Ramayan के लक्ष्मण सुनील लहरी ने दिखाया अयोध्या से श्रीलंका तक वनवास का मार्ग, बताया कितना समय लगा...

भगवान राम की यह यात्रा एक तरह से भारत को एक सूत्र में पिरोने का संदेश भी देती है। अब रामायण में लक्ष्मण का किरदार निभाने वाले एक्टर सुनील लहरी ने इस यात्रा का एक नक्शा शेयर किया है।

Manoj VashisthWed, 22 Sep 2021 09:23 PM (IST)
Sunil Lahri as Lakshman in Ramanand Sagar's Ramayan. Photo- Instagram/Sunil Lahri

नई दिल्ली, जेएनएन। भगवान राम ने 14 साल के वनवास के दौरान अयोध्या से श्रीलंका तक का सफ़र पैदल तय किया था। इस दौरान वो भाई लक्ष्मण और पत्नी सीता के साथ देश के विभिन्न राज्यों से होते हुए दक्षिण भारत पहुंचे थे। भगवान राम की यह यात्रा एक तरह से भारत को एक सूत्र में पिरोने का संदेश भी देती है। अब रामायण में लक्ष्मण का किरदार निभाने वाले एक्टर सुनील लहरी ने इस यात्रा का एक नक्शा शेयर किया है, जिसमें प्रभु राम की अयोध्या से श्रीलंका तक की यात्रा के मुख्य पड़ावों को दिखाया गया है, जिनका ज़िक्र विभिन्न रामायणों में आता है। 

इस नक्शे के अनुसार, भगवान राम, लक्ष्मण और सीता अयोध्या से निकलकर सबसे पहले प्रयागराज, चित्रकूट और सतना पहुंचे थे। इसके बाद मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र होते हुए दक्षिण भारत के राज्यों की तरफ़ गये थे। इस नक्शे के साथ सुनील ने लिखा- 14 साल पैदल वनवास का मार्ग। परन्तु वापसी पुष्पक विमान से.... कुछ घन्टों में। रामायण के अनुसार, रावण का वध करने के बाद राम ने लंका का सिंहासन छोटे भाई विभीषण को सौंप दिया था और वनवास की अवधि समाप्त होने पर रावण के पुष्पक विमान में सवार होकर अयोध्या वापस पहुंचे थे। 

सुनील लहरी की इस पोस्ट पर तमाम फैंस ने कमेंट करके वनवास का मार्ग शेयर करने के लिए शुक्रिया कहा है। बता दें, रामानंद सागर की रामायण का प्रसारण अस्सी के दशक में दूरदर्शन पर हुआ था और यह धारावाहिक ज़बरदस्त लोकप्रिय रहा था। शो में राम की भूमिका अरुण गोविल ने निभायी थी, जो अब सोशल मीडिया के ज़रिए मोटिवेशनल पोस्ट शेयर करते रहते हैं। वहीं, सीता की भूमिका में दीपिका चिखलिया टोपीवाला थीं। ये तीनों ही कलाकार रामायण के साथ इतिहास में दर्ज़ हो गये हैं।

बाद में और भी कई धारावाहिक ऐसे आये, जो रामायण की कहानी पर आधारित थे, मगर ऐसी लोकप्रियता किसी को नहीं मिली। तकनीकी रूप से उतना उन्नत ना होते भी रामायण धारावाहिक ने दर्शकों के दिलों में हमेशा के लिए जगह बना ली। पिछले साल कोरोना वायरस पैनडेमिक के दौरान रामायण का पुन: प्रसारण दूरदर्शन के चैनलों पर किया गया था, जिसने रिकॉर्ड तोड़ सफलता हासिल की थी।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.