कोपा अमेरिका फाइनल: खिताबी मुकाबले में भिड़ेंगे मेसी की अर्जेटीना और नेमार की ब्राजील

Copa America Final 2021 ब्राजील के रियो डि जेनेरियो के ऐतिहासिक माराकाना स्टेडियम में रोमांच का चरम दोगुना होगा क्योंकि अर्जेटीना और ब्राजील जैसी दो प्रतिद्वंद्वी टीमें तो आमने-सामने होंगी ही साथ में दुनिया के दो सबसे बड़े स्टार भी आमने-सामने होंगे।

Sanjay SavernFri, 09 Jul 2021 08:34 PM (IST)
कोपा अमेरिका फाइनल मैच में ब्राजील और अर्जेंटीना का मुकाबला होगा (एपी फोटो)

रियो डि जेनेरियो, एपी। क्रिकेट में भारत बनाम पाकिस्तान, टेनिस में फेडरर बनाम नडाल, टेस्ट में ऑस्ट्रेलिया बनाम इंग्लैंड, ला लीगा में बार्सिलोना बनाम रीयल मैड्रिड के मैच देखने में जितना मजा आता है उससे ज्यादा रोमांच रविवार की सुबह को कोपा अमेरिका कप में देखने को मिलेगा क्योंकि एक तरफ फुटबॉल का किंग ब्राजील होगा तो दूसरी तरफ महाधुरंधर अर्जेटीना। पेले और रोनाल्डो जैसे महान खिलाडि़यों वाले देश का प्रतिनिधित्व नेमार करेंगे तो वहीं लियोन मेसी की कोशिश डिएगो मेराडोना की सत्ता को आगे बढ़ाने की होगी।

ब्राजील के रियो डि जेनेरियो के ऐतिहासिक माराकाना स्टेडियम में रोमांच का चरम दोगुना होगा क्योंकि अर्जेटीना और ब्राजील जैसी दो प्रतिद्वंद्वी टीमें तो आमने-सामने होंगी ही, साथ में दुनिया के दो सबसे बड़े स्टार भी आमने-सामने होंगे। ये दोनों ही अपनी-अपनी टीमों को विजयी ट्रॉफी दिलाने के लिए जी-जान लगा देंगे क्योंकि इससे उनका कद भी बढ़ेगा। मेसी के लिए ज्यादा खास है क्योंकि वह तीन बार इस टूर्नामेंट का फाइनल हारने वाली टीम का हिस्सा रहे हैं। वह अपनी कप्तानी में अर्जेटीना को कोई बड़ा खिताब नहीं दिला सके हैं। स्पेनिश क्लब बार्सिलोना के लिए एक साथ चैंपियंस लीग जीत चुके नेमार और मेसी अच्छे दोस्त भी हैं। दोनों को एक-दूसरे की कमजोरियों और ताकत का पत है। जहां मेसी अनुभवी हैं तो नेमार युवा हैं। दोनों की फुर्ती निश्चित ही आपको दीवाना बना देगी।

गोलकीपरों का खेल : ब्राजील के कोच टिटे टूर्नामेंट में कुछ मैचों में अलग-अगल गोलकीपर को खिला चुके हैं। एलिसन को वह ज्यादा मैच में नहीं खिला रहे हैं और उनकी जगह एडरसन को मौका दे रहे हैं। एडरसन दोनों नाकआउट मैचों में खेले थे। ब्राजील की टीम छह मैचों में दो गोल खा चुकी है और रिपोर्ट के मुताबिक टिटे फाइनल में एलिसन को खिला सकते हैं। लेकिन अर्जेटीना के साथ ऐसा नहीं है। वह मार्टिनेज को मौका दे रहा है और उन्होंने भी टीम को निराश नहीं किया है। यहां तक सेमीफाइनल में पेनाल्टी शूट आउट में उनके द्वारा बचाई गई तीन पेनाल्टी पर ही टीम फाइनल में गई थी। मार्टिनेज के रूप में अर्जेटीना के पास शीर्ष स्तर का गोलकीपर है और उनके रहते ब्राजील के खिलाडि़यों को गोल करना इतना आसान नहीं होगा।

डिफेंस : ब्राजील के डिफेंस का प्रदर्शन अभी तक दमदार रहा है। विश्व क्वालीफायर्स और कोपा अमेरिका को मिलाकर वह 12 मैचों में चार गोल ही खा पाए हैं। डेनिलो रेनान लोडी को उनकी भूमिका दे दी गई है। राइट बैक डेनिलो और लेफ्ट बैक लोडी को छकाना आसान नहीं है। अनुभवी थियागो सिल्वा, मारकिन्होस और एडेर मिलिताओ बारी-बारी से खेल रहे हैं ताकि जोखिम से बच सकें। वहीं, अर्जेटीना के लिए मिडफील्ड में गेंद को पास करना महत्वपूर्ण रहेगा। डिफेंस में जर्मन पेजला को निकोलस आटेमेंडी का साथ मिलेगा और दोनों ही फ्री किक के मौके बनाते हैं जिससे गोल करने का तरीका मिल जाए। अर्जेटीना को अगर डिफेंस को मजबूत करना है तो यह देखना होगा कि अर्जेटीना मिडफील्ड कैसे रखता है।

मिडफील्ड : टिटे मैच में 4-4-2 की रणनीति के साथ मैदान में उतरना पसंद करते हैं। उनके स्ट्राइकर और मिडफील्डर दोनों ही मिलकर गोल दाग देते हैं और क्वार्टर फाइनल व सेमीफाइनल में मिडफील्डर लुकास पकेटा के गोल की मदद से टीम फाइनल में पहुंची थी। मिडफील्ड में गेंद को पास करना अर्जेटीना का मजबूत पक्ष है और पकेटा को केसेमिरो व फ्रेड की चुनौती का सामना करना होगा। अर्जेटीना के कोच 4-3-3 के साथ खेलना पसंद करेंगे।

अटैक : टिटे पहले ही साफ कर चुके हैं उनके अटैक की अगुआई नेमार ही करेंगे। टीम को खासकर नेमार को ग्रेबियल जीसस की कमी खलेगी जो रेड कार्ड के कारण इस मैच में नहीं उतरेंगे। नेमार के अलावा विनिसियस जूनियर, रोबर्टो फिरमिनो अटैक को और मजबूत करेंगे। वहीं, अर्जेटीना के पास मेसी तो है ही, लेकिन लोतारो मार्टिनेज की मेसी के साथ जुगलबंदी से टीम को फायदा हो रहा है। मार्टिनेज गोल भी कर चुके हैं और उनकी जगह सर्जियो अग्यूरो को बेंच पर बैठना पड़ सकता है। एंजेल डि मारिया ने स्थानापन्न खिलाड़ी के तौर पर अच्छा किया है। अर्जेटीना ने मेसी को बचाने का तरीका खोज लिया है। मिडफील्डर रौद्गिगो डि पाल और जियोवानी लो सेल्सो उनके इर्द-गिर्द घेरा बनाते हैं। इसके साथ ही वे मार्तिनेज और निको गोंजालेस को अच्छे पास देने में भी कामयाब रहते हैं।

दोनों टीमों के बीच फाइनल की गाथा -

अर्जेटीना और ब्राजील का सामना यूं तो सौ से ज्यादा बार हुआ है लेकिन फाइनल चार ही खेले। अर्जेंटीना ने 1937 में दक्षिण अमेरिकी चैंपियनशिप फाइनल में ब्राजील को 2-0 से हराया। इसके बाद 2004 कोपा फाइनल में ब्राजील ने पेनाल्टी शूट आउट में अर्जेटीना को मात दी। एक साल बाद जर्मनी में कांफेडेरेशन कप फाइनल में ब्राजील ने अर्जेटीना को 4-1 से हराया। कोपा 2007 में ब्राजील ने अर्जेंटीना को 3-0 से हराया।

राष्ट्रपति ने कर दी मैच की पुष्टि -

इस मैच को लेकर दीवानगी का आलम यह है कि ब्राजील के राष्ट्रपति जेर बोलसोनारो ने एक आनलाइन बैठक में अर्जेंटीना के राष्ट्रपति अलबर्टो फर्नांडिज से कहा, 'मुझे पता है कि नतीजा क्या होगा। 5-0। इस पर फर्नांडिज हंसकर रह गए।'

- नंबर गेम -

- 14 बार अर्जेटीना की टीम कोपा अमेरिका का खिताब जीत चुकी है जबकि ब्राजील ने नौ बार यह खिताब अपनी झोली में डाला है। 

- 33 मैच दोनों टीमों के बीच कोपा अमेरिका में हुए हैं जिसमें 15 मैच अर्जेटीना ने जीते हैं जबकि ब्राजील 10 मुकाबले ही जीत पाया है। आठ मुकाबले ड्रा रहे हैं। 

- 52 गोल अर्जेटीना की टीम ने ब्राजील के खिलाफ कोपा अमेरिका में किए हैं जबकि 40 गोल ब्राजील कर पाया है।

- 2019 में पिछली बार कोपा अमेरिका के सेमीफाइनल में ब्राजील ने अर्जेंटीना को हराया था। नेमार चोट के कारण टूर्नामेंट से बाहर थे।

हेड टू हेड-

कुल मैच : 107

अर्जेटीना जीता : 39

ब्राजील जीता : 43

ड्रा : 25 

इन पर रहेगी निगाहें

टीम अर्जेटीना-

लियोन मेसी (फारवर्ड) : लियोन मेसी की मंशा देश के लिए पहला बड़ा खिताब थामने की होगी और वह इस बार इसे जीतने के लिए कोई कसर नहीं छोड़ेंगे। अर्जेटीना ने आखिरी बार 1993 में बड़ा खिताब जीता था। मेसी 2007, 2015 और 2016 कोपा फाइनल हारने वाली टीम का हिस्सा रहे और 2014 विश्व कप फाइनल में जर्मनी के हाथों पराजय झेली। मेसी इस टूर्नामेंट में शानदार फार्म में चल रहे हैं और उन्हें रोकना ब्राजील के लिए बड़ी चुनौती होगी।

06 : मैच

04 : गोल

लोतारो मार्टिनेज (फारवर्ड) : इटली के क्लब इंटर मिलान के लिए खेलने वाले मार्टिनेज के लिए टूर्नामेंट का यह सत्र अभी तक अच्छा रहा है। वह मैच में गोल करके मेसी के ऊपर से दबाव कम कर देते हैं। कोलंबिया के खिलाफ सेमीफाइनल मैच में मार्टिनेज ने मेसी की मदद से ही पहला गोल किया था और उसके बाद पेनाल्टी शूट आउट में भी गोल दागा था। मेसी के साथ मार्टिनेज को रोकना भी ब्राजील के लिए आसान नहीं होगा।

05 : मैच

03 : गोल

एमिलियानो मार्टिनेज (गोलकीपर) : अर्जेटीना की टीम ने इस टूर्नामेंट में अभी तक तीन खोल खाए लेकिन इस गोलकीपर के प्रदर्शन को कम नहीं आंका जा सकता क्योंकि सेमीफाइनल में पेनाल्टी शूट आउट में उनका प्रदर्शन अच्छा रहा था। कोलंबिया के खिलाफ मैच में उन्होंने तीन पेनाल्टी बचाई थी जिसके बाद टीम फाइनल में पहुंची थी। अब फाइनल में अर्जेटीना के प्रशंसकों को उनसे क्लीन शीट की उम्मीद रहेगी।

05 : मैच

03 : गोल खाए

टीम ब्राजील-

नेमार (फारवर्ड) : ब्राजील के पास सितारों से सजी टीम है और उसके पास कई अच्छे स्ट्राइकर भी हैं। लेकिन कोच टिटे की टीम और प्रशंसक नेमार का अच्छा प्रदर्शन भी देखना चाहते हैं। मेसी की तुलना में नेमार टूर्नामेंट दो गोल ही कर पाए हैं लेकिन, वह ऐसे खिलाड़ी जो किसी पल मैच का रुख बदल सकते हैं। अगर वह गोल नहीं कर पाते तो गोल करने में मदद कर देते हैं। ब्राजील को अगर यह खिताब जीतना है तो उसके लिए नेमार का चलना जरूरी है।

05 : मैच

02 : गोल

केसेमिरो (मिडफील्डर) : 29 वर्षीय स्पेनिश क्लब रीयल मैड्रिड के लिए खेलने वाले केसेमिरो इस टूर्नामेंट में पांच मैच खेले हैं और सिर्फ एक्वाडोर के खिलाफ ही वह 28 मिनट तक मैदान पर रहे थे और अन्य मैचों में वह 90 मिनट तक खेले। वह टीम के अहम मिडफील्डर हैं और कोलंबिया के खिलाफ मैच में नेमार की मदद से उन्होंने एक गोल दागा था। उन्होंने वेनेजुएल के खिलाफ टीम के लिए कप्तानी भी की थी। फाइनल में भी टीम उनसे अच्छे प्रदर्शन की आस करेगी।

05 : मैच

01 : गोल

लुकास पेकटा (मिडफील्ड) : फ्रांस के क्लब ल्योन के मिडफील्डर लुकास पेकटा ने अभी तक टीम को निराश नहीं किया है। कोच टिट ने भले ही उन्हें पांच मैचों में मैदान पर उतारा, लेकिन वह सिर्फ पेरू के खिलाफ सेमीफाइनल में ही 90 मिनट तक मैदान पर खेले थे। टीम अगर फाइनल खेल रही है तो इसका कारण पेकटा ही हैं। उन्होंने पहले क्वार्टर फाइनल में चिली के खिलाफ 1-0 और सेमीफाइल में पेरू के खिलाफ इसी स्कोर की जीत में गोल दागा था।

05 : मैच

02 : गोल

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.