Jharkhand Election 2019: भाजपा ने बनाया मास्टर प्लान, विपक्ष को ऐसे चक्रव्यूह में घेरेगी पार्टी; मैदान में ये महारथी

रांची, राज्य ब्यूरो। झारखंड के चुनावी महासमर में भाजपा को दिग्गजों की दमदार एंट्री गुरुवार भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह की मनिका और लोहरदगा में होने वाली जनसभा से होगी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, भाजपा के कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा, केंद्रीय मंत्री राजनाथ सिंह और नितिन गडकरी समेत तमाम कद्दावर नेता धुंआधार प्रचार अभियान का आगाज करेंगे। इसके लिए व्यापक चक्रव्यूह की रचना पार्टी के रणनीतिकारों ने की है। इसमें अलग-अलग क्षेत्र के लिए अलग-अलग मुद्दे उछाले जाएंगे ताकि विपक्षी दलों की पुख्ता घेराबंदी की जा सके।

भाजपा आदिवासी बहुल इलाकों में झामुमो के कुनबे को निशाने पर लेगी। इसकी कवायद पहले से ही चल रही है। मुख्यमंत्री रघुवर दास पहले से ही इस मुद्दे पर हमलावर रहे हैैं। सीएनटी-एसपीटी एक्ट का उल्लंघन कर झामुमो प्रमुख शिबू सोरेन के परिवार द्वारा ली गई आदिवासी जमीन को भाजपा मुख्य मुद्दा बनाएगी। स्टार प्रचारक भी इससे जुड़े सवाल उठाकर विपक्षी दलों की घेराबंदी करेंगे। यह मुद्दा संताल-परगना और कोल्हान प्रमंडल की सीटों पर प्रभावी हो सकता है। ये दोनों प्रमंडल झारखंड मुक्ति मोर्चा के प्रभाव वाले हैैं।

यहां झामुमो और कांग्रेस को एक साथ घेरने की रणनीति है। इसके अलावा आदिवासियों के उत्थान के लिए चलाए जा रहे कल्याणकारी कार्यक्रम और धर्मांतरण के खिलाफ अमल में लाए जा रहे कड़े कानून प्रचार-प्रसार के मुख्य हथियार होंगे। मतदाताओं को आकर्षित करने के लिए विभिन्न माध्यमों का भी सहारा लिया जाएगा। इसके लिए स्थानीय भाषा में प्रचार-प्रसार की योजना भी शामिल है। भाजपा के प्रदेश नेतृत्व को इस बात का बखूबी अहसास है कि आदिवासी सुरक्षित सीटों पर टक्कर कांटे की होगी लिहाजा वैसे तमाम मुद्दे उठाए जाएंगे जो चुनाव में प्रभावी होंगे। मुख्यमंत्री रघुवर दास प्रमुख रैलियों में स्टार प्रचारकों के साथ शिरकत करेंगे।

स्टार प्रचारकों की होगी दमदार मौजूदगी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी - प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 25 नवंबर से चुनावी रैलियों का आगाज करेंगे। वे पहले दिन पलामू और गुमला में जनसभाओं को संबोधित करेंगे। दोनों सभाओं ने इन जिलों के तमाम भाजपा प्रत्याशियों उनके साथ मंच पर मौजूद रहेंगे। अमित शाह- राष्ट्रीय अध्यक्ष भाजपा- भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष सह केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह 21 नवंबर से जनसभाओं की शुरूआत करेंगे। इसका आगाज लोहरदगा और मनिका से होगा। जेपी नड्डा- कार्यकारी अध्यक्ष, भाजपा - भाजपा के कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा 22 फरवरी को रांची के दौरे पर आ सकते हैैं। वे लातेहार में जनसभा को संबोधित करेंगे और इसी दिन दोपहर बाद पलामू में विधानसभा कोर कमेटी की बैठक करेंगे। नितिन गडकरी, केंद्रीय मंत्री- केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी 22 नवंबर को 12 बजे विश्रामपुर में चुनावी जनसभा को संबोधित करेंगे। शाम को रांची में पार्टी पदाधिकारियों के साथ बैठक करेंगे। राजनाथ सिंह, केंद्रीय मंत्री- केंद्रीय रक्षामंत्री राजनाथ सिंह और उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की पलामू में जनसभाएं होगी। राजनाथ सिंह गढ़वा और हुसैनाबाद का रुख कर सकते हैं जबकि योगी आदित्यनाथ की डालटनगंज में सभा होगी। हालांकि इनके आने की तारीख तय नहीं है।

घोषणापत्र जारी करने की तैयारी

पहले और दूसरे चरण की नामांकन प्रक्रिया पूरी होने के बाद भाजपा जमीनी लड़ाई को धारदार बनाएगी। जनसभाओं के अलावा घोषणापत्र जारी करने की तैयारियों को भी अंतिम रूप दिया जा रहा है। सब कुछ ठीकठाक रहा तो 22 नवंबर को पार्टी घोषणापत्र जारी करेगी। इसके लिए पूरे राज्य से सुझाव एकत्रित किए गए हैैं। एक उच्चस्तरीय समिति ने इसी आधार पर घोषणापत्र को अंतिम रूप दिया है। 

1952 से 2019 तक इन राज्यों के विधानसभा चुनाव की हर जानकारी के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.