Sushant Singh Rajput का नाम ड्रग्स केस से जुड़ने पर बोलीं स्वरा भास्कर- बस या अभी और भद्द पिटवानी है

स्वरा भास्कर ( फोटो इंस्टाग्राम से ली गई है। )
Publish Date:Sun, 27 Sep 2020 10:17 AM (IST) Author: Rajat Singh

नई दिल्ली, जेएनएन। Sushant Singh Rajput News: सुशांत सिंह राजपूत ने 14 जून को इस दुनिया को अलविदा कह दिया। उनके आत्महत्या के मामले की जांच करते हुए एजेंसी ड्रग्स मामले पर पहुंच गई है। नॉरकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (NCB) इस मामले की जांच कर रही है। एक वाट्सएप चैट के बाहर आने के बाद अब एनसीबी ने दीपिका पादुकोण, सारा अली ख़ान और श्रद्धा कपूर जैसे सेलेब्स से पूछताछ की। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, इस पूछताछ के दौरान सुशांत सिंह राजपूत का भी नाम सामने आया है। सुशांत का नाम आने के बाद एक्ट्रेस स्वरा भास्कर ने अपनी प्रतिक्रिया दी है।

स्वरा भास्कर ने एक न्यूज़ आर्टिकल को शेयर किया। इस आर्टिकल में इस बात का दावा गया है कि पूछताछ के दौराना श्रद्धा कपूर और सारा अली ख़ान ने बताया है कि सुशांत शूटिंग के दौरान वैनिटी वैन में ड्रग्स लेते थे। इस आर्टिकल को साझा करते हुए स्वरा भास्कर ने तंज कसते हुए लिखा- खुश? जस्टिस फॉर सुशांत सिंह राजपूत ब्रिगेड। बस या अभी और भद्द पिटवानी है बेचारे सुशांत की???'

दरअसल, सुशांत सिंह राजपूत ने निधन के बाद से उनके फैंस लगातार जस्टिस फॉर सुशांत सिंह राजपूत के नाम से कैंपेन चला रहे थे। इसके जरिए वह सीबीआई जांच की मांग कर रहे थे। इसके अलावा इस हैशटैग के साथ उन लोगों को ट्रोल भी किया गया, जिन पर आरोप लगे। स्वरा भास्कर अपने ट्वीट के जरिए इन्हीं लोगों को पर तंज कस रही हैं।

बता दें, इससे पहले जांच एजेंसी शनिवार को दीपिका पादुकोण से पूछताछ की है। न्यूज़ एजेंसी आईएएनएस के मुताबिक, एजेंसी ने रकुल प्रीत सिंह, दीपिका की मैनेज करिश्मा प्रकाश और फैशन डिजाइनर सिमोन खंबाटा के मोबाइल फोन जब्त कर लिए हैं। इनके अलावा सारा अली ख़ान और श्रद्धा कपूर से भी काफी लंबी पूछताछ की गई है। 

इसे भी पढ़िए- Bollywood Drug Case: एनसीबी ने जब्त किए दीपिका पादुकोण, रकुल प्रीत समेत इन लोगों के मोबाइल फोन, ये है लेटेस्ट अपडेट

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.