कानूनी शिकंजे में फंस सकती है विद्या बालन की शेरनी, शूटर ने दी कोर्ट जाने की धमकी

शूटर असगर अली ने आरोप लगाया है कि फिल्म में उन्हें ट्रिगर-हैप्पी शूटर्स यानि ऐसा दिखाया गया है जैसे उन्हें बेवजह शिकार करना पसंद हो। उन्होंने साफ कहा हम वहां सरकार के द्वारा बुलाए जाने पर गए थे और आदमखोर शेरनी को मारा था।

Ruchi VajpayeeFri, 25 Jun 2021 12:10 PM (IST)
Image Source: Amazon Prime Video Page on Insta

नई दिल्ली, जेएनएन। अमेजन प्राइम वीडियो पर हाल ही में रिलीज हुई विद्या बालन स्टारर फिल्म 'शेरनी' विवादों में फंसती नजर आ रही है। हैदराबाद के शूटर असगर अली खान फिल्म मेकर्स के खिलाफ कानूनी कार्रवाई करने का मन बना रहे हैं। असगर का दावा है कि उन्होंने करीब 15 दिन पहले फिल्म मेकर्स को एक लीगल नोटिस भेजा था जिसके जवाब से वो संतुष्ट नहीं हैं।

कानूनी शिकंजे में फंस सकती है 'शेरनी'

असगर का कहना है कि फिल्म में शेरनी 'अवनि' की किलिंग को लेकर तथ्यों को तोड़ा मरोड़ा गया है। असगर अली खान ने समाचार एजेंसी आईईएएनएस के साथ बातचीत में कहा, 'हम अपने कानूनी सलाहकारों से बातचीत कर रहे हैं। हालांकि इस बारे में अभी हमने अंतिम फैसला नहीं लिया है।'

सरकार के बुलावे पर गए थे शूटर

बता दें कि असगर अली जाने-माने शूटर नवाब सहाफत अली खान के बेटे हैं जिन्होंने साल 2018 में महाराष्ट्र के यवतमाल में शेरनी अवनि की हत्या की थी। असगर ने आरोप लगाया है कि फिल्म में उन्हें 'ट्रिगर-हैप्पी शूटर्स' यानि ऐसा दिखाया गया है जैसे उन्हें बेवजह शिकार करना पसंद हो। उन्होंने साफ कहा, 'हम वहां सरकार के द्वारा बुलाए जाने पर गए थे और आदमखोर शेरनी को मारा था जिसने 14 लोगों की जान ली थी, लेकिन फिल्म में ऐसा दिखाया गया है जैसे हम मजे के लिए शिकार कर रहे थे।'

फिल्म को लेकर है ये आशंका

असगर ने कहा कि फिल्म उनकी छवि को प्रभावित कर सकती है और कई संवेदनशील मामलों में आग में घी का काम कर सकती है जो कि पहले से ही फैसले का विषय हैं। असगर ने ये भी कहा कि फिल्म में तथ्यों को तोड़ना मरोड़ना कोर्ट के आदेश की अवहेलना में आता है। 

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.