top menutop menutop menu

The Forgotten Army In Five Points: 150 करोड़ की वेब सीरीज़ में दिखाई जाएगी आजाद हिंद फौज की कहानी

नई दिल्ली,जेएनएन। अमेज़न प्राइम वीडियो के लिए साल 2020 की शुरुआत शानदार नहीं रही। अमेज़न की पहली हिंदी वेब सीरीज़ 'अफसोस' तकनीकी वजह से रिलीज़ नहीं हो पाई। इसके बाद अब कबीर ख़ान की 'द फॉरगॉटन आर्मी'  की बारी है।  यह वेब सीरीज़ 24 जनवरी को रिलीज़ होगी। ऐसे में दर्शकों और अमेज़न दोनों की इस सीरीज़ से काफी उम्मीदें होंगी। इस सीरीज़ को देखने या ना देखना आपकी पसंद हो सकती है। लेकिन यहां हम आपको पांच ऐसे कारण बता रहे हैं, जिसके लिए आप इस वेब सीरीज़ को देख सकते हैं...

1. कबीर ख़ान का डिजिटल डेब्यू- 'द फॉरगॉटन आर्मी' कबीर ख़ान का डिजिटल डेब्यू है। यह उनकी पहली वेब सीरीज़ है। इससे पहले कबीर ख़ान एक था टाइगर, न्यू यार्क और बजरंगी भाईजान जैसी सफ़ल फ़िल्में बना चुके हैं। ऐसे में दर्शकों इस वेब सीरीज़ का इंतज़ार होगा। 

2. सनी कौशल की वेब सीरीज़- विक्की कौशल का जलवा आप देख चुके हैं। इस बार उनके भाई सनी कौशल की बारी है। उरी द सर्जिकल स्ट्राइरक में विक्की कौशल आर्मी मैन बने थे।वहीं, सनी कौशल फ्रीडम फाइटर बने हैं। सनी इससे पहले गोल्ड के जरिए बॉलीवुड में डेब्यू किया था। 

3. आजाद हिंद फौज की कहानी- फ्रीडम फाइट को लेकर कई फ़िल्में और वेब सीरीज़ बन चुकी है। इस बार कुछ हट के कंटेंट दिखाया जा रहा है। द फॉरगॉटन आर्मी में आजाद हिंद फौज की कहानी दिखाई जाएगी। ऐसी कहानी दिखाई जाएगी, जो अब तक अनटोल्ड रही है। 

4.150 करोड़ की वेब सीरीज़- द फॉरगॉटन आर्मी एक वॉर सीरीज़ है। इसमें विजुअल्स का भारी भरकम इस्तेमाल किया गया है। ऐसे में इस बार एक भारी-भरकम बज़ट वाली वेब सीरीज़ आ रही है। ख़बरों के मुताबिक कबीर ख़ान की इस वेब सीरीज़ का बजट 150 करोड़ है। 

5. शाहरुख़ ख़ान कनेक्शन- इस वेब सीरीज़ का शाहरुख़ ख़ान से स्पेशल कनेक्शन है।  शाहरुख़ ख़ान लंबे समय से फ़िल्मों की दुनिया से दूर हैं। इस सीरीज़ में उनकी आवाज़ सुनाई देगी। कबीर ख़ान ने एक इंटरव्यू में बताया था कि शाहरुख़ ने बिना किसी फ़ीस के सीरीज़ में नरेशन देने का काम किया है। 

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.