Jharkhand Election 2019: मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा रांची में, अशोक लवासा-सुशील चंद्रा के साथ परखेंगे तैयारियां

रांची, राज्य ब्यूरो। Jharkhand Assembly Election 2019 चुनाव आयाेग के मुख्य निर्वाचन आयुक्त सुनील अरोड़ा रांची पहुंच गए हैं। उनके साथ में निर्वाचन आयुक्त अशोक लवासा और एस चंद्रा भी हैं। निर्वाचन आयोग पहले राजनीतिक दलों के साथ बैठक करेगा। इसके बाद आयुक्तों, उपायुक्तों, पुलिस अधीक्षकों आदि के साथ होनेवाली बैठक में चुनाव तैयारियों की समीक्षा होगी।

भारत निर्वाचन आयोग बुधवार से दो दिनों तक विधानसभा चुनाव की अबतक की तैयारियों की गहन समीक्षा कर रहा है। मुख्य निर्वाचन आयुक्त सुनील अरोड़ा, निर्वाचन आयुक्त अशोक लवासा तथा सुशील चंद्रा के अलावा आयोग के अन्य पदाधिकारी बुधवार को सबसे पहले होटल रेडिसन ब्लू में राजनीतिक दलों के साथ बैठक कर रहे हैं। इसके बाद बीएनआर चाणक्या में सभी प्रमंडलीय आयुक्तों, आइजी, डीआइजी, उपायुक्तों व पुलिस अधीक्षकों के साथ बैठक होगी।

मुख्य निर्वाचन आयुक्त सुनील अरोड़ा के नेतृत्व में भारत निर्वाचन आयोग की टीम में निर्वाचन आयुक्त अशोक लवासा, निर्वाचन आयुक्त सुशील चंद्र, उप निर्वाचन आयुक्त सुदीप जैन, उप निर्वाचन आयुक्त चंद्र भूषण कुमार, डीजी आईआईडीएम धर्मेंद्र शर्मा, डीजी इलेक्शन एक्सपेंडिचर दिलीप शर्मा, डीजी कम्युनिकेशन धीरेंद्र ओझा, एडीजी पीआईबी शेफाली बी शरण, सचिव अरविंद आनंद के साथ मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी झारखंड विनय कुमार चौबे, एडीजी एम एल मीणा, अपर मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी के एन झा, अपर मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी शैलेश कुमार चौरसिया उपस्थित हैं।

आयोग अगले दिन गुरुवार को आयकर, वाणिज्य कर, रेलवे, एयरपोर्ट, उत्पाद विभाग आदि के नोडल पदाधिकारियों के साथ बैठक करेगा। इसके बाद मुख्य सचिव, गृह सचिव, डीजीपी के साथ अहम बैठक होगी।  वहीं, निर्वाचन आयोग की एक अन्य टीम ने मंगलवार को जमशेदपुर में कोल्हान प्रमंडल की चुनाव तैयारियों का जायजा लिया। इस टीम में उप निर्वाचन आयुक्त सुदीप जैन, अरविंद आनंद तथा राकेश कुमार आदि शामिल थे। 

दूसरे चरण की सीटों पर 279 नामांकन पाए गए सही

मंगलवार को दूसरे चरण की 20 सीटों पर दाखिल नामांकन पत्रों की जांच हुई। जांच के बाद 279 नामांकन पत्र सही पाए गए हैं। तमाड़ से एक भी उम्मीदवार का नामांकन रद नहीं हुआ। पूर्व नक्सली कुंदन पाहन का भी नामांकन पत्र सही पाया गया। बता दें कि पूर्व नक्सली ने झापा के टिकट पर अपना नामांकन दाखिल किया है, जबकि झापा ने उम्मीदवारी रद करने की सूचना निर्वाची पदाधिकारी को यह कहते हुए दी है कि पूर्व में गलती से उन्हें टिकट दे दिया गया था। इधर, चक्रधरपुर में झामुमो के प्रत्याशी सुखराम के नामांकन पत्र में गड़बड़ी पाए जाने तथा इसे लेकर विरोध होने के कारण जांच स्थगित रखी गई है। हालांकि मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी कार्यालय के अनुसार, यहां 12 नामांकन सही पाए गए हैं। 

कहां कितने नामांकन पत्र सही

बहरागोड़ा : 14, घाटशिला : 16, पोटका : 10, जुगसलाई : 10, जमशेदपुर पूर्वी : 24, जमशेदपुर पश्चिमी : 22, सरायकेला : 07, खरसावां : 19, चाईबासा : 14, मझगांव : 17, जगन्नाथपुर : 14, मनोहरपुर : 15, चक्रधरपुर : 12, तमाड़ : 17, मांडर : 09, तोरपा : 12, खूंटी : 14 

तीसरे चरण की सीटों पर 13 उम्मीदवारों ने किए नामांकन

इधर, तीसरे चरण की 17 सीटों पर चल रही नामांकन प्रक्रिया के तहत मंगलवार को कुल 13 उम्मीदवारों ने नामांकन किए। इन विधानसभा क्षेत्रों में अबतक 24 नामांकन पत्र दाखिल हो चुके हैं। मंगलवार को बरकट्ठा, हजारीबाग, रामगढ़, बेरमो, ईचागढ़, कांके में एक-एक, सिमरिया व रांची में दो-दो, गोमिया में तीन उम्मीदवारों ने नामांकन दाखिल किए।

1952 से 2019 तक इन राज्यों के विधानसभा चुनाव की हर जानकारी के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.