जानें, मेरी डोली मेरे अंगना की आस्था अभय ने 21वीं सदी में हो रहे भेदभाव के बारे में क्या कहा

मेरी डोली मेरे अंगना (Meri Doli Mere Angana) शो से जुड़ी आस्था अभय (Aastha Abhay) कहती हैं हालांकि हमने काफी प्रगति की है लेकिन हम वास्तविकता से बहुत दूर हैं। हम 21वीं सदी में रह रहे हैं लेकिन हमारी संस्कृति के सभी हिस्सों में अभी भी भेदभाव व्याप्त है।

Priti KushwahaSat, 25 Sep 2021 03:56 PM (IST)
Know About Meri Doli Mere Angana Show And What Aastha Abhay Opens Up About Discrimination In The 21st Century

ब्रांड डेस्क। एक दशक पहले, हमारे पास उज्ज्वल भविष्य को लेकर एक विजन था। हमने फ्लाइंग कार, आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस (Artificial Intelligence) और सबसे महत्वपूर्ण पूर्वाग्रह से मुक्त विश्व के बारे में सोचा था। ये सब हासिल करने के हम अभी भी थोड़े दूर हैं, लेकिन खुशी की बात यह है कि हमारे पास प्रगतिशील विचार रखने वाले दूरदर्शी लीडर्स हैं, जो विचारधारा में बदलाव लाकर समाज को आगे ले जा रहे हैं। हाल ही में लॉन्च किया गया शो 'मेरी डोली मेरे अंगना' (Meri Doli Mere Angana) आज के युवाओं के सपनों और आकांक्षाओं को प्रदर्शित करने वाले सामाजिक मानदंडों और परंपराओं जैसे विषयों पर प्रकाश डालने के लिए भारत के छोटे क्षेत्र से एक प्रेरक लेकिन संबंधित कथा को सामने लाने का प्रयास करता है।                                                 

'मेरी डोली मेरे अंगना' (Meri Doli Mere Angana) शो से जुड़ी आस्था अभय (Aastha Abhay) कहती हैं, 'हालांकि हमने काफी प्रगति की है, लेकिन हम वास्तविकता से बहुत दूर हैं। हम 21वीं सदी में रह रहे हैं, लेकिन हमारी संस्कृति के सभी हिस्सों में अभी भी भेदभाव व्याप्त है। यह 'ऐसा ही होना चाहिए' जैसी सोच हमारी सदियों पुरानी विचारधाराओं में समाया हुआ है। समय आ गया है कि हम इस पर सवाल उठाएं और एक प्रगतिशील माहौल तैयार करें। मेरा किरदार 'जानकी' (Janki) इस देश की कई महिलाओं का प्रतिबिंब है, जो निस्संदेह इस शो को देखने और सुनने के बाद महसूस करेंगी।'

'मेरी डोली मेरे अंगना' (Meri Doli Mere Angana) में एक अनुभवहीन और संकोची बेटी से लेकर एक अनुभवी बहू 'जानकी' (Janki) तक की यात्रा को दर्शाया गया है, जो जटिल परिस्थितियों और संबंधों को प्रबंधित करना सीखती है, जबकि यह महसूस करते हुए कि पारंपरिक सांस्कृतिक मानक जो एक बेटी और बहू के बीच भेदभाव करते हैं, अभी भी बने हुए हैं। 

वास्तविक मनोभाव, वास्तविक जीवन के नोक-झोंक, कठोर परंपराओं पर आशा की विजय जैसी सोच के साथ यह शो बहुत सारे भारतीय घरों में पसंद किया जाएगा। अब आप 'मेरी डोली मेरे अंगना' (Meri Doli Mere Angana) और 'पवित्र भरोसे का सफर' (Pavitra Bharose Ka Safar) को एमएक्स प्लेयर और आजाद (MX Player and Azaad) पर हर सोमवार से शनिवार क्रमशः रात 9 बजे और रात 9.30 बजे स्ट्रीम कर सकते हैं। आप यह शो मुफ्त में भी देख सकते हैं, विशेष रूप से केवल एमएक्स प्लेयर (MX Player) पर।

Note - यह आर्टिकल ब्रांड डेस्‍क द्वारा लिखा गया है।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.