मेट्रोमैन श्रीधरन को केरल में सीएम कैंडिडेट बनाने के बयान को केंद्रीय मंत्री मुरलीधरन ने लिया वापस, कही यह बात

मेट्रोमैन श्रीधरन को केरल में सीएम कैंडिडेट बनाने के बयान को केंद्रीय मंत्री मुरलीधरन ने वापस ले लिया है...

केरल विधानसभा चुनाव के लिए मेट्रोमैन ई. श्रीधरन को भाजपा के मुख्यमंत्री पद का उम्मीदवार बनाए जाने का ट्वीट करने के कुछ ही देर बाद ही केंद्रीय मंत्री वी. मुरलीधरन (V. Muraleedharan) ने इसे वापस ले लिया। जानें उन्‍होंने क्‍या कहा...

Krishna Bihari SinghThu, 04 Mar 2021 11:47 PM (IST)

तिरुवल्‍ला/कोच्चि, एजेंसियां। केरल विधानसभा चुनाव के लिए मेट्रोमैन ई. श्रीधरन (Metroman E Sreedharan) को भाजपा के मुख्यमंत्री पद का उम्मीदवार बनाए जाने का ट्वीट करने के कुछ ही देर बाद केंद्रीय मंत्री वी. मुरलीधरन (V. Muraleedharan) ने अपना बयान वापस ले लिया। उन्‍होंने बृहस्पतिवार को साफ कर दिया कि भारतीय जनता पार्टी ने इस तरह की कोई घोषणा नहीं की है। केंद्रीय मंत्री मुरलीधरन ने कहा कि पहले मीडिया के जरिए मुझे पता चला कि पार्टी ने श्रीधरन को सीएम पद का प्रत्याशी घोषित किया है। इस बारे में मैंने भाजपा की केरल इकाई के अध्यक्ष के. सुरेंद्रन से इसका सत्यापन किया तो उन्होंने कहा कि ऐसी कोई घोषणा नहीं की गई है। 

बता दें कि पूर्व प्रदेश अध्यक्ष मुरलीधरन (V. Muraleedharan) ने इससे पहले ट्वीट कर कहा था कि 'केरल भाजपा ई श्रीधरन जी (E Sreedharan Ji) को मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार के रूप में पेश करके केरल का चुनाव लड़ेगी। हम केरल के लोगों को भ्रष्टाचार मुक्त और विकासोन्मुखी शासन देने के लिए माकपा और कांग्रेस को हराएंगे।' केरल में होने जा रहे विधानसभा चुनाव में श्रीधरन के नेतृत्व संबंधी मुरलीधरन का सोशल मीडिया पोस्ट आने से कुछ ही घंटे पहले प्रदेश भाजपा अध्यक्ष के. सुरेंद्रन (K Surendran) ने कहा था कि उन्होंने पार्टी नेतृत्व से श्रीधरन को राजग के मुख्यमंत्री पद का उम्मीदवार घोषित करने की गुजारिश की है। 

मुरलीधरन  (V. Muraleedharan) की ओर से ट्वीट पर सफाई आने के बाद कांग्रेस नेता शशि थरूर ने चुटकी ली। थरूर (Shashi Tharoor) ने भाजपा पर निशाना साधते हुए ट्वीट किया कि 'हास्यास्पद। केरल भाजपा इस बात को लेकर भ्रमित हो गई है कि उस भवन के शीर्ष तल पर कौन होगा जो कभी बनेगा ही नहीं। केरल में भाजपा का मुख्यमंत्री होगा ही नहीं।' यह सारी सियासी जुगाली उसी दिन हुई जिस दिन 88 वर्षीय टेक्नोक्रैट श्रीधरन जी (E Sreedharan) ने दिल्ली मेट्रो रेल निगम (Delhi Metro Rail Corporation, DMRC) के साथ अपने 24 साल के कॅरियर को खत्‍म करने का एलान किया। 

के. सुरेंद्रन (K Surendran) ने पहले कहा था कि यदि राजग को मेट्रोमैन के नेतृत्व में केरल में शासन करने का मौका मिलता है तो हमें पूरा यकीन है कि हम प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अगुवाई में राज्‍य में 10 गुना ताकत के साथ विकास के काम करेंगे। बुधवार को सुरेंद्रन ने 16 सदस्यीय राज्य चुनाव समिति की घोषणा की जिसमें श्रीधरन भी शामिल हैं। मालूम हो कि श्रीधरन (E Sreedharan) भाजपा के टिकट पर छह अप्रैल को होने वाले विधानसभा का चुनाव लड़ने के लिए तैयार हैं। श्रीधरन ने कहा था कि डीएमआरसी के प्रधान सलाहकार के पद से इस्तीफा देने के बाद वह नामांकन पत्र भरेंगे। 

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.