Raj Kundra Case: मजिस्ट्रेट कोर्ट ने खारिज की राज कुंद्रा की ज़मानत याचिका, बॉम्बे हाई कोर्ट में सुनवाई कल

राज कुंद्रा को पोर्नोग्राफिक फ़िल्म रैकेट केस में 19 जुलाई को गिरफ़्तार किया था। उन पर अश्लील फ़िल्मों का निर्माण करने और उन्हें ऐप के ज़रिए प्रसारित करने का आरोप है। राज के ख़िलाफ़ भारतीय दंड संहिता और आईटी एक्ट की धाराओं में मुकदमा दर्ज़ किया गया है।

Manoj VashisthWed, 28 Jul 2021 03:07 PM (IST)
Raj Kundra arrested in pornographic films case.

नई दिल्ली, जेएनएन। पोर्नोग्राफिक फ़िल्म रैकेट केस में गिरफ़्तार राज कुंद्रा और सहयोगी रायन थोर्पे की ज़मानत याचिका मुंबई की मजिस्ट्रेट कोर्ट ने खारिज़ कर दी है। पुलिस कस्टडी की अवधि समाप्त होने पर मंगलवार को अदालत ने राज कुंद्रा को 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेजा था। 

राज कुंद्रा को पोर्नोग्राफिक फ़िल्म रैकेट केस में 19 जुलाई को गिरफ़्तार किया था। उन पर अश्लील फ़िल्मों का निर्माण करने और उन्हें ऐप के ज़रिए प्रसारित करने का आरोप है। राज के ख़िलाफ़ भारतीय दंड संहिता और आईटी एक्ट की धाराओं में मुकदमा दर्ज़ किया गया है।

राज ने अपनी गिरफ़्तारी को अवैध बताते हुए बॉम्बे हाई कोर्ट में भी ज़मानत के लिए याचिका दायर की है, जिस पर मंगलवार को सुनवाई हुई थी, मगर उन्हें अंतरिम राहत नहीं मिल सकी। हाई कोर्ट ने सुनवाई गुरुवार तक स्थगित कर दी थी। गुरुवार को सुनवाई के दौरान जांच अधिकारी को भी उपस्थित रहने के लिए कहा गया है। 

गिरफ़्तारी के बाद राज कुंद्रा को 23 जुलाई तक पुलिस कस्टडी में भेजा गया था, जिसे बाद में बढ़ाकर 27 जुलाई तक कर दिया गया था। 27 जुलाई को मजिस्ट्रेट कोर्ट ने राज कुंद्रा को न्यायिक हिरासत में भेज दिया। उन्हें मुंबई की आर्थर रोड जेल में रखा गया है। बता दें, इस मामले में पुलिस ने राज की पत्नी अभिनेत्री शिल्पा शेट्टी से भी पूछताछ की है। शिल्पा के खातों की जांच भी की जा रही है।

मंगलवार को पुलिस के हवाले से एएनआई ने बताया था कि शिल्पा को इस मामले में अभी क्लीन चिट नहीं दी गयी है। इस केस में उनकी भूमिका की जांच की जा रही है। बुधवार को पुलिस ने एक्ट्रेस गहना वशिष्ठ के ख़िलाफ़ भी मामला दर्ज़ कर लिया। उन्हें इस केस में सह-आरोपी बनाया गया है।

इसके अलावा पुलिस ने राज कुंद्रा की कम्पनी के कुछ और प्रोड्यूसर्स के ख़िलाफ़ भी रिपोर्ट दर्ज़ की है। मजिस्ट्रेट कोर्ट से ज़मानत अर्ज़ी खारिज होने के बाद अब राज कुंद्रा की सारी उम्मीदें गुरुवार को बॉम्बे हाई कोर्ट में होने वाली सुनवाई पर टिकी हैं। 

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.