99 Songs से डेब्यू करने वाले एक्टर एहान भट्ट ने कहा- अच्छी लगती है कहानियों की दुनिया

फिल्म '99 सांग्स' से एहान भट हिंदी, तमिल और तेलुगु सिनेमा में एक साथ कदम रख रहे हैं।

99 सांग्स फिल्म बतौर निर्देशक ए आर रहमान की यह पहली फिल्म है। फिल्म में एक संगीतकार जय का किरदार निभाने वाले एहान को इस फिल्म से काफी उम्मीदे हैं तथा वह आगे अनुराग कश्यप और जोया अख्तर जैसे फिल्मकारों के साथ काम करना चाहते हैंl

Rupesh KumarSat, 17 Apr 2021 04:39 PM (IST)

दीपेश पांडेय,मुंबईl सिनेमाघरों में रिलीज हो चुकी फिल्म '99 सांग्स' से एहान भट हिंदी, तमिल और तेलुगु सिनेमा में एक साथ कदम रखा है। दरअसल, यह फिल्म इन तीन भाषाओं में एकसाथ रिलीज हुई है। बतौर लेखक और निर्माता संगीतकार ए आर रहमान की यह पहली फिल्म है। फिल्म में एक संगीतकार जय का किरदार निभाने वाले एहान आगे अनुराग कश्यप और जोया अख्तर जैसे फिल्मकारों के साथ काम करना चाहते हैंl

कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर चल रही है, ऐसे में कॅरियर की पहली फिल्म का रिलीज होना कितना सुरक्षित मानते हैं?

मुझे यकीन है कि परिस्थितियों को देखते हुए सरकार जो भी फैसला लेगी सही ही लेगी। लोगों की सेहत और सुरक्षा सर्वोपरि है। जो फिल्म की किस्मत में है वही होगा। बस मैं इतनी उम्मीद करता हूं कि परिस्थितियां जल्दी नियंत्रण में आ जाएं और सुरक्षा के दिशानिर्देशों का पालन करते हुए लोग मेरी फिल्म देखें।

अभिनेता बनने का सफर कैसा रहा?

मैं मूलत: कश्मीर से हूं। मेरे पिता का व्यापार है और मां गृहिणी हैं। मैं बचपन से ही अभिनेता बनना चाहता था। 12वीं के बाद पढ़ाई के लिए मैं दिल्ली आ गया। यहां आने के बाद इंटरनेट मीडिया के जरिए फिल्मकारों को अपने ऑडिशन भेजता था, लेकिन बात नहीं बनी। मुझे लग रहा था कि जैसे मुंबई मुझे बुला रही हो। पढ़ाई खत्म होते ही मैं मुंबई चला आया और फिल्मों के लिए ऑडिशन देने लगा। कई ऑडिशन देने के बाद साल 2016 में मैंने इस फिल्म का ऑडिशन दिया। कुछ महीनों बाद फोन आया कि मैं इस फिल्म के लिए चुन लिया गया हूं।

आपने इस फिल्म के लिए पियानो बजाना सीखने में काफी वक्त दिया?

फिल्म में चुने जाने के बाद सबसे पहले तो मुझे चेन्नई भेजा गया जहां मैंने करीब एक साल तक पियानो बजाने का प्रशिक्षण लिया। उसके बाद रहमान सर ने मुझे थिएटर वर्कशॉप के लिए कुछ महीनों के लिए लॉस एंजिलिस भेजा। इस फिल्म के लिए मुझे करीब डेढ़ वर्ष तैयारी करनी पड़ी।

ऑडिशन और फिल्म रिलीज होने के बीच करीब पांच साल का अंतराल है। इस बीच दूसरा प्रोजेक्ट करने का विचार नहीं आया?

शुरुआती ढाई साल तो फिल्म की तैयारी और शूटिंग में ही निकल गए और पिछला एक साल कोरोना की चपेट में निकल गया। फिर भी मैंने कुछ दूसरे प्रोजेक्ट करने की कोशिश की। अब तक मैंने एक दूसरी वेब सीरीज की शूटिंग पूरी कर ली है, जिसे 16 मई को रिलीज करने की योजना है। इस बीच मैंने इम्तियाज अली के साथ एक शॉर्ट फिल्म 'आइज फॉर यू' और कुछ म्यूजिक वीडियो भी शूट किए। हाल ही में मैंने और कुछ प्रोजेक्ट साइन किए हैं।

फिल्म में एक डायलॉग है कि 'एक गाना पूरी दुनिया बदल सकता है' आपके जीवन पर सबसे ज्यादा प्रभाव किस गाने का रहा?

फिल्म में एक गाना है ओ मेरा चांद, जोकि मां अपने बच्चे के लिए गाती है। इस गाने को सुनते ही मुझे अपनी मां के साथ बिताए सारे सुखद अनुभव याद आने लगे। फिर ख्याल आया कि कैसे हमारे माता-पिता बूढ़े होते जा रहे हैं। यह सोचकर मैं आधी रात को मां के पास गया और उनके गले लिपटकर खूब रोया। उन्होंने इसका कारण पूछा तो मैंने बताया कि कैसे इस गाने को सुनकर मुझे उनके साथ बिताए सारे सुखद लम्हें याद आ गए।

आगामी दिनों के लिए क्या लक्ष्य तय किए हैं?

इम्तियाज अली और ए आर रहमान सर के साथ काम करने का मेरा सपना तो पूरा हो गया। मैं बड़ा अभिनेता बनना चाहता हूं। मैं कहानियों में ही खोया रहता हूं और लोगों को कहानियां ही बताना चाहता हूं। मैं अपना ज्यादा वक्त फिल्में देखने और किताबें पढऩे में बिताता हूं। मुझे फिल्मों और किताबों की काल्पनिक दुनिया में रहना पसंद है। जोया अख्तर और अनुराग कश्यप जैसे फिल्मकारों के साथ काम करना चाहता हूं। 

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.