Box Office पर 100 करोड़ लेकर ही मानेगी यह स्त्री, 12 दिनों में कमा चुकी इतने करोड़

मुंबई। राजकुमार राव और श्रद्धा कपूर की हॉरर कॉमेडी 'स्त्री' दूसरे हफ़्ते में चल रही है और बॉक्स ऑफ़िस पर अभी भी अपना जलवा दिखा रही है। रिलीज़ के 12 दिनों में फ़िल्म का कलेक्शन 90 करोड़ के पास पहुंच गया है।

सोमवार को आम तौर पर फ़िल्मों के कलेक्शंस गिरते हैं, क्योंकि कामकाजी हफ़्ता शुरू हो जाता है। स्त्री का यह दूसरा सोमवार (10 सितम्बर) था, लिहाज़ा फ़िल्म की रफ़्तार कुछ हल्की रही। फिर भी इसने ₹3.31 करोड़ हासिल कर लिये। मंगलवार को भी कलेक्शंस में ज़्यादा गिरावट नहीं आयी और स्त्री ने ₹3.22 करोड़ जमा किये, जिसके साथ फ़िल्म का 12 दिनों का कलेक्शन ₹88.82 करोड़ हो गया है। अब 100 करोड़ के लिए इसे सिर्फ़ ₹11.18 करोड़ चाहिए। अगर स्त्री 100 करोड़ क्लब में शामिल होती है तो 2018 की यह आठवीं फ़िल्म होगी। इन फ़िल्मों को 100 करोड़ तक पहुंचने में जितने दिन लगे, वो इस प्रकार हैं-

फ़िल्म ने शुक्रवार (7 सितम्बर) को दूसरे हफ़्ते में एंट्री ली थी और ₹4.39 करोड़ जमा किये थे, जबकि शनिवार को ₹7.63 करोड़ जमा कर लिये। दूसरे रविवार को स्त्री ने 10 दिनों का सफ़र पूरा कर लिया और ₹9.22 करोड़ का कलेक्शन किया था। 

'स्त्री' का पहला हफ़्ता

'स्त्री' 31 अगस्त को सिनेमाघरों में पहुंची थी। फ़िल्म ने पहले दिन ₹6.82 करोड़ की शानदार ओपनिंग ली। दूसरे दिन ज़बर्दस्त उछाल लिया और शनिवार को ₹10.87 करोड़ जमा कर लिये। यह बढ़त रिलीज़ के तीसरे दिन यानि रविवार को भी जारी रही और फ़िल्म ने ₹14.38 करोड़ का कलेक्शन किया। इस तरह ओपनिंग वीकेंड में ही स्त्री को ₹32.07 करोड़ मिल गये थे। पहले सोमवार (3 सितम्बर) को कृष्ण जन्माष्टमी की छुट्टी का भी फ़िल्म को भरपूर फ़ायदा मिला और इसने ₹9.70 करोड़ का शानदार कलेक्शन किया। मंगलवार (4 सितम्बर) को स्त्री ने ₹6.37 करोड़ बटोर लिये, वहीं बुधवार (5 सितम्बर) को ₹6.55 करोड़ की रकम जुटाने में स्त्री कामयाब रही।गुरुवार (6 अगस्त) को सातवें दिन ₹5.50 करोड़ के साथ स्त्री ने ₹60.39 करोड़ का आंकड़ा हासिल कर लिया था। ब्लॉकबस्टर होने के रास्ते पर स्त्री इस मंझले बजट की फ़िल्म को बनाने में तक़रीबन ₹20 करोड़ निर्माताओं ने ख़र्च किये हैं, जिसमें प्रोडक्शन और प्रचार की लागत शामिल है। निर्माताओं ने म्यूज़िक, सेटेलाइट और दूसरे अधिकार बेचकर वसूल कर ली है। फ़िल्म ब्लॉकबस्टर घोषित होने के रास्ते पर चल पड़ी है।

अब ख़ुद से ही टकराएंगे राजकुमार

'स्त्री' में राजकुमार राव, श्रद्धा कपूर, पंकज त्रिपाठी, अपारशक्ति खुराना और अभिषेक बैनर्जी मुख्य भूमिकाओं में हैं। अपनी दमदार अदाकारी से बॉलीवुड में भरोसेमंद एक्टर बनते जा रहे राजकुमार की स्थिति को 'स्त्री' और मज़बूत करेगी। अगर हाल में रिलीज़ हुई राजकुमार अभिनीत (मुख्य भूमिका व सहायक भूमिका) कुछ फ़िल्मों को देखें तो यह उनका सर्वश्रेष्ठ कलेक्शन है। राजकुमार राव 14 सिम्बर को रिलीज़ हो रही फ़िल्म 'लव सोनिया' में एक अहम किरदार निभाते हुए देखे जाएंगे। स्त्री सिनेमाघरों में अभी भी चल रही है और 100 करोड़ क्लब की दावेदार बन चुकी है। लव सोनिया की रिलीज़ से स्त्री पर असर पड़ता है या नहीं, यह देखना दिलचस्प रहेगा। राजकुमार राव की पिछली कुछ फ़िल्मों का बॉक्स ऑफ़िस रिज़ल्ट ऐसा रहा है-

श्रद्धा के लिए लकी रही 'स्त्री'

वहीं श्रद्धा कपूर के लिए 'स्त्री' लकी साबित हुई है। श्रद्धा इसके बाद 'बत्ती गुल मीटर चालू' में नज़र आएंगी, जिसमें शाहिद कपूर लीड रोल में हैं। 'स्त्री' की सक्सेस का असर 'बत्ती गुल मीटर चालू' पर नज़र आ सकता है। अगर पिछले कुछ सालों में आयीं श्रद्धा की ऐसी फ़िल्में देखें, जिनमें उन्होंने मुख्य किरदार निभाया है तो उनमें स्त्री बेस्ट है।

छुट्टी पर फ़िल्म को रिलीज़ करना ज़रूरी तो नहीं!

'स्त्री' जैसी फ़िल्में हॉलीडे रिलीज़ पर निर्भरता को ख़त्म करके फ़िल्मकारों को कंटेंटे का रास्ता दिखाती हैं। यह फ़िल्में बताती हैं कि अगर फ़िल्म की कहानी, विषयवस्तु और निर्देशन में कसाव होगा तो कोई वजह नहीं कि दर्शक सिनेमाघर में फ़िल्म देखने ना पहुंचे। 'स्त्री' इस साल की उन फ़िल्मों में शामिल हो गयी है, जो नॉन हॉलीडे पर रिलीज़ हुई हैं और शानदार कमाई की है। इनमें अभी तक 'सोनू के टीटू की स्वीटी', 'संजू' और 'राज़ी' शामिल हैं, जो किसी नॉन हॉलीडे पर रिलीज़ हुईं। संजू ने ₹341 करोड़ का कलेक्शन किया, तो 'राज़ी' और 'सोनू के टीटू की स्वीटी' ₹100 करोड़ के पार रही हैं। 2017 में आयी 'बाहुबली 2- द कंक्लूज़न' भी नॉन हॉलीडे (29 अप्रैल) पर आयी थी और ₹511 करोड़ का कलेक्शन किया था।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.