Jharkhand Election 2019: तेजस्‍वी बोले...तो हम होते बिहार के मुख्‍यमंत्री और लालूजी जेल से बाहर

रांची, जेएनएन। Jharkhand Assembly Election 2019  हम लालू जी के संतान हैं। हम किसी लोभ-लालच या भय के आगे झुकनेवाले नहीं हैं। यदि हम झुकते तो आज हम बिहार के सीएम और लालूजी जेल से बाहर होते। उक्त बातें शुक्रवार को जयनगर के गेडेनगर मैदान में राजद की एक चुनावी सभा को संबोधित करते हुए बिहार के नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने कही। उन्होंने कहा कि आज भाजपा के आगे नहीं झुकने के कारण ही मुझपर, मेरे भाई पर, मेरी मां, सातों ब्याही बहन, उनके सास ससुर पर भाजपा वालों ने मुकदमा करवाया।

तेजस्‍वी ने रैली को संबोधित करते हुए कहा कि लालूजी जब जेल जा रहे थे, तब मुझसे कहा था कि परिस्थिति से नहीं घबराना। जब भी कभी ऐसा लगे तो मालिक रूपी जनता के बीच चले जाना। आज इसीलिए हम जयनगर की जनता की बीच मेंपहली बार वोट मांगने आए हैं। हम बाबा साहेब के संविधान के माननेवाले हैं।आज यदि हम झुक गए तो संविधान की रक्षा कौन करेगा? जनता की आवाज कौन उठाएगा? पिछड़ों, दलितों, शोषितों, वंचितों की आवाज कौन उठाएगा?

झारखंड की दशा की चर्चा करते हुए उन्होंने कहा कि आज झारखंड की बदहाली कीबात मुख्यमंत्री रघुवर दास भी स्वीकार करते हैं। लेकिन झारखंड बने 19 सालहुए हैं, जिसमें 16 सालों तक सरकार भाजपा की रही। इसके बाद प्रदेश की दुर्दशा के लिए रघुवर दास विपक्ष को जिम्मेवार ठहराते हैं। आज प्याज केदाम 120 रुपये किलो हो गए हैं। लेकिन अधिकतर मीडिया चैनल हिंदुस्तान-पाकिस्तान, हिंदू-मुस्लिम और इमरान खान पर बहस कर रही है। देश की वित्तमंत्री कहती हैं कि वो प्याज नहीं खाती। लेकिन उनके नहीं खाने से बाकी लोगों को तो काम नहीं चलेगा। यही यूपीए के शासन में जब कभी प्याज- 60-70 रुपये किलो होता था, तो भाजपा के लोग प्याज का माला पहनकर घूमते थे।

तेजस्‍वी ने कहा कि देश में आज दुष्कर्म जैसी घटनाएं झारखंड, यूपी, बिहार जैसे एनडीए शाषित प्रदेशों में सबसे ज्यादा हो रही है, क्योंकि सारे दुष्कर्मी कमल छाप साबुन से नहाकर भाजपा में शामिल हो गए हैं। बाबा राम रहीम, आशाराम जैसे और कितने साधु भी इसमें शामिल हैं। उन्होंने भाजपा-आरएसएस पर हमला करते हुए कहा कि आजादी की लड़ाई में इनका कोई योगदान नहीं रहा। लेकिन आज युवाओं के हाथ में तलवार पकड़ा रहे हैं। उन्होंने बरकट्ठा क्षेत्र में बेरोजगार व जनसमस्याओं की चर्चा करते हुए यहां के विकास व आपसी सद्भाव के लिए पार्टी के प्रत्याशी खालिद खलील को जीताने की अपील लोगों से की।

टिकट कट रहा था तो हमसे संपर्क कर रहे थे

अपने संबोधन के दौरान तेजस्वी यादव बरकट्ठा के निवर्तमान विधायक व भाजपा प्रत्याशी जानकी यादव पर भी जमकर हमला बोला। कहा कि इन्हें नेता लालू जी ने बनाया। दो बार टिकट देकर चुनाव लड़ाया। लेकिन मौका देखकर भाग गए। जो उनका नहीं हुआ, वह आम जनता का क्या होगा। अभी भाजपा से उनका टिकट कट रहा था तो फिर हमलोगों से संपर्क कर रहे थे। ऐसे लोग न जात के हैं और न ही जमात के। जनता ऐसे पलटूओं को धूल चटाएं।

1952 से 2020 तक इन राज्यों के विधानसभा चुनाव की हर जानकारी के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.