फीफा विश्व कप क्वालीफायर्स: हैरी केन के चौके से इंग्लैंड ने किया क्वालीफाई, सैन मैरिनो को 10-0 से हराया

इंग्लैंड के कप्तान हैरी केन ने चार गोल किए जिसमें से दो गोल उन्होंने पेनाल्टी पर किए। इंग्लैंड की तरफ से उनके गोल की संख्या 48 हो गई है। वह रूनी के राष्ट्रीय रिकार्ड से अब केवल पांच गोल पीछे हैं। केन ने अपने सभी गोल पहले हाफ में किए।

Sanjay SavernPublish:Tue, 16 Nov 2021 06:44 PM (IST) Updated:Tue, 16 Nov 2021 06:44 PM (IST)
फीफा विश्व कप क्वालीफायर्स: हैरी केन के चौके से इंग्लैंड ने किया क्वालीफाई,  सैन मैरिनो को 10-0 से हराया
फीफा विश्व कप क्वालीफायर्स: हैरी केन के चौके से इंग्लैंड ने किया क्वालीफाई, सैन मैरिनो को 10-0 से हराया

सेरावेले, एपी। सैन मैरिनो की फुटबाल टीम को 10-0 से बुरी तरह हराकर इंग्लैंड ने 2022 फुटबाल विश्व कप के लिए क्वालीफाई कर लिया है। स्विट्रजरलैंड ने भी बुल्गारिया को 4-0 से मात देकर विश्व कप में जगह बना ली है। इंग्लैंड की टीम ने यूएफा के तहत आने वाले देशों के लिए बने ग्रुप-आइ में टाप पर रहते हुए टूर्नामेंट में अपनी जगह बनाने में कामयाबी हासिल की है। इंग्लैंड और स्विट्जरलैंड ने अगले साल कतर में होने वाले फीफा विश्व कप के लिए सीधे क्वालीफाई कर लिया है लेकिन इटली को चार साल पहले की तरह फिर से प्लेआफ में खेलना होगा।

इंग्लैंड के कप्तान हैरी केन ने चार गोल किए, जिसमें से दो गोल उन्होंने पेनाल्टी पर किए। इससे इंग्लैंड की तरफ से उनके कुल गोल की संख्या 48 हो गई है। वह वायने रूनी के राष्ट्रीय रिकार्ड से अब केवल पांच गोल पीछे हैं। केन ने अपने सभी गोल पहले हाफ में किए। यह 1964 के बाद पहला अवसर है जब इंग्लैंड ने किसी मैच में अपने गोल की संख्या दोहरे अंक में पहुंचाई। केन के अलावा हैरी मैगुआयर, एमिली स्मिथ रोव, टायरन मिंग्स, टैम अब्राहम और बुकायो साका ने भी इंग्लैंड के लिए गोल किए, जबकि सैन मैरिनो के फिलिपो फाबरी ने आत्मघाती गोल किया।

इटली ने उत्तरी आयरलैंड के खिलाफ अपना मैच गोलरहित ड्रा खेला, जिससे यूरोपीय चैंपियन अपने क्वालीफाइंग ग्रुप में स्विट्जरलैंड के बाद दूसरे स्थान पर रहा। स्विट्जरलैंड ने बुल्गारिया को 4-0 से हराकर इटली को पीछे छोड़ा और ग्रुप-सी में शीर्ष पर रहकर शान से विश्व कप में जगह बनाई। इटली और स्विट्जरलैंड अपने अंतिम मैच में समान 15 अंकों के साथ उतरे थे। इटली गोल अंतर के कारण ग्रुप में शीर्ष पर था, लेकिन मैच ड्रा खेलने से उसकी सीधे क्वालीफाई करने की उम्मीदों पर पानी फिर गया।

इस बीच, स्काटलैंड ने ग्रुप-एफ के विजेता डेनमार्क को 2-0 से हराकर क्वालीफाइंग में उसका विजय अभियान थामा। इससे स्काटलैंड भी इटली की तरह प्लेआफ में वरीय टीम के रूप में भाग लेगा। अब तक जर्मनी, डेनमार्क, फ्रांस ,बेल्जियम, क्रोएशिया, स्पेन, सर्बिया, इंग्लैंड, स्विट्जरलैंड की टीमें यूएफा की ओर से क्वालीफाई कर सकी हैं, जबकि ब्राजील की टीम दक्षिण अमेरिका से क्वालीफाई करने में कामयाब रही है।

केन्या ने फीफा विश्व कप फुटबाल के अपने अंतिम मैच में रवांडा को 2-1 से हराया, जिससे संकट में फंसे राष्ट्रीय संघ ने कुछ राहत की सांस ली। नैरोबी में सोमवार को खेले गए मैच में माइकल ओलुंगा ने तीसरे मिनट में ही केन्या को बढ़त दिला दी थी, जबकि रिचर्ड ओडाडा ने पेनाल्टी पर गोल करके टीम को 15 मिनट के अंदर 2-0 से आगे कर दिया। रवांडा की तरफ से एकमात्र गोल ओलिवियर नियोनजिमा ने किया। ये दोनों टीमें कतर में अगले साल होने वाले विश्व कप की दौड़ से पहले ही बाहर हो चुकी हैं।