Happy Birthday: कभी दिल्ली की गलियों में स्टेज शो करते थे सोनू निगम, आज हैं हिंदी संगीत के एक शानदार गायक

सोनू निगम एक ऐसे गायक जिसने अपनी खूबसूरत आवाज से पूरी दुनिया का दिल जीता है। उनकी आवाज के हर उम्र के लोग दीवाने हैं लेकिन यह बात सोनू निगम के बहुत कम चाहने वालों को पता होगी कि वह फिल्म इंडस्ट्री में एक गायक नहीं अभिनेता बनने आए थे।

Anand KashyapThu, 29 Jul 2021 04:36 PM (IST)
गायक सोनू निगम , तस्वीर- Instagram: sonunigamofficial

नई दिल्ली, जेएनएन। सोनू निगम, एक ऐसे गायक जिसने अपनी खूबसूरत आवाज से पूरी दुनिया का दिल जीता है। उनकी आवाज के हर उम्र के लोग दीवाने हैं, लेकिन यह बात सोनू निगम के बहुत कम चाहने वालों को पता होगी कि वह फिल्म इंडस्ट्री में एक गायक नहीं अभिनेता बनने आए थे। हालांकि अभिनय की दुनिया में सोनू सूद वह नाम और शौहरत नहीं हासिल कर सके जो उन्होंने गायिकी में की है।

सोनू निगम का जन्म 30 जुलाई, 1973 को हरियाणा के फरीदाबाद में हुआ था। उनके पिता अगम कुमार दिल्ली के एक मशहूर स्टेज गायक थे। अपने पिता के साथ 3 साल की उम्र से ही सोनू ने स्टेज शो करने शुरू कर दिए थे। अपने पिता के मार्गदर्शन में ही सोनू निगम ने अपना करियर आगे बढ़ाया। दिल्ली के बाद सोनू मुंबई आए और अपना करियर बनाने की कोशिश की। यहां भी उन्हें कड़े इम्तिहानों से गुजरना पड़ा। शुरुआत में सोनू निगम ने कई शो में हिस्सा लेकर अपनी गायकी का लोहा मनवाया। एक समय ऐसा भी आया जब सोनू निगम को बतौर प्रतियोगी किसी भी संगीत शो में हिस्सा नहीं लेने दिया जा रहा था क्योंकि हर बार वही जीतते थे। उसके बाद सोनू निगम को बतौर जज या गेस्ट बुलाया जाने लगा।

सोनू निगम ने पहली बार 18 साल की उम्र में फिल्म 'आजा मेरी जान' के लिए गाना गाया। दुर्भाग्यवश यह फिल्म कभी रिलीज ही नहीं हुई और इसके बाद सोनू निगम को एक बेहतरीन मौका मिला टी-सीरीज के लिए गाना रिकॉर्ड करने का। इस तरह सोनू निगम ने 'रफी की यादें' से अपने करियर की शुरुआत की। उसके बाद फिल्म सनम बेवफा के गीत 'अच्छा सिला दिया तूने' से उन्हें अपार सफलता मिली। फिल्म सनम बेवफा के बाद सोनू को कई बेहतरीन ऑफर मिले और देखते ही देखते वह हिन्दी सिनेमा में एक जाने-माने गायक बन गए।

'बॉडर' फिल्म का संदेसे आते हैं और 'परदेस' का ये दिल दीवाना गाकर उन्होंने इंडस्ट्री में अपनी एक मजबूत पकड़ बना ली। सोनू हिंदी के अलावा कन्नड़, उड़िया, तमिल, असमी, मराठी, पंजाबी, मल्यालम, तेलगु और नेपाली इन सभी भाषाओं में अपनी आवाज का जदू बिखेर चुके हैं। इसके अलावा उन्होंने हॉलीवुड की एनिमेटेड फिल्म 'अलाउद्दीन' और 'रीओ' में अपनी आवाज दी है।

सोनू निगम के करियर में टीवी शो 'सा रे गा मा' ने भी बहुत अहम रोल अदा किया। उन्होंने इस शो के होस्ट थे। सोनू निगम ने अपने करियर में कई बेहतरीन गाने दिए। उन्होंने अपनी गायकी के लिए कई अवार्ड भी जीते हैं। सोनू निगम को दो बार फिल्मफेयर अवार्ड फिल्म 'साथिया', 'कल हो ना हो' के लिए मिला है, इसके अलावा 'कल हो ना हो' के लिए ही उन्हें नेशनल फिल्म अवार्ड फॉर बेस्ट प्लेबैक सिंगर भी मिल चुका है। 

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.