Happy Birthday Genelia DSouza: सीएम का बेटा होने के कारण रितेश को बिगड़ैल समझती थीं जेनेलिया, ऐसे शुरू हुई लव स्टोरी

Happy Birthday Genelia D'Souza: सीएम का बेटा होने के कारण रितेश को बिगड़ैल समझती थीं जेनेलिया, ऐसे शुरू हुई लव स्टोरी
Publish Date:Wed, 05 Aug 2020 10:22 AM (IST) Author: Priti Kushwaha

नई दिल्ली, जेएनएन। बॉलीवुड फिल्म इंडस्ट्री की चुलबुली एक्ट्रेस जेनेलिया डिसूजा और एक्टर रितेश देशमुख की जोड़ी काफी फेमस है। फैंस इस क्यूट और चार्मिंग जोड़ी को काफी पसंद करते हैं। जेनेलिया डिसूजा ने अपनी डेब्यू फिल्म 'तुझे मेरी कसम' से ही लोगों के दिलों में खास जगह बना ली थी। आज जेनेलिया का जन्मदिन है। उनका जन्म 5 अगस्त, 1987 को मुंबई में हुआ था। जेनेलिया और रितेश लव स्टोरी के बारे में कम लोग ही जानते होंगे कि रितेश की फैमिली इस शादी के खिलाफ थे। लेकिन दोनों ने घरवालों को किसी तरह से इस रिश्ते के लिए मनाया। आज हम आपको जे​नेलिया के जन्मदिन के खास मौके पर उनकी दिलचस्प लव स्टोरी के बारे में बताने जा रहे हैं।

रितेश देशमुख और जेनेलिया की पहली मुलाकात काफी दिलचस्प थी। दोनों  पहली बार हैदराबाद में फिल्म 'तुझे मेरी कसम' के टेस्ट शूट के दौरान मिले थे। जब पहली बार जेनेलिया ने रितेश को एयरपोर्ट पर देखा था तो उन्होंने रितेश को देखते ही नजरअंदाज कर दिया था। दरअसल, जेनेलिया को पता था कि रितेश विलासराव देशमुख महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री के बेटे हैं। तो उन्हें लगा कि वह एक अमीर घर के बिगड़े हुए लड़के होंगे।  इस बात का खुलासा रितेश ने एक इंटरव्यू में किया था। यही कारण था कि जेनेलिया ने रितेश को अनदेखा कर दिया था। लेकिन उन्हें देखते ही रितेश उन्हें अपना दिल दे बैठे थे।

इसके बाद फिल्म 'तुझे मेरी कसम' के सेट पर जब दोनों के बीच दोस्ती हो गई। वहीं जब हैदराबाद में शूटिंग खत्म होने के बाद रितेश और जेनेलिया अगल हुएत तो रितेश उन्हें काफी मिस कर रहे थे। बस फिर क्या था यहीं ये शुरू हुई देानों की लव स्टोरी। 'तुझे मेरी कसम' के बाद दोनों ने एक बार फिर फिल्म 'मस्ती' में साथ काम किया। लेकिन रितेश और जेनेलिया ने कभी भी अपने रिश्तो को ओपेन नहीं किया था।  

बता दें​ कि रितेश के पिता विलासराव देखमुख को यह रिश्ता पसंद नहीं था। लेकिन रितेश भी जेनेलिया को बेइंतहा प्यार करते थे और किसी कीमत पर उनसे अलग होने के तैयार नहीं थे। आखिरकार रितेश के पिता को उनके प्यार के आगे झुकना पडा और वे इस रिश्ते के लिए मान गए। इसके बाद दोनों ने 10 साल तक एक दूसरे को डेट किया और 3 फरवरी, 2012 को शादी कर ली। उनकी शादी दो रीतिरिवाज से हुई। पहले उनकी क्रिश्चियन वेडिंग हुई फिर महाराष्ट्रियन। जेनेलिया क्रिश्चियन परिवार से हैं इसलिए पहले चर्च में शादी हुई। दूसरी बार महाराष्ट्रियन रीति रिवाज के साथ दोनों ने सात फेरे लिए ​गए। 

जेनेलिया के वर्कफ्रंट की बात करें तो उन्होंने 'तुझे मेरी कसम', 'जाने तू या जाने ना', 'चांस पे डांस', 'फोर्स' और 'तेरे नाल लव हो गया', 'मस्ती' सहित कई बॉलीवुड फिल्मों में काम किया है। हिंदी के अलावा जेनेलिया ने तमिल, तेलुगू, मलयालम, कन्नड़ और मराठी फिल्में भी की हैं।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.