एक बार फिर पर्दे पर आ रही है गोपी बहू और कोकिला मोदी की जोड़ी, जिया मानेक ने बताया क्या नया होगा तेरा मेरा साथ रहे में

स्टार भारत के शो तेरा मेरा साथ रहे में रूपल पटेल और जिया मानेक एक बार फिर सास-बहू के किरदार में लौट रही हैं। 16 अगस्त से शुरू होने वाले इस शो में इस बार सास-बहू की ये जोड़ी इस रिश्ते को नए अंदाज में पेश करेगी।

Pratiksha RanawatSat, 31 Jul 2021 08:18 PM (IST)
जिया मानेक, रूपल पटेल, फोटो साभार: Instagram

 प्रियंका सिंह, मुंबई। टीवी पर सास-बहू वाले शो में भी अब बदलाव देखने को मिल रहे हैं। स्टार भारत के शो 'तेरा मेरा साथ रहे' में रूपल पटेल और जिया मानेक एक बार फिर सास-बहू के किरदार में लौट रही हैं। 16 अगस्त से शुरू होने वाले इस शो में इस बार सास-बहू की ये जोड़ी इस रिश्ते को नए अंदाज में पेश करेगी। बहू के बदलते किरदार, शादी, जीवनसाथी जैसे कई मुद्दों पर जिया से हुई बातचीत...

शो का जो ट्रेलर जारी हुआ है, उसमें इस बार आप कपड़ों के साथ लैपटाप नहीं धोती हैं, जबकि शो 'साथ निभाना साथिया' में बहू के किरदार में लैपटाप को पानी से धोने वाला सीन काफी वायरल हुआ था। कितना जरूरी है कि अब बहुओं की छवि को बदला जाए?

बतौर कलाकार मैं अपना किरदार निभाती हूं। यह एक नया शो और नया किरदार है। कोई दोहराव नहीं है। लैपटाप का सीन इसलिए जोड़ दिया था, क्योंकि उस सीन पर हमें दर्शकों का प्यार मिला था। इस बार उसे एक नए तरीके से दिखाने की कोशिश की गई। आज की बहुएं निडर हैं, चुनौतियां स्वीकार करती हैं। हमारे शो को देखकर महिलाओं में हिम्मत आनी चाहिए कि जब ये कर सकती है तो हम क्यों नहीं कर सकते हैं। हमारा शो महिलाओं को हिम्मत देगा। महिलाएं न सिर्फ अपने परिवार में, बल्कि समाज में भी बदलाव लाने की हिम्मत रखती हैं। कई बार जो वर्षों से चलता आ रहा है, वह करने की उम्मीद महिलाओं से की जाती है। कई बार वही चीजें सही भी लगने लग जाती हैं, ऐसे में इस तरह के शो बदलाव लाते हैं, जिसमें उन्हें आत्मनिर्भर और निडर बनाने की बात हो।

टीवी पर जिस तरह के किरदार निभाने जा रही हैं, उसे लेकर सतर्क रहती हैं?

बिल्कुल, काम तो अपनी जगह है। मुझे लगता है कि जिंदगी में भी एक जिम्मेदार इंसान बनना जरूरी है। वह जिम्मेदारी चाहे आपके काम की तरफ हो या फिर रिश्तों की तरफ हो। गैरजिम्मेदारी से अगर कुछ करेंगे तो खुद के साथ दूसरों का नुकसान भी निश्चित है। मेरे कंधों पर अपने शो के साथ उन दर्शकों की भी जिम्मेदारी है, जो मुझे देखकर उससे प्रभावित होंगे। कई लोग जिम्मेदारी को बोझ समझते हैं, लेकिन मेरा मानना है कि यह एक पावर है। जब आप जिम्मेदारियां उठाते हुए सफल होते हैं तो आत्मविश्वास बढ़ता है।

आप बेबाकी से अपनी बात कहती हैं। इंडस्ट्री में अपने काम और बेबाकी के बीच संतुलन बनाकर चलना क्या चुनौतीपूर्ण रहा?

जब मैंने अपना करियर इस इंडस्ट्री में शुरू किया था तो नए लोगों की ही तरह मैं भी कई चीजों को नजरअंदाज कर देती थी। मैंने किसी एक्टिंग स्कूल से ट्रेनिंग नहीं ली है, न ही इंडस्ट्री में मेरा कोई रिश्तेदार या गॉडफादर है। मैंने कई बार गिरकर चलना सीखा है। मेरे पास सही रास्ता दिखाने वाला कोई नहीं था। मुझ पर ईश्वर की कृपा रही है। कई बार सोने की थाली में जब सब सजाकर दे दिया जाता है तो उसकी अहमियत खत्म हो जाती है। मेरी किस्मत में यही था कि पहले ठोकर खानी है, फिर सीखना है। चाहे काम हो या निजी जिंदगी मुझे कुछ भी आसानी से नहीं मिला है। जिस इंडस्ट्री में मैं काम कर रही हूं, वह मुश्किल जगह है, लेकिन हर इंडस्ट्री की अपनी चुनौतियां होती हैं। काम आसान कहीं नहीं होता है। आपका व्यवहार अपने काम के प्रति कैसा है, काफी कुछ उस पर भी निर्भर करता है। जहां तक बेबाकी की बात है तो मुझे घुमाकर बातें करना आता ही नहीं है। मैं किसी और के कंधे पर बंदूक रखकर नहीं चला सकती हूं। मैं कर्म में यकीन रखती हूं, मैं आज जो करूंगी, वह घूमकर एक दिन मेरे पास आएगा। काम कम हो या ज्यादा, इंसान का अच्छा होना पहले जरूरी है। मेरी सच्चाई मेरी स्पष्टता में है। मैं निडर हूं। मेरी चेतना साफ है तो किसी से क्यों डरना।

रूपल पटेल के साथ दोबारा काम करने का अनुभव कैसा रहा है?

वह मेरे लिए हमेशा से प्रेरणास्रोत रही हैं। मैंने जब अपना पहला शो उनके साथ किया था, तब मैं नई थी। जब नए कलाकार के सामने एक अनुभवी और सपोर्टिव कलाकार होता है तो काफी हद तक काम आसान हो जाता है। मैंने उनसे सीखा है कि सेट पर प्रोफेशनल कैसे रहते हैं।

वास्तविक जीवन में बहू बनने को लेकर क्या योजनाएं हैं?

शादी एक बहुत ही खूबसूरत कांसेप्ट है। दो लोग जो एक-दूसरे को समझते हैं और प्यार करते हैं, उनकी शादी खूबसूरत ही होगी। मैं भी शादी करना चाहूंगी, बस इंतजार है उस लड़के का जिससे अभी सामना नहीं हुआ है। ऐसा नहीं है कि शादी के बिना मैं संपूर्ण नहीं हूं, लेकिन अगर जीवन में एक साथी मिलता है, जो आपका दोस्त भी बन सकता है तो शादी करना चाहूंगी।

अपने जीवनसाथी में कौन सी क्वालिटी देखना चाहती हैं?

लोगों के पास एक लंबी लिस्ट होती है। मेरी लिस्ट लंबी नहीं है। मुझे एक जिम्मेदार, कमिटेड और ईमानदार इंसान चाहिए। जब ऐसा व्यक्ति मिल जाएगा तो मैं शादी कर लूंगी। मैं मौकापरस्त या किसी का इस्तेमाल करने के लिए शादी नहीं करना चाहती हूं। मेरे पास सब कुछ है। मैं पैसों के लिए किसी से कभी शादी नहीं करना चाहूंगी। अगर आप यह देखेंगे कि आपको क्या मिल रहा है तो सामने वाला इंसान भी देखेगा कि उसको क्या मिल रहा है। जब एक रिश्ते में मैं शब्द बड़ा हो जाता है तो एक-दूसरे को देने के लिए कुछ नहीं बचता है। आप अपने पार्टनर को क्या दे सकते हैं, उसकी जिंदगी में क्या कमी है, जिसे आप पूरा कर सकते हैं, वह ज्यादा मायने रखता है।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.