काला सोना पर बसा धनबाद गरीब क्यों है? जब दाता ही याचक से पूछे सवाल तो फिर काैन दे जवाब Dhanbad News

काला सोना पर बसा धनबाद गरीब क्यों है? जब दाता ही याचक से पूछे सवाल तो फिर काैन दे जवाब Dhanbad News
Publish Date:Fri, 13 Dec 2019 05:50 PM (IST) Author: Mritunjay

धनबाद, जेएनएन। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के सवाल के बाद धनबाद कोयलांचल को काठ मार गया है। दिल और दिमाग थाम कर सोच रहा है कि अब करे तो क्या करें ? ऐसा नहीं है कि मोदी से धनबाद नाउम्मीद है बल्कि कुछ ज्यादा ही उम्मीद है। इसके ठोस कारण भी है। मोदी ने पांच साल में धनबाद के लिए बहुत कुछ कर दिखाया है। मोदी से पहले केंद्र में कांग्रेस के नेतृत्व में दस साल तक चली यूपीए सरकार ने ISM धनबाद को IIT बनाने का सपना ही दिखाती रही। मोदी को माैका मिली तो एक झटके में ही ISM को IIT का दर्जा देकर IIT-ISM बना दिया। यूपीए सरकार दस साल तक सिंदरी खाद कारखना को कागजों पर ही खोलती रही। माैका मिला तो मोदी ने सिंदरी में 7 हजार करोड़ का खाद कारखाना लगवा दिया। लेकिन, जब दाता ( नरेंद्र मोदी) ही याचक से सवाल पूछे तो जवाब काैन देगा?

दरअसल, धनबाद के बरवाअड्डा में भाजपा की चुनावी सभा को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उपस्थित जनसमूह के सामने सवाल दागा था-काला सोना पर बसा धनबाद गरीब क्यों है? फिर पीएम मोदी ने कहा कि कांग्रेस की नीति है लटकाओ और लूटो। इसलिए धनबाद काला सोना पर बैठकर भी गरीब बना हुआ है। कांग्रेस ने नक्सलवाद को हवा दी। हमने जो संकल्प लिया वह पूरा किया। यहां जो कह रहे हैं उसे भी पूरा करेंगे। उन्होंने कहा कि यह चुनाव झारखंड का भविष्य तय करेगा। यह बच्चों का भविष्य बनाने वाला है। गलत बटन दबा तो समझो काम तमाम।

रायपुर टु धनबाद वाया गुमला-रांची आर्थिक कॉरीडोर

पीएम मोदी ने कहा कि रायपुर टु धनबाद वाया गुमला-रांची आर्थिक कॉरीडोर बनेगा। इसके लिए सड़कें चौड़ी की जा रही है। काम तेजी से चल रहा है। कॉरीडोर के लिए रेलवे का भी विकास किया जा रहा है। 40 हजार करोड़ रुपये रेलवे परियोजनाओं के विस्तार के लिए खर्च किए जा रहे हैं। यह सब डबल इंजन सरकार की बदौलत ही संभव हो रहा है।

उड़ान योजना के तहत होगा धनबाद के हवाई अड्डे का विकास

चुनावी सभा के लिए धनबाद आए मोदी मोदी ने कहा कि यह संयोग है कि यह सभा एक हवाई पïट्टी पर हो रही है। उड़ान योजना के तहत सरकार हवाई कनेक्टिविटी बढ़ाने के लिए काम कर रही है। देवघर में हवाई अड्डा बन रहा है। धनबाद सहित झारखंड के अन्य हवाई अड्डों को भी इस योजना के तहत लाया जाएगा। यह तभी संभव है जब यहां भाजपा की सरकार होगी।

नया खाद कारखाना से बनने से मिलेगा युवकों को रोजगार

प्रधानमंत्री ने कहा कि कांग्रेस ने भारत कोकिंग कोल का क्या हाल कर दिया? सिंदरी खाद कारखाना को कहां पहुंचा दिया? भाजपा सरकार ने सिंदरी में नया खाद कारखाना लगाने का मार्ग प्रशस्त किया। कारखाना बना तो उसमें हजारों युवकों को प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष रोजगार मिलेगा। इससे औद्योगिक क्रांति आएगी।

 

धूल-धुआं के प्रदूषण से मिलेगा निजात

मोदी ने कहा कि कांग्रेस के पास न सोच है न ही संकल्प। हमारे पास विजन भी है और संकल्प भी। हम हल्दिया से पाइप लाइन से यहां गैस लाने जा रहे हैं। इससे न सिर्फ यूरिया बनेगा जिससे किसानों को फायदा होगा बल्कि घर-घर में पाइप से गैस की आपूर्ति होगी। महिलाओं को इससे बहुत लाभ होगा। गैस सर्विस स्टेशन बनेंगे जिससे एलपीजी आधारित वाहन चलेंगे। इससे लोगों को धूल, धुआं के प्रदूषण से निजात मिलेगा।

हमने आइएसएम को आइआइटी बनाया

पीएम ने कहा कि हम जो कहते हैं वह करते हैं। वादा निभाने के लिए जान लड़ा देते हैं। हमने कहा कि आइएसएम को आइआइटी बनाएंगे तो बनाया। हमने कहा कि विश्वविद्यालय खोलेंगे तो बिनोद बिहारी महतो के नाम पर विश्वविद्यालय खोला। हमने कहा कि पासपोर्ट केंद्र किसने खोला, भाजपा ने। तीन मेडिकल कॉलेज से अब सात मेडिकल कॉलेज किसने बनाया, भाजपा ने। देवघर में एम्स भी हमने कहा और बनाया। कांग्रेस के समय में विकास के लिए लोग गिड़गिड़ाते रहते थे।

...और ढुलू को किनारे कर मुख्यमंत्री ने संभाल ली माइक

प्रधानमंत्री का हेलीकॉप्टर आसमान में दिखने लगा था। दूसरी ओर मैदान आधा खाली था। भाजपा नेताओं के माथे की लकीरें गहरी हो चुकी थी। अब जो कुछ लोग कतार में आ रहे थे वही आकर करीने से बैठ जाएं। उस वक्त ढुलू महतो सभा को संबोधित कर रहे थे। मुख्यमंत्री रघुवर दास उठे और ढुलू को किनारे कर माइक संभाल ली। साफ-साफ आदेश दिया। सुरक्षाकर्मी ज्यादा परेशान न करें। कार्यकर्ताओं को सीधे आने दें। उन्होंने रिपीट किया। सुरक्षा में जो लोग लगे हैं वे कार्यकर्ताओं की ज्यादा जांच न करें। उनको सीधे अंदर आने दें।

अर्जुन से बतियाते रहे पीएम

प्रधानमंत्री के मंच पर आने के बाद तकरीबन 10 मिनट तक सीएम रघुवर दास ने सभा को संबोधित किया। इस दौरान पीएम नरेंद्र मोदी अपने कैबिनेट के मंत्री अर्जुन मुंडा से बातचीत करते रहे। सीएम के बाद पीएम ने संबोधित किया और सभा खत्म हो गई।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.