भाई की डेथ के 3 दिन बाद खतरों के खिलाड़ी के लिए निकलीं निक्की तंबोली, कहा- शो मस्ट गो ऑन

iamge source: nikki tamboli official instagram account

निक्की तंबोली ने हाल ही में कोरोना से पीड़ित अपने भाई को खो दिया। भाई जतिन तंबोली के निधन को अभी तीन दिन ही हुए हैं और निक्की तंबोली खतरों के खिलाड़ी 11 में भाग लेने केपटाउन के लिए निकल चुकी हैं। निक्की को एयरपोर्ट पर स्पॉट भी किया गया।

Ruchi VajpayeeFri, 07 May 2021 11:41 AM (IST)

नई दिल्ली, जेएनएन। निक्की तंबोली ने हाल ही में कोरोना से पीड़ित अपने भाई को खो दिया। भाई जतिन तंबोली के निधन को अभी तीन दिन ही हुए हैं और निक्की तंबोली खतरों के खिलाड़ी 11 में भाग लेने केपटाउन के लिए निकल चुकी हैं। निक्की को एयरपोर्ट पर स्पॉट भी किया गया। हालांकि जाने से पहले निक्की ने सोशल मीडिया पर एक इमोश्नल पोस्ट भी लिखी और अपने जाने की वजह भी बताई।


निक्की ने कहा...

निक्की तंबोली ने अपने भाई जतिन तंबोली के लिए एक और इमोशनल नोट लिखा है। निक्की ने लिखा है, मैं अपने जीवन में उस स्टेज पर हूं जहां एक ओर मेरा परिवार बहुत बड़े नुकसान से जूझने के लिए संघर्ष कर रहा है दूसरी ओर मेरे काम से जुड़े कमिटमेंट्स हैं और मैं अपने करियर के पीक पर हूं। 

भाई सबसे ज्यादा खुश होंगे

इन दोनों ऑप्शन में से मेरे लिए मेरा परिवार पहले है, लेकिन मेरे डैड ने हमेशा मुझसे कहा है कि अपने सपने साकार करो क्योंकि यकीन मानों तुम्हारे सपने पूरे होंगे तो सबसे ज्यादा खुश होने वाला तुम्हारा भाई होगा। मुझे याद है, अस्पताल में भर्ती होने से पहले मेरे भाई ने खतरों के खिलाड़ी के बारे में डिस्कस किया था और वह इसको लेकर काफी खुश थे। उन्होंने लिखा, मैं अपने भाई और परिवार के लिए जा रही हूं। मेरे दादा मेरे गार्जियन ऐंजल हैं और उनके सपोर्ट से सबकुछ अचीव करूंगी।

द शो मस्ट गो ऑन

निक्की ने आगे लिखा, मैं वर्क कमिटमेंट की वजह से खतरों के खिलाड़ी चुन रही हूं और मैं अपने काम के लिए हमेशा लॉयल रही हूं। निक्की ने यह भी लिखा कि मैं लोगों को सामने खुद को स्ट्रॉन्ग दिखा रही हूं लेकिन मुझ पर जो बीत रही है मेरा परिवार ही जानता है। लेकिन जैसा कि कहा गया है, द शो मस्ट गो ऑन। उन्होंने लिखा, मैं चाहती थी कि मेरा भाई हॉस्पिटल से आकर मुझे खतरों के खिलाड़ी में देखे लेकिन वह मेरे सबसे करीबी होंगे जो ऊपर से देखेंगे। मैं अपने भाई को खुश करने के लिए अपने दर्द से लड़ रही हूं वह हमेशा मेरे परिवार की ढाल रहेंगे। 

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.