प्रेग्नेंसी के दौरान नीना गुप्ता का साथ देने आगे आए थे सतीश कौशिक, मसाबा को देना चाहते थे अपना नाम

नीना गुप्ता ने अपनी ऑटोबायोग्राफी में कई खुलासे किए हैं। जिनमें से एक में उन्होंने बताया है कि उनके स्वर्ग के को-एक्टर सतीश कौशिक उनसे शादी करना चाहते थे। जब सतीश ने नीना को प्रपोज किया था उस समय अभिनेत्री प्रेग्नेंट थीं।

Pratiksha RanawatTue, 15 Jun 2021 10:42 PM (IST)
सतीश कौशिक, नीना गुप्ता, फोटो साभार: Instagram

 नई दिल्ली, जेएनएन। बॉलीवुड की मशहूर अभिनेत्री नीना गुप्ता इन दिनों अपनी ऑटोबायोग्राफी के चलते काफी सुर्खियों में हैं। अभिनेत्री ने अपनी ऑटोबायोग्राफी में कई सारे खुलासे किए हैं। इसमें उन्होंने अपने सिंगल मदर बनने से लेकर अपने बॉलीवुड करियर तक हर एक बारे में बात की है। नीना गुप्ता की ये किताब लॉन्च होने के बाद अब इसके कई किस्से भी सामने आना शुरू हो गए हैं।

नीना गुप्ता ने अपनी ऑटोबायोग्राफी में कई खुलासे किए हैं। जिनमें से एक में उन्होंने बताया है कि उनके स्वर्ग के को-एक्टर सतीश कौशिक उनसे शादी करना चाहते थे। जब सतीश ने नीना को प्रपोज किया था उस समय अभिनेत्री प्रेग्नेंट थीं। सतीश उनके होने वाले बच्चे को भी अपनाने के लिए तैयार थे लेकिन अभिनेत्री ने सतीश के प्रपोजल को रिजेक्ट कर दिया।

दरअसल अपनी ऑटोबायोग्राफी 'सच कहूं तो' में नीना गुप्ता ने खुलासा किया है कि जब वो प्रेग्नेंट थीं तब उनके दोस्त और अभिनेता/ फिल्म निर्माता सतीश कौशिक ने उन्हे शादी के लिए प्रपोज किया था। सतीश कौशिक ने नीना से कहा था कि, अगर उनका बच्चा डार्क स्किन का होता है तो वह कह सकती हैं कि यह उनका बच्चा है और दोनों शादी कर लेंगे। किसी को इस बारे में पता नहीं चलेगा। हालांकि नीना ने उस समय अकेले रहने का फैसला किया और अपनी बच्ची को अकेले ही पाला।

बता दें कि बॉलीवुड अभिनेत्री करीना कपूर खान ने हाल ही में नीना गुप्ता की ऑटोबायोग्राफी 'सच कहूं तो' को लॉन्च किया है। कोरोना वायरस के प्रकोप के चलते इस ऑटोबायोग्राफी की लॉन्चिंग वर्चुअल रखी गई थी। वहीं इस बात की हाल ही में घोषणा की गई कि इस किताब को नीना गुप्ता ने पिछले वर्ष लॉकडाउन में लिखा है। नीना गुप्ता ने इस बारे में सोशल मीडिया पर जानकारी दी थी। उन्होंने यह भी कहा कि करीना कपूर खान द्वारा यह बुक लॉन्च होने को लेकर वह बहुत उत्साहित हैं।

नीना गुप्ता ने 'सच कहूं तो' में अपनी शानदार व्यक्तिगत और फिल्मी करियर के बारे में बात की है। इसके अलावा उन्होंने अपने बचपन के दिनों और नेशनल स्कूल ऑफ ड्रामा के दिनों को भी याद किया है। किताब में कास्टिंग काउच के बारे में भी बात की गई है। इसके अलावा फिल्म इंडस्ट्री की पॉलिटिक्स, प्रेग्नेंसी और सिंगल पैरंटहुड के बारे में भी उन्होंने लिखा है।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.