top menutop menutop menu

Sushant Singh Rajput Case: जानें, सीबीआई जांच की सिफ़ारिश पर क्या बोले रिया चक्रवर्ती के वकील

नई दिल्ली, जेएनएन। बिहार सरकरा ने सुशांत सिंह राजपूत सुसाइड केस की जांच को सीबीआई के सुपुर्द करने की संस्तुति की है। इसको लेकर सोशल मीडिया में तरह-तरह की प्रतिक्रियाएं आ रही हैं, जिनमें से सबसे अहम रिया चक्रवर्ती के वकील की है, जिन्होंने बिहार सरकार के इस फ़ैसले पर सवाल उठाया है।

सोशल मीडिया में काफ़ी अर्से से सुशांत सिंह राजपूत सुसाइड केस को सीबीआई के हवाले करने की मांग उठाई जा रही है। इस मुहिम की शुरुआत सुशांत के फैंस ने की थी और फिर कुछ बॉलीवुड सेलेब्रिटीज़ इससे जुड़ गये। धीरे-धीरे राजनीतिक हलकों से भी सुशांत केस की सीबीआई जांच की आवाज़ें उठाई जाने लगीं। हालांकि, महाराष्ट्र सरकार केस को सीबीआई के सुपुर्द करने की सिफ़ारिश करने से साफ़ इनकार कर रही है। 

रिया चक्रवर्ती के वकील सतीश मानेशिंदे ने बिहार सरकार की इस संस्तुति पर ही सवाल उठाया है। एएनआई के ट्वीट के अनुसार उन्होंने कहा- ऐसे मामले को स्थानांतरित नहीं किया जा सकता, जिसमें बिहार सरकार को शामिल होने का कोई कानूनी हक़ नहीं है। ज़्यादा से ज़्यादा, यह एक ज़ीरो एफआईआर होगी, जो मुंबई पुलिस को स्थानांतरित कर दी जाएगी। एक ऐसे केस को सीबीआई को ट्रांसफर करना, जिसमें उनका अधिकार क्षेत्र नहीं है, इसका कानूनी महत्व नहीं है।

सुब्रमण्यम स्वामी और कंगना की टीम ने किया स्वागत

सुशांत केस को सीबीआई के हवाले करवाने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को चिट्ठी लिखने वाले सांसद सुब्रमण्यम स्वामी ने नीतीश कुमार को बधाई देते हुए लिखा कि आपने अपना वादा निभाया। अब मैं आपको सहमत होने की गुज़ारिश करता हूं। कुछ भी हो, सीबीआई जांच ज़रूरी और अवश्यंभावी है। 

वहीं, कंगना रनोट की टीम के एकाउंट से ट्वीट किया गया- जब मानवता जीतती है, तो एक दे जीतता है। लोग जीतते हैं।

शेखर सुमन ने ट्वीट किया- बदलाव की बयार महसूस होने लगी है। हमारी आवाज़ सुन ली गयीं। नितीश कुमार ने सुशांत के लिए सीबीआई जांच के निर्देश दिये हैं। शाम तक इंतज़ार कीजिए, अगर सब ठीक रहा तो केंद्र मामले में सीबीआई जांच का आदेश देगा। प्रार्थना कीजिए। हम वहां तक लगभग पहुंच गये हैं।

बता दें, सुशांत के पिता ने पिछले दिनों पटना में पुलिस रिपोर्ट दर्ज़ करवाई, जिसमें रिया चक्रवर्ती समेत 6 लोगों के ख़िलाफ़ मुकदमा दर्ज़ करवाया गया। मामले की जांच करने बिहार पुलिस की टीम मुंबई गयी हुई है। बिहार सरकार के इस फ़ैसले पर तरह-तरह की प्रतिक्रियाएं आ रही हैं।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.