भाई की मौत के सदमे से निकल नहीं पा रहीं निक्की तंबोली, लिखा, हर दिन जीना मुश्किल लग रहा है

Photo credit - Nikki tamboli Insta Account Photo

खतरों के खिलाड़ी 11 में हिस्सा लेने केप टाउन पहुंचीं ‘बिग बॉस 14’ फेम निक्की तंबोली भले ही दिखने में नॉर्मल लग रही हों लेकिन अंदर से एक्ट्रेस बुरी तरह टूटी हुई हैं। शो में आने से कुछ दिन पहले ही निक्की के भाई जतिन का निधन हो गया था।

Nazneen AhmedMon, 10 May 2021 10:10 AM (IST)

नई दिल्ली, जेएनएन। खतरों के खिलाड़ी 11 में हिस्सा लेने केप टाउन पहुंचीं ‘बिग बॉस 14’ फेम एक्ट्रेस निक्की तंबोली भले ही दिखने में नॉर्मल लग रही हों, लेकिन अंदर से एक्ट्रेस बुरी तरह टूटी हुई हैं। शो में आने से कुछ दिन पहले ही निक्की के भाई जतिन का निधन हो गया था। जतिन को कई सारे हेल्थ इश्यूज़ थे इसके साथ ही वो कोरोना वायरस की चपेट में आ गए थे, जिसके बाद उन्हें हॉस्पिटल में एडमिट करवाया गया था, लेकिन जतिन ठीक होकर घर वापस नहीं लौट पाए।

भाई के निधन के कुछ दिन बाद निक्की खतरों के खिलाड़ी का हिस्सा लेने कैप टाउन पहुंच तो गई हैं, लेकिन यहां भी उनका मन नहीं लग रहा है और उन्हें भाई की याद सता रही है। एक्ट्रेस ने अपने इंस्टाग्राम पर एक पोस्ट शेयर किया है जिसमें उन्होंने बताया है कि हर रात वो कितनी मुश्किल से सोती हैं, उनके लिए ये वक्त कितना मुश्किल है। एक्ट्रेस ने लिखा, ‘मैं अपने भाई को बहुत मिस करती हूं, हर रात को ख़ुद को सुलाने के लिए सहला रही हूं। कुछ लोग जो मुझे जानते हैं उन्होंने मुझसे समाया कि मुझे भाई को जाने जाने देना चाहिए। मुझे ख़ुश होना चाहिए कि अब वो किसी दर्द में नहीं हैं वो बीमार नहीं हैं इसलिए मुझे उन्हें जाने देना चाहिए। लेकिन मेरा दिमाग ये मानने को राज़ी नहीं होता। मैं अपने भाई से बात करना चाहती हूं। जब ये बात अपने दोस्तों को कहती हं तो वो कहते हैं कि मैं भाई से अब भी बात कर सकती हूं, लेकिन चीज़ें पहले जैसी नहीं हैं'।

वो लोग नहीं समझ रहे कि मैं क्या महसू कर रही हूं। हम एक दूसरे के बहुत करीब थे, हम हमेशा परिवार के बाकी सदस्यों से एक दूसरे को प्रोटेक्ट करते थे। मेरे माता पिता हमेशा कहते रहते हैं कि मैं बहुत मज़बूत हूं, उन्हें लगता है कि मैं अब ठीक हूं, मजब़ूत हूं। लेकिन मैं बिल्कुल भी मज़बूत महसूस नहीं कर रही हूं। मुझे सब कुछ बहुत मुश्किल लग रहा है और हर दिन जीना बहुत मुश्किल हो रहा है। मैंने अपने भाई की मौत को स्वीकार नहीं किया है’।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.