दुपट्टे की वजह से यूज़र ने किया था दिव्यांका त्रिपाठी को ट्रोल, अब एक्ट्रेस बोलीं- ‘मैं कोई हार्डकोर फेमिनिस्ट नहीं हूं लेकिन...’

दिव्यांका त्रिपाठी इन दिनों साउथ अफ्रीका के केपटाउन में ‘खतरों के खिलाड़ी 11’ की शूटिंग कर रही हैं। इस दौरान वो सोशल मीडिया पर भी काफी एक्टिव हैं। हाल ही में दिव्यांका को एक यूज़र ने उनके दुपट्टे की वजह से उन्हें ट्रोल करने की कोशिश की थी।

Nazneen AhmedFri, 11 Jun 2021 01:47 PM (IST)
Photo Credit - Divyanka Tripthi Insta Account Photo

नई दिल्ली, जेएनएन। फेमस टीवी एक्ट्रेस दिव्यांका त्रिपाठी इन दिनों साउथ अफ्रीका के केपटाउन में ‘खतरों के खिलाड़ी 11’ की शूटिंग कर रही हैं। इस दौरान वो सोशल मीडिया पर भी काफी एक्टिव हैं। हाल ही में दिव्यांका को एक यूज़र ने उनके दुपट्टे की वजह से उन्हें ट्रोल करने की कोशिश की थी जिसके बाद एक्ट्रेस ने ट्रोलर को आड़े हाथ लेते हुए करारा जवाब दिया था। दिव्यांका का वो ट्वीट सोशल मीडिया पर काफी वायरल हुआ था।

एक्ट्रेस ने अब हाल ही में फिर से उस बारे में बात की है। हिन्दुस्तान टाइम्स से बातचीत में दिव्यांका ने कहा, ‘एक सेलेब्रिटी होने के नाते हम सबकी नज़रों में और रडार पर रहते हैं। हम हमेशा उन ट्रोलर्स के खिलाफ रही हूं जो महिलाओं के टारगेट करते हैं। मैं उन्हें ज़रूर सबक सिखाती हूं। इसका मतलब ये बिल्कुल नहीं है कि मैं हार्डकोर फेमिनिस्ट हूं...मैं पुरुष और महिला के प्रति एक जैसे बर्ताव में यकीन रखती हूं। जब ट्रोलर ने मुझसे मेरे दुपट्टे की गैर मूजूदगी के बारे में पूछा तो मुझे ये बात बहुत हिट करी। क्योंकि मैं जिस शो का हिस्सा थी वो इसके बिल्कुल खिलाफ था। एक औरत का पहनावा उसकी मर्जी के हिसाब से होना चाहिए न कि इस हिसाब से कि लोग उसे कैसे देखना चाहते हैं’।

आगे एक्ट्रेस ने कहा, ‘मुझे बहुत चिढ़ होती है इस बात से कि जब भी ऐसे मुद्दों पर बात की जाती है तो सबसे पहले महिलाओं को सुझाव दिए जाते हैं। अगर किसी कपड़े ठीक नहीं लगते हैं तो उन्हें पहले दुनिया में घूमकर देखना चाहिए’।

ये था विवाद..

घनश्याम नाम के एक यूज़र ने दिव्यांका के टैग करते हुए ट्वीट किया था, 'क्राइम पेट्रोल के ऐपिसोड में आप दुपट्टा क्यों नहीं पहनती हैं'। इस सवाल के जवाब में एक्ट्रेस ने लिखा, 'ताकी आप जैसे... बिन दुपट्टे की लड़कियों को भी इज्ज़त से देखने की आदत डालें। प्लीज़ खुद की और आसपास के लड़कों की नीयत सुधारें, न की औरत जात के पहनावे का बीड़ा उठाएं। मेरा शरीर, मेरी आबरू, मेरी मर्जी। आपकी शराफत आपकी मर्जी’।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.