पाकिस्तानी सिंगर्स आतिफ़ असलम और राहत फ़तेह अली के गानों का ऐसे हुआ सफ़ाया

मुंबई। पुलवामा में सी आर पी एफ के काफिले पर हुए आतंकी हमले के ख़िलाफ़ देश उबल रहा है और पाकिस्तान व आतंकियों के ख़िलाफ़ कड़ी कार्रवाई की मांग कर रहा है। सरकार मुंहतोड़ जवाब देने का वचन दे चुकी है लेकिन उससे पहले दो पाकिस्तानी प्लेबैक गायकों को पुलवामा हमले का खामियाज़ा भुगतना पड़ा है।

बॉलीवुड म्यूज़िक में वर्षों से बड़ा नाम कमा रहे पाकिस्तान के गायक आतिफ़ असलम और राहत फ़तेह अली खान के गानों को म्यूज़िक कंपनी टी- सीरीज़ ने अपने यू- ट्यूब एकाउंट से हटा दिया है। वैसे ये गाना यू-ट्यूब पर बाकी एकांउट से मौजूद है l जानकारी के मुताबिक म्यूज़िक लेबल ने पुलवामा हमले के बाद ये कार्रवाई की है। सलमान खान की फिल्म टाइगर ज़िंदा है के 'दिल दियां गल्ला' सहित कई सुपरहिट गानों के सिंगर आतिफ़ असलम का गाना (वीडियो ) 'बारिशें ' 13 फरवरी को अपलोड किया गया था, जिसे हटा दिया गया है। इसी तरह राहत फ़तेह अली खान का गाना 'ज़िन्दगी' 15 फरवरी को यू-ट्यूब पर चढ़ाया गया था। उसे भी रीमूव कर दिया गया है।

हालाँकि टी- सीरीज़ ने इस बारे में कोई आधिकारिक बयान नहीं जारी किया है लेकिन बताया जाता है कि देश के वर्तमान हालात को देखते हुए ऐसा किया गया है।

The attack on CRPF soldiers in Kashmir is extremely disturbing to say the least. There is no glory in this. Right now one can only think of the families of the martyred and pray for those injured soldiers who are fighting for their lives.

इस बीच महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना ने सभी म्यूज़िक कंपनियों से कहा है कि वो किसी भी पाकिस्तानी संगीत कलाकार के साथ काम करना बंद कर दें। मनसे चित्रपट सेना के प्रमुख अमेय खोपकर ने बताया कि सभी म्यूज़िक लेबल्स को चेतावनी दी गई है कि वो पाकिस्तानी संगीतकारों और गायकों से कोई संबंध न रखें और यदि वो ऐसा नहीं करते हैं तो सेना अपने तरीके से उनसे निपटेगी।

यह भी पढ़ें: पुलवामा बदला : कपिल के शो में सिद्धू को देख बौखलाये लोग, सोशल मीडिया ट्रेंड

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.