनील छेत्री ने जताया दुख
फुटबाल के इनसाइक्लोपीडिया नोवी कपाड़िया का निधन, सुनील छेत्री ने जताया दुख

नई दिल्ली, पीटीआइ। भारतीय फुटबाल का “इनसाइक्लोपीडिया' कहे जाने वाले मशहूर कमेंटेटर और दिल्‍ली विश्वविद्यालय के पूर्व प्रोफेसर नोवी कपाड़िया का लंबी बीमारी के बाद गुरुवार को यहां निधन हो गया। वह 67 वर्ष के थे। कपाड़िया अविवाहित थे और उनकी बहन की मृत्यु के बाद उनके परिवार में कोई नहीं था।

नौ फीफा विश्व कप कवर कर चुके कपाड़िया पिछले एक महीने से वेंटिलेटर पर थे। उन्हें “मोटर न्यूरोन' बीमारी थी, जिसमें रीढ की नसें और दिमाग धीरे-धीरे काम करना बंद कर देता है। इसकी वजह से वह पिछले दो साल से अपने घर में ही बंद थे। कपाड़िया हाल ही में पेंशन संबंधी मसले के कारण चर्चा में आए थे जब पूर्व खेल मंत्री किरण रिजिजू ने मामले में दखल देकर उन्हें चार लाख रुपये की आर्थिक सहायता दिलाई थी।

उनके निधन पर भारतीय फुटबाल टीम के कप्तान सुनील छेत्री ने दुख जताया। उन्होंने ट्विटर पर लिखा, “नोवी कपाड़िया का जाना एक संस्था की क्षति है। वह इस खेल को हम सभी के करीब लाए जो उनके लिए अद्वितीय था। वह हमेशा भारतीय फुटबाल इतिहास का एक अध्याय रहेंगे जिसे हम अक्सर देखेंगे।" वहीं, फुटबाल दिल्ली के अध्यक्ष शाजी प्रभाकरन ने कहा, "नोवी के सम्मान में सोमवार को अंबेडकर स्टेडियम में प्रार्थना सभा का आयोजन होगा।"

आज से शुरू होगा आइएसएल

मडगांव, प्रेट्र: देश की शीर्ष फुटबाल प्रतियोगिता इंडियन सुपर लीग (आइएसएल) में 202-22 सत्र का आगाज शुक्रवार को मौजूदा चैंपियन एटीके मोहन बगान और केरला ब्लास्टर्स के बीच मुकाबले के साथ होगा। पिछले सत्र की तरह इस बार भी कोविड-19 महामारी के कारण लीग के पहले चरण के सभी मैच गोवा के तीन स्थलों पर खेले जाएंगे। नौ जनवरी तक चलने वाली लीग के पहले चरण के मैच मडगांव में तीन स्टेडियम में होंगे।