Presenting Sponsor:

ममता जय श्रीराम के नारे से चिढ़ती हैं, यही नारा उनके पतन का कारण बनेगा : जेपी नड्डा

तोलाबाजी, तुष्टीकरण, तानाशाही को खत्म करने के लिए भाजपा को दें वोट : नड्डा

भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने कहा कि अब वो दिन दूर नहीं है जब यही जय श्रीराम का नारा उनके पतन का कारण बनेगी। उन्होंने कहा कि बंगाल 10 वर्षों के तृणमूल शासन में गर्त में चला गया।

Neel RajputMon, 19 Apr 2021 09:53 PM (IST)

कोलकाता, राज्य ब्यूरो। बंगाल में सोमवार को छठे चरण के प्रचार के अंतिम दिन भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने दो रोड शो के साथ एक जनसभा को संबोधित किया। उत्तर दिनाजपुर जिले के रायगंज में पार्टी उम्मीदवार के समर्थन में रोड शो के दौरान नड्डा ने लोगों से राज्य में प्रचलित तोलाबाजी (रंगदारी), तुष्टीकरण व तनाशाही को समाप्त करने की अपील करते हुए भाजपा को वोट देने की अपील की।

नड्डा ने कहा कि यह चुनाव बंगाल में आसोल परिवर्तन (वास्तविक परिवर्तन) और राज्य को सोनार बंगाल बनाने के लिए हो रहा है। जो तोलाबाजी, तुष्टीकरण और तानाशाही ममता बनर्जी के राज में चल रही है, उसको समाप्त करना है तो कमल खिलाना पड़ेगा। वहीं, बीरभूम जिले के सूरी में जनसभा को संबोधित करते हुए नड्डा ने ममता को नसीहत दे डाली। उन्होंने कहा कि ममता बनर्जी जय श्रीराम के नारे से चिढ़ती हैं। वो बात- बात पर गुस्सा करती हैं।उन्हें पीएम नरेंद्र मोदी से सीख लेनी चाहिए।

नड्डा ने साथ ही कहा कि अब वो दिन दूर नहीं है जब यही जय श्रीराम का नारा उनके पतन का कारण बनेगी। नड्डा ने कहा कि बंगाल 10 वर्षों के तृणमूल शासन में गर्त में चला गया। मां, माटी और मानुष की सरकार के दिन अब ढल गए हैं। इस सरकार का जाना तय है। नड्डा ने इससे पहले बीरभूम के सैंथिया में भी रोड शो किया। इसके बाद शाम में उन्होंने बोलपुर में टाउन हॉल मीटिंग भी की।

पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों से जुड़ी प्रमुख जानकारियों और आंकड़ों के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.