top menutop menutop menu

Sushant Singh Rajput Death: सुशांत और अंकिता लोखंडे के वॉट्सऐप चैट ईडी ने जांच के लिए किए जब्त

Sushant Singh Rajput Death: सुशांत और अंकिता लोखंडे के वॉट्सऐप चैट ईडी ने जांच के लिए किए जब्त
Publish Date:Wed, 05 Aug 2020 11:19 AM (IST) Author: Rupesh Kumar

नई दिल्ली, जेएनएनl फिल्म अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले में जांच जारी हैl एक रिपोर्ट के अनुसार प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने सुशांत और उनकी पूर्व प्रेमिका अंकिता लोखंडे के वॉट्सऐप चैट को कस्टडी में ले लिया हैl  सुशांत सिंह राजपूत 14 जून को मुंबई के बांद्रा में अपने अपार्टमेंट में मृत पाए गए और उनके असामयिक निधन ने सभी को स्तब्ध कर दिया। पिछले कुछ दिनों में सुशांत की मौत के मामले में कई नए खुलासे हुए हैं। सुशांत के पिता के.के. सिंह ने दिवंगत बेटे की गर्लफ्रेंड रिया चक्रवर्ती पर कई आरोप लगाते हुए बिहार में एफआईआर दर्ज कराई है और इसके बाद कहानी बदल गई है।

प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने सुशांत सिंह राजपूत के चार्टर्ड एकाउंटेंट से मनी लॉन्ड्रिंग की जांच के संबंध में पूछताछ भी की है। अब जब जारी है, प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने अंकिता लोखंडे और सुशांत सिंह राजपूत के वॉट्सऐप चैट को कस्टडी में लिया है।

सोमवार को बिहार पुलिस के पुलिस महानिदेशक ने मनी ट्रेल के बारे में बात की और कहा कि पिछले चार वर्षों में सुशांत के बैंक खाते में 50 करोड़ रुपये जमा किए गए थे, लेकिन बाद में इसे निकाल लिया गया। आईएएनएस ने कहा, 'पिछले चार वर्षों में सुशांत सिंह राजपूत के बैंक खाते में लगभग 50 करोड़ रु.जमा किए गए लेकिन आश्चर्यजनक रूप से यह सब निकाल लिया गया। एक साल में उनके खाते में 17 करोड़ रुपये जमा किए गए, जिसमें से 15 करोड़ रुपये निकाल लिए गए। क्या यह जांच करने के लिए एक महत्वपूर्ण बिंदु नहीं है? हम चुप बैठने वाले नहीं हैं। हम मुंबई पुलिस से सवाल करेंगे कि इस तरह की घटनाओं की जांच क्यों नहीं की गई है।'

कुछ दिनों पहले सुशांत के पिता के.के. सिंह का एक वीडियो भी सोशल मीडिया पर आया था, इसमें उन्होंने कहा था कि मुंबई पुलिस को फरवरी में सुशांत के जीवन के खतरे के बारे में सतर्क किया गया था। इसके तुरंत बाद सुशांत के बहनोई हरियाणा के एक आईपीएस अधिकारी ओ.पी. सिंह द्वारा वॉट्सऐप शिकायत को शेयर किया गया। इस पर प्रतिक्रिया देते हुए बांद्रा के पूर्व डीसीपी परमजीत सिंह दहिया ने कहा कि उन्हें कभी औपचारिक शिकायत नहीं मिली और उनसे लिखित शिकायत मांगी गई थीं। 

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.