Balha Assembly by Election 2019 : ईवीएम खराबी के चलते कई जगह मतदान रहा प्रभावि, 51 फीसद मतदान Bahraich news

बहराइच, जेएनएन। गुलाबी ठंड के बीच छाई धुंध में बलहा विधानसभा उपचुनाव में सोमवार को 51 फीसद वोट पड़े। मतदान के दौरान कहीं कोई ङ्क्षहसा या झड़प तक नहीं हुई। सुबह सात बजे से मतदान शुरू हुआ तो मतदान केंद्रों पर कतारें नजर आने लगी। बड़ी संख्या में महिलाएं भी मतदान केंद्रों पर पहुंची। लगभग एक दर्जन से अधिक मतदान केंद्रों पर सुबह से ही ईवीएम ने नखरे दिखाने शुरू कर दिए।

आधे से लेकर दो घंटे तक मतदान प्रभावित हुआ। इसको लेकर मतदाताओं में आक्रोश दिखा। मतदाता पहचान पत्र में नाम व फोटो में गड़बड़ी की शिकायतें आम रहीं। प्रेक्षक बीके पांड्या, कमिश्नर महेंद्र कुमार, डीएम शंभु कुमार, एडीएम जयचंद्र पांडेय, डीआईजी डॉ.राकेश कुमार व एसपी डॉ.गौरव ग्रोवर पुलिस फोर्स के साथ मतदान केंद्रों का भ्रमण करते रहे।

जिलाधिकारी व पुलिस अधीक्षक निर्वाचन क्षेत्र के भ्रमण के दौरान सीमा क्षेत्र पर स्थापित बैरियर्स का भी जायजा लिया। जिला मुख्यालय कलेक्ट्रेट स्थित शिकायत प्रकोष्ठ में स्थापित कमांड सेंटर से पल-पल की जानकारी लेते रहे। सुजौली में मतदान शुरू होते ही बूथ संख्य 39 पर कंट्रोल यूनिट खराब हो गई। लगभग 45 मिनट तक मतदान प्रभावित रहा।

रमपुरवा मटेही के बूथ संख्या 54 पर ईवीएम खराब होने से तकरीबन दो घंटे तक मतदान रुका रहा। खराब तीनों ईवीएम को बदलवाने के बाद मतदान शुरू हो सका। बिछिया, फकीरपुरी, बर्दिया, भरथापुर में दोपहर तक सन्नाटा पसरा रहा। दोपहर बाद यहां मतदाताओं की कतार दिखी। आंबा विशुनापुर पोङ्क्षलग बूथ पर काफी अव्यवस्था दिखी। पुलिस कर्मियों को बैठने के लिए कुर्सी तक इंतजाम नहीं थे।

हर दो घंटे के मतदान प्रतिशत का विवरण

मतदान के पहले दो घंटे में सुबह सात से नौ बजे तक 11.62 फीसद, नौ से 11 बजे तक 21, 11 से दोपहर एक बजे तक 32, एक से तीन बजे तक 40, तीन से पांच बजे तक 49 प्रतिशत व निर्धारित समय शाम छह बजे तक 51 फीसद मतदान रिकार्ड किया गया।

169 मतदान केंद्रों पर पड़े वोट

बलहा विधानसभा उपचुनाव के लिए 169 मतदान केंद्र व 409 पोङ्क्षलग बूथ बनाए गए थे। सभी मतदान केंद्रों पर 1836 मतदान कार्मिक लगाए गए थे। बूथों की सुरक्षा के लिए बड़े पैमाने पर पैरा मिलिट्री फोर्स, पीएसी व पुलिस के जवानों के साथ होमगार्ड जवान तैनात थे। कुल 3,57,263 मतदाताओं में से 51 फीसद वोटरों ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया। 

1952 से 2019 तक इन राज्यों के विधानसभा चुनाव की हर जानकारी के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.