Divya Agarwal की वजह से नेहा भसीन को आने लगे आत्महत्या के ख्याल? इन आरोपों पर एक्ट्रेस ने यूं किया रिएक्ट

करण जौहर का शो ‘बिग बॉस ओटीटी’ भले ही खत्म हो गया हो लेकिन शो में कंटेस्टेंट के बीच आई दरार अब भी कायम है। ‘बिग बॉस ओटीटी’ विनर दिव्या अग्रवाल के साथ शमिता शेट्टी और नेहा भसीन के रिश्ते कुछ खास नहीं रहे।

Nazneen AhmedTue, 21 Sep 2021 08:52 AM (IST)
Photo credit - neha Bhasin and Divya Insta

नई दिल्ली, जेएनएन। करण जौहर का शो ‘बिग बॉस ओटीटी’ भले ही खत्म हो गया हो, लेकिन शो में कंटेस्टेंट के बीच आई दरार अब भी कायम है। ‘बिग बॉस ओटीटी’ विनर दिव्या अग्रवाल के साथ शमिता शेट्टी और नेहा भसीन के रिश्ते कुछ खास नहीं रहे। पूरे सीज़न नेहा, शमिता का दिव्या के साथ झगड़ा ही देखा गया। शो से बाहर निकलने के बाद भी नेहा ने दिव्या पर आरोप लगाया कि उनकी वजह से उनकी मानसिक स्थिती पर बहुत असर पड़ा है।

एक वेबसाइट से बात करते हुए नेहा ने कहा कि अंडरगारमेंट्स वाले सीन ने मुझे बहुत चोट पहुंचाई थी। करियर की शुरुआत में मुझे दिव्या जैसे कई लोग मिले जो लोगों के दिमाग से खेलते हैं जिनकी वजह से मैं डिप्रेशन में चली गई थीं और सुसाइड के ख्याल आने लगे थे। दिव्या भी ऐसा ही कुछ कर रही है’।

नेहा के इन आरोपों पर अब बिग बॉस ओटीटी विनर दिव्या अग्रवाल ने जवाब दिया है। स्पॉटब्वॉय से बात करते हुए नेहा ने कहा, ‘ये बहुत फनी है कि लोग कैसे दूसरों को इतना प्रभावित कर सकते हैं। वो हमेशा कहती हैं कि वो बहुत मज़बूत महिला हैं, लेकिन मज़बूत महिला वो होती है जो अपने डर को अपना सके और उससे बाहर आ सके। घर के अंदर बहुत बार नेहा ने बताया कि वो बचपन में बहुत रोई हैं, बचपन से ही लोगों ने उन्हें बहुत धमकियां दी हैं, फिर भी मैं बहुत मज़बूत हूं। लेकिन मेरा मानना है कि आप तब मजबूत होते हैं जब आप उनक चीज़ों से बाहर आ जाते है और वो चीजें आपके ऊपर प्रभाव नहीं डालती हैं’।

आगे दिव्या ने कहा, ‘जब आप महिलाओं के हक के बारे में बात करते है और कहते हैं कि महिलाएं ऐसी हैं र वैसी हैं तो बैठकर अपने ऊपर ही सवाल न ऊठाएं कि मुझे नहीं पता बाहर क्या दिख रहा है? मुझे नहीं पता बाहर क्या होगा? मैंने कभी ये कभी बात नहीं कि मैं बाहर कैसी दिख रही होंगी। क्योंकि वो मेरे साथ-साथ मुझ जैसी कई मजबूत महिलाओं के बारे में भी कह रही हैं। ये कहकर कि दिव्या ने मुझे प्रभावित किया है। मेरी तरह बहुत सी महिलाएं मौजूद हैं जो अपने लिए खड़ी होती हैं और परिस्थितियों से जीतती हैं’।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.