top menutop menutop menu

Sushant Singh Rajput Death: आत्महत्या के लिए सुशांत द्वारा इस्तेमाल किए गए कपड़े का होगा टेस्ट

नई दिल्ली, जेएनएनl पीटीआई की रिपोर्टों के अनुसार सुशांत सिंह राजपूत द्वारा खुद को फांसी देने के लिए उपयोग किए गए कपड़े का टेस्ट होगाl यह परीक्षण 'तन्य शक्ति' के अधीन किया जाएगा। परीक्षण में यह निर्धारित किया जाएगा कि क्या यह सुशांत के समान वजन सहन कर सकता है। मुंबई पुलिस सुशांत सिंह राजपूत की आत्महत्या के मामले में तेजी से कार्रवाई कर रही है। 14 जून को सुशांत ने आत्महत्या कर लीl इसके बाद पुलिस ने अब तक 28-30 लोगों से पूछताछ की है। उनकी विस्तृत ऑटोप्सी रिपोर्ट के बाद पुलिस ने पुष्टि की कि अभिनेता की मौत का कारण फांसी के कारण हुई श्वासावरोध है।

बाद में आई उनकी विसरा रिपोर्ट में किसी भी तरह के संदिग्ध रसायन या जहर से भी इनकार किया गया हैं। अब यहां SSR की आत्महत्या के मामले में नया डेवलपमेंट हुआ है। पीटीआई की एक रिपोर्ट के अनुसार पुलिस अब उस कपड़े को लैब में भेजेगी, जो सुशांत ने कथित तौर पर खुद को लटकाने के लिए इस्तेमाल किया था। रिपोर्ट के अनुसार, 'तन्य शक्ति ’का विश्लेषण यह निर्धारित करेगा कि यह अभिनेता के समान भार वहन कर सकता है या नहीं।

पीटीआई के हवाले से लिखा है, 'अभिनेता के शरीर से लिए विसरा के अलावा, पुलिस ने कलिना में फोरेंसिक साइंस लेबोरेटरी (एफएसएल) में रासायनिक और फोरेंसिक विश्लेषण के लिए गाउन भी भेजा है। अंतिम फोरेंसिक रिपोर्ट आने में कम से कम तीन दिन और लगेंगे। मृत्यु के सटीक कारण का पता लगाने के लिए फोरेंसिक विशेषज्ञ सुशांत के गले के आसपास के पैटर्न की जांच भी करेंगे और 'तन्यता ताकत' विश्लेषण की मदद से गाउन की ताकत भी निर्धारित करेंगे।'

PTI ने अधिकारी के हवाले से कहा, 'तन्यता ताकत परीक्षण तकनीकी रूप से स्थापित करेगा कि क्या कपड़ा 80 किलो के आसपास का वजन उठा सकता है। परीक्षण यह निर्धारित करने में मदद करेगा कि कोई गलत काम तो नहीं हुआ था। आमतौर पर नियमित मामलों में एफएसएल से रिपोर्ट प्राप्त करने में आठ से दसका समय लगता हैं लेकिन चूंकि यह मामला संवेदनशील है, इसलिए विशेषज्ञ अपने विश्लेषण में किसी भी तरह की त्रुटि से बचने के लिए अधिक सावधानी बरत रहे हैं।' इस बीच पुलिस ने पहले से ही सुशांत की प्रेमिका रिया चक्रवर्ती, दोस्त महेश शेट्टी, फिल्म दिल बेचारा के निर्देशक मुकेश छाबड़ा, वाईआरएफ की कास्टिंग डायरेक्टर शानू शर्मा सहित कई अन्य लोगों से पूछताछ कर चुकी है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.