Kabir Bedi ने 70 साल की उम्र में की थी चौथी शादी, निजी ज़िंदगी में बिंदास फैसलों के लिए जाने जाते हैं दिग्गज एक्टर

कबीर बेदी ने विश्व सिनेमा में ख़ूब काम किया है। फोटो- इंस्टाग्राम/कबीर बेदी

कबीर की मां फ्रीडा बेदी एक ब्रिटिश महिला थीं। नैनीताल के शेरवुड कॉलेज से स्कूलिंग और दिल्ली के सेंट स्टीफंस कॉलेज से स्नातक की पढ़ाई पूरी करने के बाद कबीर बेदी ने अपने करियर की शुरुआत थियेटर से की थी।

Publish Date:Fri, 15 Jan 2021 08:00 PM (IST) Author: Manoj Vashisth

नई दिल्ली, जेएनएन। ज़िंदगी को अपनी शर्तों पर जीने का जो हुनर दिग्गज अभिनेता कबीर बेदी के पास है, वो उन्हें दूसरों से अलग करता है और ख़ास बनाता है। 16 जनवरी को उन्होंने उम्र का 75वां पड़ाव छू लिया। कबीर बेदी हिंदी सिनेमा के उन कलाकारों में रहे हैं, जिन्होंने खुद को तमाम बंदिशों से आज़ाद रखा और जो दिल को सही लगा, वो किया। ऐसा ही एक फैसला था, पांच साल पहले 70 साल की उम्र में चौथी शादी करना, जिसने सभी को चौंका दिया था।

कबीर बेदी का जन्म 16 जनवरी 1946 को लाहौर में हुआ था, जो आज़ादी के बाद पाकिस्तान में चला गया। इनका जन्म एक पंजाबी सिख परिवार में हुआ था और इनके पिता बाबा प्यारे लाल सिंह बेदी विभाजन के बाद इंडिया आ गए। वो एक जाने-माने राइटर और थिंकर रहे हैं। कबीर की मां फ्रीडा बेदी एक ब्रिटिश महिला थीं। नैनीताल के शेरवुड कॉलेज से स्कूलिंग और दिल्ली के सेंट स्टीफंस कॉलेज से स्नातक की पढ़ाई पूरी करने के बाद कबीर बेदी ने अपने करियर की शुरुआत थियेटर से की थी।

कबीर बेदी की पहली बॉलीवुड फ़िल्म ‘हलचल’ साल 1971 में रिलीज़ हुई थी लेकिन, उनकी पहचान बनी फ़िल्म 'ताज महल: एन एटर्नल लव स्टोरी' से। इस फ़िल्म में उन्होंने सम्राट शाहजहां का यादगार किरदार निभाया था।बॉलीवुड फ़िल्मों में 'सज़ा', 'कच्चे धागे', मां बहन और बीवी', 'अनाड़ी', 'नागिन', 'अशांति', 'आखिरी कसम', 'खून भरी मांग', 'दिल आशना है', 'क्षत्रिय' 'क्रांति', 'मैं हूं ना, 'दिलवाले' और 'मोहनजोदड़ो' जैसी उल्लेखनीय फ़िल्में उनके हिस्से में हैं। 

जेम्स बॉन्ड से दो-दो हाथ

कबीर बेदी ने बॉलीवुड से बाहर विश्व सिनेमा में काफ़ी काम किया। सत्तर और अस्सी के दौर में वो हॉलीवुड फ़िल्मों और टीवी में नज़र आते रहे। सत्तर के दशक में आयी उनकी इटेलियन टीवी सीरीज़ सैंडोकन आज भी याद की जाती है। यह इटली के साथ जर्मनी और फ्रांस भी प्रसारित की गयी थी और व्यूअरशिप के रिकॉर्ड तोड़े थे। यह ब्रिटिश उपनिवेश के दौरान एक दक्षिण एशियाई पाइरेट की प्रेम कहानी थी। 1979 में उन्होंने स्पेनिश फ़िल्म अशांति में काम किया, जिसकी मुख्य स्टार कास्ट का वो हिस्सा थे। इस फ़िल्म में उन्होंने कई दिग्गजों के साथ स्क्रीन स्पेस शेयर किया था।

मगर, हॉलीवुड में कबीर बेदी की सबसे बड़ी याद जेम्स बॉन्ड की फ़िल्म है। कबीर ने साल 1983 में जेम्स बांड सीरीज़ की फ़िल्म 'Octopussy' में रोजर मूर जैसे हॉलीवुड अभिनेता के साथ काम किया। इस सीरीज़ में काम करने वाले कबीर पहले भारतीय अभिनेता थे। इस फ़िल्म में उन्होंने नेगेटिव किरदार निभाया था। फ़िल्म के दृश्यों में जेम्स बॉन्ड से दो-दो हाथ करते नज़र आये थे। 

चार शादियों के लिए रहे चर्चा में

कबीर की पहली शादी डांसर प्रोतिमा बेदी (1969–1973) से हुई, जिससे उनकी बेटी पूजा बेदी और बेटा सिद्धार्थ हुए। उन्होंने दूसरी शादी ब्रिटिश फैशन डिजाइनर सुसान हम्फ्रीस से की। यह शादी भी बहुत दिनों तक नहीं चल सकी। कबीर ने 1990 के दशक में तीसरी शादी टीवी और रेडियो प्रेजेंटर निक्की से की थी। 2005 में ये रिश्ता भी तलाक पर खत्म हुआ। इसके बाद से ही कबीर ब्रिटिश मूल की अभिनेत्री और मॉडल परवीन दोसांज के साथ रिलेशनशिप में थे।

दस साल तक लिव-इन में रहने के बाद दोनों ने साल 2016 में शादी कर ली। कबीर की चौथी पत्नी परवीन (उम्र करीब 40 साल) उनकी बेटी पूजा बेदी से भी चार साल छोटी हैं। इस शादी पर बेटी पूजा बेदी ने अपनी कड़ी नाराजगी जताई थी। कबीर बॉलीवुड एक्ट्रेस अलाया एफ के नाना हैं।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.